Home Featured श्यामा सर्जिकल संस्थान के विरूद्ध होगी कार्रवाई।
April 19, 2021

श्यामा सर्जिकल संस्थान के विरूद्ध होगी कार्रवाई।

दरभंगा: जिलाधिकारी डॉ0 त्यागराजन एसएम की अध्यक्षता में कोरोना संक्रमित के निजी अस्पतालों में ईलाज की सुविधा प्रदान करने हेतु डी.एम.सी.एच. से सम्बद्ध 16 प्रमुख निजी अस्पतालों के निगरानी एवं अनुश्रवण के लिए अपर समाहर्त्ता विभूति रंजन चौधरी की अध्यक्षता में एक निगरानी कमिटी का गठन किया गया है। इस कमिटी में जिला प्रबंधक, राज्य खाद्य निगम, दरभंगा अभिनय भास्कर सहित चार वरीय उप समाहर्त्ताओं को शामिल किया गया है, जो प्रतिदिन इन अस्पतालों में ईलाजरत कोरोना संक्रमित मरीजों को दी जा रही स्वास्थ्य सुविधा तथा उपलब्ध बेडों एवं रिक्त बेडों का अनुश्रवण करेगी।
इसी कड़ी में सम्बद्ध अस्पतालों में से एक अस्पताल श्यामा सर्जिकल संस्थान, आई.टी. चौक, जी.एम. रोड, दरभंगा के निरीक्षण के दौरान जिले के वरीय पदाधिकारी के द्वारा यह पाया गया कि वहाँ कोरोना संक्रमित के ईलाज के लिए अभी तक कोरोना वार्ड चालू नहीं किया गया है। इसे गंभीरता से लेते हुए उसके विरुद्ध आपदा प्रबंधन अधिनियम की धारा 51 से 60 एवं आई.पी.सी. की धारा 188 के तहत कानूनी कार्रवाई करने हेतु स्पष्टीकरण की माँग की जा रही है।
जिलाधिकारी ने कहा कि यदि आपदा के समय सम्बद्ध किसी भी अस्पताल के द्वारा कोरोना संक्रमितों की भर्त्ती करने में आनाकानी की जाएगी उनके इलाज में कोताही बरती जाएगी तो उसके विरूद्ध कार्रवाई की जाएगी।
उल्लेखनीय है कि 17 अप्रैल 2021 को डेडिकेटेड कोविड अस्पताल, डीएमसीएच से संबद्ध सभी 16 प्रमुख निजी अस्पताल के संचालकों के साथ बैठक कर उन्हें अपने अस्पताल में उपलब्ध सामान्य, आईसीयू  एवं वेंटीलेटर युक्त वार्ड में उपलब्ध कुल बेड का 50 प्रतिशत् बेड कोरोना संक्रमितों के ईलाज के लिए सुरक्षित रखते हुए उसे अलग कर प्रॉटोकॉल के अनुसार कोरोना वार्ड में तब्दील करने का आदेश जारी किया गया था। उन्हें प्रमुखता के आधार पर कोरोना संक्रमितों को भर्ती कर इलाज करने का निर्देश जारी किया गया है तथा इसके लिए अलग अलग वार्ड के लिए अलग-अलग दर भी निर्धारित किया गया है।

Share

Check Also

छात्र संसद को लेकर आयोजित हुई विद्यार्थी परिषद की बैठक।

दरभंगा: अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद द्वारा नारी सशक्तीकरण एवं महिला प्रौद्योगिकी संस्थान …