Home Featured मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने चुनाव को लेकर की ऑनलाईन बैठक।
5 days ago

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने चुनाव को लेकर की ऑनलाईन बैठक।

दरभंगा: शनिवार को बिहार विधान सभा आम निर्वाचन, 2020 एवं बिहार विधान परिषद् के द्विवार्षिक चुनाव की तैयारी को लेकर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी, बिहार एच.आर. श्रीनिवास ने बिहार के सभी आयुक्त, पुलिस महानिरीक्षक, जिला निर्वाचन पदाधिकारी, वरीय पुलिस अधीक्षक एवं पुलिस अधीक्षक के साथ बैठक की।
बैठक में उन्होंने मतदान कर्मियों एवं मतदाताओं द्वारा कोविड-19 से सुरक्षा के लिए प्रयुक्त मेटेरियल के निष्पादन एवं संग्रहण कराने की मुकम्मल व्यवस्था करने के निर्देश दिए। उन्होंने सभी मतदान केन्द्र तक के पहुँच पथ को भी दुरूस्त करवाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि प्रथम चरण के चुनाव के लिए 1,066 अभ्यर्थियों द्वारा नाम-निर्देशन पत्र दिये गए है, इसमें 372 के विरूद्ध अपराधिक मामले दर्ज है, इन्हें अपने व्यय पर प्रिंट एवं इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में विज्ञापन प्रसारण कराना है, जिसके लिए संबंधित निर्वाची पदाधिकारी उन्हें नोटित जारी करेंगे।
उन्होंने पी.डब्लू.डी. एवं 80 वर्ष से ऊपर के मतदाताओं के लिए पोस्टल बैलेट पेपर की व्यवस्था की भी समीक्षा की। उन्होंने कोविड-19 के लिए जारी गाईडलाइन के उल्लंघन के विरूद्ध कितने मामले दर्ज कराए गए हैं, का प्रतिवेदन उपलब्ध कराने के निर्देश सभी डीईओ को दिए। पी.डब्लू.डी.वोटर के लिए प्रत्येक मतदान केन्द्र पर रैलिंग सहित रैम्प तथा व्हीलचेयर की व्यवस्था करने के निर्देश दिए।
बिहार विधान परिषद् के द्विवार्षिक चुनाव 2020 के लिए प्रतिनियुक्त मतदान कर्मियों को भी कोविड किट्स उपलब्ध कराने के निर्देश दिए गए। उन्होंने कहा कि इस बार बिहार विधान परिषद् के चुनाव में भी केन्द्रीय सशस्त्र पुलिस बल को प्रतिनियुक्त किया जा रहा है। उन्होंने सभी निर्वाची पदाधिकारी को अपने पीठासीन पदाधिकारी को प्रशिक्षित करने के निर्देश दिए कि मतदाता द्वारा साक्ष्य के रूप में फर्जी डिग्री की कॉपी दिखलायी जा सकती हैं, इसलिए डिग्री का मूल प्रमाण-पत्र ही मान्य है तथा इसका अवलोकन वे अच्छी तरह से करेंगे। उन्होंने कहा कि व्यापक पैमाने पर फर्जी वोटरों के होने की शिकायत भी मिल रही है, इसलिए प्रत्येक मतदान केन्द्र पर वेवकास्टिंग की व्यवस्था होगी और कैमरा इस तरह से लगाए जाएंगे कि मतदाता का चेहरा अच्छी तरह से दिख सके। भारत निर्वाचन आयोग द्वारा भी इसकी निगरानी की जाएगी। फर्जी वोटर के विरुद्ध कठोर कार्रवाई के निर्देश दिए गए।
उन्होंने कहा कि मतगणना केन्द्र पर पर्याप्त सुरक्षा की व्यवस्था की जाए, क्योकि मतपेटीका के साथ 20 दिनों तक मतगणना केन्द्र लॉक रहेगा।
बिहार विधान परिषद के 05-दरभंगा स्नातक/शिक्षक निर्वाचन की तैयारी के संबंध में मयंक वरवड़े, आयुक्त, दरभंगा प्रमण्डल, दरभंगा-सह-निर्वाची पदाधिकारी ने बताया कि 22 अक्टूबर को मतदान कराने की सारी तैयारी की जा चुकी है। नियुक्ति पत्र सभी पोलिंग पार्टी को निर्गत किए जा चुके हैं। मतदाता सूची का विखण्डीकरण भी किया जा चुका हैं, मतदान केन्द्रों पर वेवकास्टिंग एवं वीडियोग्राफी की भी व्यवस्था की गयी है।
मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने कहा कि स्नातक एवं शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र के मतदाताओं को जागरूक किया जाना चाहिए कि वे संख्यात्मक 1, 2, 3, ……………… में वरीयता देते हुए अपना मत देंगे। शब्दों में प्रथम, द्वितीय लिखने पर मत अमान्य हो जाएगा। वे हिन्दी, इग्लिश या रोमन किसी भाषा में संख्यात्मक मत ही दें।
ऑनलाईन बैठक में पुलिस महानिरीक्षक, मिथिला प्रक्षेत्र, दरभंगा अजिताभ कुमार, जिला निर्वाचन पदाधिकारी डॉ. त्यागराजन एसएम, वरीय पुलिस अधीक्षक बाबू राम, नगर पुलिस अधीक्षक अशोक प्रसाद, सहायक समाहर्त्ता प्रियंका रानी उपस्थित थे।

Share

Check Also

एनएच पर पिकअप के कहर से एक की मौत, बच्ची सहित चार घायल।

दरभंगा: दरभंगा-मुजफ्फरपुर एनएच-57 पर विश्वविद्यालय थाना अन्तर्गत महिंद्रा शोरूम के निकट सड…