Home Featured कृषि कानून के विरोध में वाम दलों ने किया जगह-जगह चक्का जाम।
3 weeks ago

कृषि कानून के विरोध में वाम दलों ने किया जगह-जगह चक्का जाम।

दरभंगा: केन्द्र सरकार के कृषि कानून के विरोध में अखिल भारतीय किसान संघर्ष समिति के आह्वान पर राष्ट्रीय चक्का जाम आंदोलन का असर जिला के कई क्षेत्रों में नजर आया। विभिन्न राजनीतिक दलों के कार्यकर्ता झंडा-बैनर लेकर सड़क जाम करते नजर आए। राष्ट्रीय उच्च मार्ग 57 पर मब्बी के निकट भाकपा माले के पप्पू पासवान, देवेन्द्र चौधरी, केवटी में धर्मेश यादव, सिंहवाड़ा में सुरेन्द्र पासवान, देवेन्द्र चौधरी, बहादुरपुर में नंदलाल ठाकुर, किशुन पासवान, देवेन्द्र कुमार, फेकला में दामोदर पासवान, जाले में ललन पासवान, बिरौल में मनोज यादव, बैद्यनाथ यादव, बहेड़ी में सत्यनारायण मुखिया आदि ने कार्यर्ताओं के साथ चक्का जाम किया।

वहीं माले के जिला सचिव बैद्यनाथ यादव ने कार्यक्रम के बाद कहा कि किसान लगभग 75 दिनों से ठंढ़ा, शीतलहर को झेलते हुए दिल्ली की सड़कों पर इस काला कानून के खिलाफ जमें हुए हैं, लेकिन सरकार आंदोलन को बदनाम करने में लगी है।

वहीं दरभंगा-समस्तीपुर, मुख्य सड़क को एकमी बाईपास चौक के पास किसान सभा के जिलाध्यक्ष राजीव चौधरी के नेतृत्व में जाम किया गया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि अबतक के आंदोलन में 100 से ज्यादा किसानों की शहादत हो चुकी है। यह आंदोलन देश और दुनियां का ध्यान अपनी ओर खिंचा है। आज बच्चा से बूढ़ा हर किसी की जुवान पर दिल्ली में चल रहा किसान आंदोलन है। इसके अलावा किसान नेता अली अहमद तमन्ने के नेतृत्व में अतरवेल-जाले सड़क को भरवाड़ा चौक पर रामचंदर साह के नेतृत्व में केवटी के दरिमा चौक पर दरभंगा-कुशेश्वरस्थान सड़क को कबीरचक के गंज चौक पर नारायणजी झा के नेतृत्व में जाम किया गया।

वहीं मणिकांत के नेतृत्व में दरभंगा-बहेड़ी सड़क को आनंदपुर में जाम किया गया। जाम के इस कार्यक्रम में वरूण कुमार झा, विश्वनाथ मिश्र, मिथिलेश महतो, आशुतोष मिश्र, गौतमकांत चौधरी, लाल बच्चा दास, मदन पासवान, धर्मेन्द्र साह, सुरेन्द्र कुमार सिंह, रामसुंदर देवी, पंकज कुमार चौधरी, हर्षवर्धन सिंह, लाल कुमार आदि शामिल थे।

Share

Check Also

मेयर दम्पति ने लगवाया कोरोना का टीका, अपनी बारी आने पर टीका लगवाने की सभी से की अपील।

दरभंगा: दरभंगा नगर निगम की महापौर बैजन्ती खेड़िया एवं उनके पति पूर्व महापौर ओमप्रकाश खेड़िया…