Home Featured सीतामढ़ी की युवती के साथ हुए दुष्कर्म मामले में राज्य नि:शक्तता आयुक्त ने घटना स्थल का निरीक्षण।
March 16, 2021

सीतामढ़ी की युवती के साथ हुए दुष्कर्म मामले में राज्य नि:शक्तता आयुक्त ने घटना स्थल का निरीक्षण।

दरभंगा: समाज कल्याण मंत्री मदन सहनी के निर्देश पर कमतौल में सीतामढ़ी की युवती के साथ हुए रेप व लहेरियासराय महिला थाना कांड संख्या-27/21 मामले में राज्य आयुक्त नि:शक्तता, पटना के डॉ. शिवाजी कुमार ने घटना स्थल का निरीक्षण किया। स्थानीय कई लोगों से भी घटना के बाबत पूछताछ की। इस संबंध में पूछे जाने पर उन्होंने बताया कि वे समाज कल्याण मंत्री के निर्देश पर आये थे। ऐसा लगता है कि जिस बच्ची के साथ घटना घटी है, वह मानसिक रूप से मैच्योर व स्वस्थ नहीं है।

मेडिकल से भी नाबालिग बतायी जा रही है। आज के दौड़ में भोजन के लिये किसी को भीख मांगना पड़े और उसके साथ इस तरह की घटना घटे। यह बेहद शर्मनाक है। उनके आने का मकसद उन्हें मुआवजा और पुनर्वास मिले। समाज में इस तरह की घटना न घटे, उसमें पब्लिक का भी सपोर्ट मिलना चाहिये। उन्होंने बताया कि वे पीड़िता द्वारा बताये गये घटना स्थल का निरीक्षण करने आये थे।

उनके साथ दरभंगा सदर एसडीओ राकेश कुमार, ट्रैफिक डीएसपी बिरजू पासवान, जाले के बीडीओ राजेश कुमार, लहेरियासराय महिला थानाध्यक्ष नुसरत जहां मौजूद थे। बताते चलें कि कमतौल थाना क्षेत्र के बीसो बीघा गाछी में सीतामढ़ी जिला के सुप्पी थाना क्षेत्र के एक गांव की एक 20 वर्षीया युवती के साथ बीते 11 मार्च को रेप की घटना घटी थी। पीड़िता के बयान पर इस मामले में लहेरियासराय महिला थाना में पीड़िता के बयान पर प्राथमिकी दर्ज हुयी थी।

जिसमेें उसने जिक्र किया था कि वह भीख मांगने का काम करती है व शादीशुदा है। बीते 11 मार्च को वह टेम्पो से कमतौल भीख मांगने आयी थी। भीख मांगकर वह पैदल ही लौट रही थी। इसी बीच दिन के करीब साढ़े 11 बजे कमतौल बीसो बीघा गाछी के निकट पहुंचने पर वह देखी कि तीन लड़का मोटरसाइकिल से आ रहा है। तीनों उसके निकट पहुंचकर मोटरसाइकिल रोककर उतर गया।

उसके पास आकर बोला कि पैसा देंगे जंगल के तरफ चलो। उसके इनकार करने पर तीनों लड़के जबरन उसे पकड़कर जंगल के तरफ ले गये। वहां दो लड़कों ने उसे पकड़कर रखा और तीसरे लड़के ने उसके साथ बलात्कार किया। वह किसी तरह हल्ला करते हुये उन दरिंदो के चंगुल से खुद को छुड़ाकर कमतौल-बसैठा एसएच-75 पर भागकर आयी और शोर मचाने लगी।

उसकी आवाज को सुनकर वहां काफी लोग एवं स्थानीय दुकानदार जमा हो गये। सबने तीनों युवकों को भागते हुये देखा। सूचना मिलते ही कमतौल थानाध्यक्ष सरवर आलम महिला पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंच गये। उपस्थित लोगों एवं दुकानदारों ने पुलिस को तीनों युवकों का नाम सभी कमतौल निवासी गोपाल ठाकुर का पुत्र राहुल कुमार ठाकुर, सुशील यादव का पुत्र अजीत कुमार और रामसोगारथ ठाकुर का पुत्र गौतम कुमार बताया। मालूम हो कि इस मामले में पुलिस के हाथ अभी तक खाली हैं।

Share

Check Also

मृतक के परिजनों को विधायक ने सौंपा चार चार लाख का चेक।

दरभंगा: बेनीपुर के विधायक डॉ विनय कुमार चौधरी ने गुरुवार को बेनीपुर प्रखंड के पोहद्दी गांव…