Home Featured शुचिता के पर्याय एवं सामाजिक समरसता के प्रतीक थे कर्पूरी ठाकुर: गोपालजी।
January 24, 2021

शुचिता के पर्याय एवं सामाजिक समरसता के प्रतीक थे कर्पूरी ठाकुर: गोपालजी।

दरभंगा: रविवार को बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री स्व0 कर्पूरी ठाकुर के 125वीं जयंती पर दरभंगा जिला भाजपा ने दरभंगा के कर्पूरी चौक पर कार्यक्रम का आयोजन किया। पार्टी के लोगों ने कर्पूरी ठाकुर प्रतिमा पर माल्यार्पण कर उन्हें नमन किया।
इस अवसर पर सांसद गोपालजी ठाकुर ने कहा कि कर्पूरी ठाकुर ने अपना सम्पूर्ण जीवन गरीब, किसानों, शोषित, वंचितों, पिछड़ों के लिए समर्पित कर दिया। उन्होंने कहा कि पदों का प्रभाव कभी उनपर हावी नहीं हो सका, उनकी जीवन यात्रा के कई पहलू इसका प्रत्यक्ष प्रमाण है। सांसद ने कहा कि शुचिता के पर्याय व सामाजिक समरसता के प्रतीक थे कर्पूरी ठाकुर।
मौके पर मौजूद भाजपा युवा मोर्चा जिलाध्यक्ष बालेन्दु झा ने कहा कि कर्पूरी ठाकुर गरीबों के मसीहा थे, उनका जीवन सभी राजनीतिक व्यक्ति को हमेशा प्रेरणा देता रहेगा। उन्होंने कहा कि समाजिक न्याय के तहत सभी लोगों को मुख्य धारा में लाने तथा उपेक्षितों के उत्थान हेतु कर्पूरी जी ने अपना सम्पूर्ण जीवन लगा दिया।
कार्यक्रम के दौरान सुजीत मल्लीक, ज्योति कृष्ण झा लवली, अभय झा, अमलेश झा, ध्रुव मंडल, व्रज किशोर सहनी, राहुल झा, मनीष झा उपस्थित आदि थे।

Share

Check Also

जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष पहुंचे दरभंगा, एनडीए की जीत का कार्यकर्ताओं को दिया श्रेय।

दरभंगा: जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष सांसद आरसीपी सिंह के दरभंगा पहुंचने पर जदयू कार्यकर्ताओं…