Home Featured सामने आयी बाढ़ की एक और मार्मिक तस्वीर, रेलवे ट्रैक के किनारे हो रहा है दाह संस्कार।
August 4, 2019

सामने आयी बाढ़ की एक और मार्मिक तस्वीर, रेलवे ट्रैक के किनारे हो रहा है दाह संस्कार।

देखिये वीडियो भी।

देखिये वीडियो भी👆
दरभंगा: दरभंगा में बाढ़ पीड़ितों की सबसे दर्दनाक तस्वीर देखने को मिली, जब हायाघाट प्रखंड के अकराहा गांव के लोग एक शव को रेलवे ट्रैक के किनारे दाह संस्कार कर रहे थे।
नवनिर्मित रेल ट्रैक पर आशियाना बनाकर रह रहे लोगों के खेत खलिहानन, गांव-घर सहित शमशान में भी अपना कब्जा जमाए बैठा है। ऐसे में शमशान में एक इंच भी जमीन सूखा नहीं है जहां शव का अंतिम संस्कार किया जा सके। वहीं दूसरी तरफ इस जगह पर ही लोग अपना आशियाना बना कर रहे हैं।
दरअसल चारों तरफ बाढ़ का पानी होने के कारण पूरा जमीन जलमग्न है। ऐसे में रेलवे ट्रैक के किनारे अपना आशियाना बना कर रहे हैं बाढ़ पीड़ितों के बीच 80 वर्षीय सरस्वती देवी की मौत हो गई, जिसके बाद लोगों के सामने शव के दाह संस्कार का कोई उपाय नहीं सूझा तो उन्होंने रेलवे ट्रैक के किनारे ही अंतिम संस्कार कर डाला। मानो यह रेलवे ट्रैक शमशान में तब्दील हो गया हो। बाढ़ के पानी के कारण लोग अपना घर छोड़कर ऊंचे स्थानो पर डेरा डाले हुए हैं। बाढ़ पीड़ितों के लिए फिलहाल यही उनका घर आंगन है। ऐसे में एक तरफ बाढ़ पीड़ित का आशियाना है, दूसरी तरफ लोगों का लाश जलाने को मजबूर हैं।
वहीं दूसरी तरफ इन बाढ़ पीड़ित की मजबूरी ऐसी है कि शव को जलाने के लिए सूखी लकड़ी भी नसीब नहीं हो रही है। ऐसे में लोग गाय के गोबर से बने गोईठा से शव का अंतिम दाह संस्कार करने को मजबूर हैं। मृतक सरस्वती देवी के परिजन का कहना है कि शमशान में 15 से 20 फीट पानी रहने के कारण हम लोग इस रेलवे ट्रैक के किनारे अंतिम संस्कार कर रहे हैं।

Share

1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

दशम दीक्षांत समारोह में 26 टॉपरों को स्वर्ण पदक से किया गया सम्मानित।

दरभंगा : ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय में आयोजित दशम दीक्षांत समारोह के अवसर पर 26 टॉप…