Home Featured कुंवर सिंह महाविद्यालय में धूमधाम से मनाया गया शिक्षक दिवस समारोह।
September 5, 2019

कुंवर सिंह महाविद्यालय में धूमधाम से मनाया गया शिक्षक दिवस समारोह।

दरभंगा:गुरुवार को डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जन्म दिवस पर शिक्षक दिवस कुंवर सिंह महाविद्यालय परिवार की ओर से धूमधाम से मनाया गया। शिक्षक दिवस के अवसर पर गांधी के शिक्षा दर्शन एवं समकालीन चुनौतियों विषय पर सेमिनार का आयोजन की गई। कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रधानाचार्य डॉ मोहम्मद रहमतुल्लाह की ।कार्यक्रम का उद्घाटन राष्ट्रीय उच्चतर शिक्षा अभियान के पूर्व उपाध्यक्ष प्रोफेसर डॉ कामेश्वर झा ने की। इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि दरभंगा जिला शिक्षा पदाधिकारी महेश प्रसाद सिंह थे। कार्यक्रम का उद्घाटन भाषण करते हुए रूसा के उपाध्यक्ष डॉ कामेश्वर झा ने कहा राष्ट्रपिता महात्मा गांधी का व्यक्तित्व और कृतित्व आदर्शवादी रहा है। उनका आचरण प्रयोजनवादी- विचारधारा से ओतप्रोत था ।संसार के अधिकांश लोग उन्हें महान राजनीतिक एवं समाज सुधारक के रूप में जानते हैं ।पर उनका मानना था कि सामाजिक उन्नति हेतु शिक्षा का एक महत्वपूर्ण योगदान होता है। डॉक्टर झा ने कहा गांधी के शिक्षा के आधारभूत सिद्धांतों में 7 वर्ष से 14 वर्ष की आयु के बालकों को निःशुल्क तथा अनिवार्य शिक्षा होना चाहिए, शिक्षा का माध्यम मातृभाषा में हो, साक्षरता शिक्षा नहीं कहा जा सकता, शिक्षा बालक के मानवीय गुणों का विकास करता है। शिक्षा ऐसी हो जिसमें बालक के शरीर, ह्रदय, मन और आत्मा का सामंजस्य पूर्ण हो ।सभी विषयों की शिक्षा स्थानीय उत्पादन उद्योगों के माध्यम से दी जाए। शिक्षा ऐसी हो जो नव युवकों को बेरोजगारी से मुक्त कर सकें। गांधी के जी के अनुसार बालकों का सर्वांगीण विकास हेतु शिक्षा उसके शारीरिक मानसिक बौद्धिक एवं आध्यात्मिक गुणोंका विकास करना है । कार्यक्रम के मुख्य अतिथि जिला शिक्षा पदाधिकारी महेश प्रसाद सिंह ने कहा गांधी जी का शिक्षा के क्षेत्र में योगदान रहा है ।उनका मूल मंत्र था शोषण विहीन समाज के स्थापना करना, उसके लिए सभी को शिक्षित होना चाहिए ,क्योंकि शिक्षा के अभाव में एक स्वस्थ समाज का निर्माण असंभव है। अतः गांधी जी ने जो शिक्षा के उद्देश्यों सिद्धांतों की व्याख्या की तथा प्रारंभिक शिक्षा योजना उसके शिक्षा दर्शन का मूल रूप है उनका शिक्षा दर्शन एक शिक्षा शास्त्री के रूप में भी समाज के सामने प्रस्तुत करता है उनके शिक्षा के प्रति जो योगदान था वह अद्वितीय था ।उनका आचरण प्रयोजनवादी विचारधारा से ओतप्रोत था। गांधीजी बेसिक शिक्षा और बुनियादी शिक्षा के द्वारा सुंदर समाज और सुंदर देश की कल्पना करते थे। प्रधानाचार्य मोहम्मद डॉक्टर रहमतुल्लाह ने कहा गांधीजी एक महान राजनीतिक स्वतंत्रता सेनानी, समाज सेवक चिंतक एवं उच्च कोटि के शिक्षा शास्त्री थे ।उनका दृढ़ विश्वास था कि शिक्षा ही एक ऐसा माध्यम है जिससे भारतीय समाज उन्नति कर सकता है गांधीजी बेसिक शिक्षा और बुनियादी शिक्षा ही द्वारा ही स्वस्थ समाज बना सकते हैं। राष्ट्रीय सेवा योजना के कार्यक्रम पदाधिकारी डॉ अशोक कुमार सिंह ने गांधी का शिक्षा दर्शन समाज के लिए एक वरदान है। गांधीजी का बेसिक और बुनियादी शिक्षा मनुष्य के शरीर मस्तिष्क और आत्मा में जाए जाने वाली सर्वोत्तम गुणों का चहुमुखी विकास का मंत्र है। गांधी जी का जीवन दर्शन का मंत्र सत्य, अहिंसा, निर्भयता और सत्याग्रह है। गांधी जी का जीवन शिक्षा दर्शन समकालीन शिक्षा से चुनौतियों भरा है। आधुनिक शिक्षा के कारण विकास तो हो रहा है ,लेकिन सामाजिक सदभाव परिवारिक समभाव घटता जा रहा है। प्रधानाचार्य डॉक्टर मोहम्मद रहमतुल्लाह द्वारा शिक्षक दिवस के अवसर पर सभी शिक्षकों और कर्मचारियों को कॉलेज के प्रतीक चिन्ह एवं प्रमाण पत्र द्वारा सम्मानित किया गया। एन एस एस के स्वयं सेवकों विभिन्न खेलों के प्रतिभागियों को भी सम्मानित किया गया। आज के इस आकर्षक कार्यक्रम के आकर्षण का विषय था हर एक शिक्षक और हर एक शिक्षकेतर कर्मचारी एक दूसरे को गुलाब का फूल देकर सम्मानित कियाजाना। इस अवसर पर महाविद्यालय के शिक्षक संघ के अध्यक्ष डॉ मंजू सिंह, महासचिव डॉक्टर राम अवतार प्रसाद, डॉक्टर पी सी साह ,डॉ अनिरुद्ध प्रसाद, डॉक्टर मनसा सुल्तानिया, प्रकाश नारायण सिंह, डॉक्टर खालिद सज्जाद, डॉ शांभवी कुमारी, डॉ रंजना कुमारी, डॉक्टर अभिषेक राय ,डॉ अरुण कुमार सिंह, डॉ राजेश कुमार चौधरी ,डॉ सुदी लाल यादव, डॉक्टर सुनील कुमार, डॉ रश्मि सिखा ,डॉक्टर नवीन कुमार ,डॉक्टर विनीत श्रीवास्तव ,डॉक्टर शैलेंद्र कुमार ठाकुर ,डॉक्टर विजय कुमार, कर्मचारी संघ के नेता हर्षवर्धन सिंह, विनोद कुमार सिंह, विश्वनाथ पासवान, एनएसएस ग्रुप लीडर शुभम् कुमार झा उपस्थित थे।

Share

1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

जिला मलेरिया पदाधिकारी ने किया हायाघाट स्वास्थ केंद्र का निरीक्षण।

हायाघाट : जिला मलेरिया पदाधिकारी डॉ जय प्रकाश महतो ने शनिवार को प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र…