Home Featured पुण्यतिथि पर याद किये गए साहित्यकार नागार्जुन।
November 5, 2020

पुण्यतिथि पर याद किये गए साहित्यकार नागार्जुन।

दरभंगा: हिन्दी साहित्य के मूर्धन्य विद्वान नागार्जुन और मैथिली साहित्य के रचनाकार वैद्यनाथ मिश्र यात्री के पुण्यतिथि पर उन्हें भावभीनि श्रद्धांजलि दी गई। मिथिला विकास संघ और विद्यापति सेवा संस्थान के कार्यकर्ताओं ने कामेश्वरनगर स्थित ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय के केंन्द्रीय पुस्तकालय परिसर में अवस्थित नागार्जुन की प्रतिमा पर श्रद्धा पुष्प अर्पित किये। इस मौके पर मिथिला विकास संघ के तत्वावधान में अध्यक्ष विप्लव कुमार चौधरी की अध्यक्षता में आयोजित संकल्प सभा को संबोधित करते हुए सुजीत कुमार आचार्य ने कहा कि बाबा नागार्जुन अपनी रचनाओं में मानव जीवन के सच को निर्भीकता पूर्वक चित्रण करते थे। वह सत्ता और विपक्ष की परवाह नहीं करते थे। सनद रहे कि बाबा नागार्जुन हिन्दी और संस्कृत के अलावा मैथिली, पाली, प्राकृत, बांग्ला, सिंगली, तिब्बती आदि भाषाओं के जानकार थे। इस अवसर पर उदय शंकर मिश्र, वरूण कुमार झा, मृत्युंजय मृणाल, आनंद ठाकुर, राजीव यादव, विकास आनंद मोनु, चंद्रशेखर झा आदि मौजूद थे। वहीं विद्यापति सेवा संस्थान के महासचिव वैद्यनाथ चौधरी बैजू ने कहा कि यात्री-नागार्जुन ने आम जन की मुक्ति संघर्षों में न सिर्फ रचनात्मक हिस्सेदारी दी, बल्कि स्वयं भी जनसंघर्षों में आजीवन सक्रिय रहते हुए प्रगतिशील धारा के कवि एवं कथाकार के रूप में स्थापित हुए। इस मौके पर कमलाकान्त झा, जीवकान्त मिश्र, साहित्यकार मणिकान्त झा, प्रवीण कुमार झा, डॉ. अयोध्यानाथ झा, हरिशचन्द्र हरित, चन्द्रमोहन झा पड़वा, विनय कुमार झा संतोष, विजय कान्त झा, चन्द्रशेखर झा बुढ़ा भाई, आशीष चौधरी, रामाशीष पासवान, कुमर कुमार पासवान, पप्पु सिंह, टीपु सिंह आदि उपस्थित थे।

Share

Check Also

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ कार्यक्रम के तहत एसबीआई द्वारा स्कूल बैग का वितरण।

दरभंगा: जिले के सिंहवाड़ा प्रखंड के माधोपुर बस्तवाड़ा के प्राथमिक विद्यालय के प्रांगण में …