Home Featured 26 नवम्बर के हड़ताल को सफल बनाने के लिए सीटू से जुड़े सफ़ाई कर्मियों और माले ने की बैठक।
November 24, 2020

26 नवम्बर के हड़ताल को सफल बनाने के लिए सीटू से जुड़े सफ़ाई कर्मियों और माले ने की बैठक।

 

दरभंगा: केंद्र सरकार ने कोरोना महामारी के आड़ में मजदूरों के लिए बने अधिकारों को समाप्त कर रही है। महंगाई बेरो़गारी बढ़ रही हैं। सरकार सार्वजनिक संपति को बेच रही है। राज्य सरकार ने समान काम के बदले समान वेतन नहीं दे रही है। कोई बहाली नहीं हो रही है। कल कारखाने बंद है। बेरोज़गारी बढ़ रही हैं। उक्त बातें डीएमसीएच सफाई कर्मचारी मजदूर यूनियन के नेता दिनेश झा कहीं। वे मंगलवार को डीएमसीएच के सिटू से जुड़े सफाई कर्मियों एवं मजदूरों के द्वारा 26 नवंबर को होने वाली देशव्यापी बंद की तैयारियों की समीक्षा बैठक को संबोधित कर रहे थे।

बैठक का आयोजन डीएमसीएच परिसर में सफाई कर्मचारी मजदूर यूनियन के नेत्री सुनीता देवी की अध्यक्षता हुई। वहीं बैठक के दौरान सुनीता देवी ने बताया कि डीएमसीएच के सफाई कर्मी को चतुर्थ वर्गीय पदों पर बहाली करने, न्यूनतम मजदूरी अठारह हजार देने की मांग को लेकर देश कि सभी मजदूर तथा जनवादी संगठनों की ओर से 26 नवंबर को लेकर मजदूरों पर केंद्र सरकार द्वारा किए जा रहे हमले के खिलाफ ऐतिहासिक हड़ताल होगा। और बंद के पूर्व संध्या पर बंद की सफल बनाने हेतु मशाल जुलूस निकाला जाएगा।वहीं बैठक के दौरान रानी देवी, तबस्सुम, सुधा देवी, राधा देवी, आरती देवी आदि उपस्थित थी।

भाकपा माले बहादुरपुर प्रखंड कमेटी द्वारा कामरेड हरेराम पासवान स्मृति भवन में हरी पासवान की अध्यक्षता में 26 नवंबर अखिल भारतीय हड़ताल व 27 नवंबर को किसान विरोधी कानून वापस लेने सहित किसानों के विभिन्न मांगों को लेकर देशव्यापी विरोध के तहत बहादुरपुर प्रखंड मुख्यालय पर प्रदर्शन की तैयारी को लेकर कार्य योजना बनाई गई।

Share

Check Also

मिथिलांचल की छिपी प्रतिभा को खोजकर आगे बढ़ाने केलिए ओमेगा कर रहा टेलेंट सर्च परीक्षा का आयोजन। 

देखिए वीडियो भी 👆 दरभंगा: शहर के मिर्जापुर स्थित चर्चित कोचिंग संस्थान ओमेगा स्टडी…