Home Featured प्रेम मोहन बनाए गए ओलंपियाड परीक्षा प्रभारी।
September 2, 2019

प्रेम मोहन बनाए गए ओलंपियाड परीक्षा प्रभारी।

दरभंगा:भारत के स्कूली छात्रों में विज्ञान शिक्षण की प्रतिभा को तराशने एवं उनमे वैश्विक स्तर पर प्रतिस्पर्धा उत्पन्न करने हेतु अंतरराष्ट्रीय ओलंपियाड परीक्षा में भारतीय छात्रों की भागीदारी के लिए भारत सरकार द्वारा संपोषित चयन परीक्षाओं का आयोजन किया जाता है। अंतर्राष्ट्रीय विज्ञान ओलंपियाड में भाग लेने के लिए भारतीय छात्रों के चयन हेतु आयोजित होने वाली प्रथम चरण की परीक्षा जिसे राष्ट्र स्तरीय परीक्षा(NSE) कहा जाता है. दिनांक 24 नवंबर 2019(रवि़वार) को संपूर्ण भारत में आयोजित की जाएगी ।कक्षा ग्यारहवीं एवं बारहवीं में विज्ञान संकाय मे अध्ययनरत छात्र इसमें भाग ले सकते हैं ।इस परीक्षा में भौतिकी ,रसायन विज्ञान, जीव विज्ञान एवं खगोल विज्ञान विषयों की अलग-अलग परीक्षाएं होंगी। कोई भी छात्र एक ही या अनेक विषयों में भी भाग ले सकता है। इन परीक्षाओं में प्रश्न पत्र सीबीएसई क्लास 11एवं12th के पाठ्यक्रम से पूछे जाएंगे। क्लास नवमी एवं दसवीं में पढ़ रहे छात्रों के लिए जूनियर साइंस ओलंपियाड की परीक्षा 17 नवंबर रविवार को आयोजित होगी ।सभी परीक्षाओं के लिए प्रति छात्र प्रति विषय परीक्षा शुल्क 150 रू रखा गया है ।भारत में इस ओलंपियाड परीक्षा का आयोजन भारत सरकार की संस्था होमी भाभा विज्ञान शिक्षण केंद्र (HBCSE) मुंबई जो टाटा मूलभूत अनुसंधान संस्थान(TIFR) की इकाई है, के द्वारा की जाती है ।इस परीक्षा के आधार पर बिहार राज्य से लगभग 30- 35 छात्रों का चयन होगा । ये छात्र द्वितीय चरण में भारतीय राष्ट्रीय ओलंपियाड (IN O) में भाग लेंगे ।द्वितीय चरण की परीक्षा के आधार पर पुनः 30-35 छात्रों का चयन होगा।ये छात्र होमी भाभा सेंटर फॉर साइंस एजुकेशन में ओरियंटेशन कम सिलेक्शन कैंप में(OCTS)भाग लेंगे ,जहां उन्हें वैज्ञानिकों के द्वारा एक महीने का सैद्धांतिक एवं प्रायोगिक प्रशिक्षण दिया जाएगा ।प्रशिक्षण के उपरांत चयनित छात्र अंतरराष्ट्रिय ओलंपियाड में भाग लेने विदेश जाएंगे। मुंबई में होने वाले ट्रेनिंग एवं विदेश जाने का सारा खर्चा भारत सरकार वहन करेगी। स्थानीय एमएलएसएम कॉलेज दरभंगा को अंतरराष्ट्रीय ओलंपियाड की परीक्षा में भाग लेने वाले छात्रों के चयन हेतु प्रथम चरण की होने वाली राष्ट्र स्तरीय परीक्षा NSEP,NSEC,NSEB,NSEA,एवं NSEJS का परीक्षा केंद्र बनाया गया है। इसी महाविद्यालय के रसायन विज्ञान विभाग के विभागाध्यक्ष प्रोफेसर प्रेम मोहन मिश्र परीक्षा के प्रभारी बनाए गए हैं। किसी भी महाविद्यालय एवं विद्यालय के छात्र अपना परीक्षा आवेदन पत्र यहां जमा कर सकते हैं।

Share

1 Comment

Leave a Reply

Check Also

16 जुलाई से 12वीं के छात्रों केलिए ओमेगा शुरू कर रहा है नया बैच।

दरभंगा: दरभंगा में IIT में सबसे ज़्यादा रिज़ल्ट्स देकर ख्याति प्राप्त कर चुके शहर के मिर्ज…