Home Featured कुलपति के कार्यकाल का दो वर्ष पूरा होने पर विवि कर्मियों ने किया सम्मानित।
6 days ago

कुलपति के कार्यकाल का दो वर्ष पूरा होने पर विवि कर्मियों ने किया सम्मानित।

दरभंगा: ज्ञान से बड़ा कुछ भी नहीं होता है। हमलोग ज्ञान के क्षेत्र में सर्वोच्च स्थान पर आते हैं। यदि पूरे ध्यान से काम करेंगे तो फिर काम बेहतर ही होंगे। काम जानते हुए भी नहीं करने की प्रवृत्ति ठीक नहीं है।

ये बातें ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. सुरेन्द्र प्रताप सिंह ने कहीं। वे कुलपति के रूप में दो वर्ष पूर्ण होने पर पदाधिकारियों व कर्मियों द्वारा विवि सभागार में आयोजित सम्मान समारोह में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि हर जगह नकारात्मक तत्व होते हैं, पर यहां मुझे अच्छे लोग ही मिले हैं। कुलपति ने कहा कि हमारे सभी निर्णय व्यावहारिक व नीतिगत तरीके से सकारात्मकता के साथ लिए गये हैं, जिनमें छात्रहित सर्वोपरि रहा है। जरूरत के अनुसार कार्यसंस्कृति में हर संभव बदलाव भी किए गए हैं, जिनमें सबका सहयोग मिला है और उनका सुखद परिणाम भी दिख रहा है। प्रतिकुलपति प्रो. डॉली सिन्हा ने कहा कि आज के दौर में किसी भी विश्वविद्यालय में व्यावहारिक बने बिना कार्य करना कठिन है। प्रो. सिंह को कुलाधिपति द्वारा श्रेष्ठ कुलपति का सम्मान दिया जाना हम सबको भी गौरवान्वित एवं सम्मानित करता है। वित्त पदाधिकारी सह वित्तीय परामर्शी कैलाश राम ने यहां दूसरों की समस्याओं का निदान करते हुए मुझे भी प्रसन्नता का अनुभव हो रहा है।

Advertisement

कुलसचिव प्रो. मुश्ताक अहमद ने कहा कि मैंने कुलपति से वक्त का सदुपयोग करना सीखा है। ये कार्यालय से जाते समय पूछते हैं कि कोई संचिका बची तो नहीं है। विज्ञान संकाय के डीन प्रो. शिशिर कुमार वर्मा, डॉ अब्दुल कलाम महिला प्रौद्योगिकी संस्थान के निदेशक प्रो. वीएस झा, डॉ. अवनि रंजन सिंह आदि ने भी विचार रखे।

समारोह में डॉ. आनंद मोहन मिश्र, डॉ. जिया हैदर, डॉ. महेश प्रसाद सिन्हा, डॉ. आरएन चौरसिया, डॉ. दिव्या रानी हंसदा, डॉ. विनोद बैठा, डॉ. आनंद प्रकाश गुप्ता, प्रो. सुरेन्द्र कुमार, प्रो. अरुण कुमार सिंह, प्रो. दमन कुमार झा, डॉ. सुरेश पासवान, डॉ. कामेश्वर पासवान, डॉ. नवीन कुमार सिंह, डॉ. गीतेन्द्र ठाकुर, प्रो. आलमगीर, डॉ. विजय कुमार यादव व डॉ. सत्यम कुमार सहित 50 से अधिक व्यक्ति उपस्थित थे। कुलपति ने केक काटकर समारोह की शुरुआत की। वहीं उपस्थित सदस्यों का मुंह मीठा भी कराया गया।

Advertisement

कार्यक्रम का संचालन करते हुए दूरस्थ शिक्षा के निदेशक प्रो. अशोक कुमार मेहता ने कहा कि कुलपति के नेतृत्व एवं दिशा-निर्देश में विश्वविद्यालय को सब कार्यों में सफलता मिल रही है।

Share

Check Also

विभिन्न मामलों में फरार चल रहे 6 आरोपियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार।

दरभंगा: बहेड़ा थाना की पुलिस ने बीती रात विभिन्न कांड में फरार चल रहे आरोपियों को अलग-अलग …