Home Featured टेक्नोलॉजीकल स्मार्ट क्लास से विद्यार्थियों का भविष्य होगा स्मार्ट : विनय चौधरी।
September 18, 2019

टेक्नोलॉजीकल स्मार्ट क्लास से विद्यार्थियों का भविष्य होगा स्मार्ट : विनय चौधरी।

दरभंगा: शिक्षा मानव जीवन का मजबूत स्तम्भ है।इसलिए आज की शिक्षा अध्यापन कार्य को रोचक,दिलचस्प व आसान बनाने के उद्देश्य से हमारी सरकार विद्यालयों में ब्लैक बोर्ड के जगह प्रोजेक्टर्स,शिक्षकों के हाथ में चॉक की जगह स्टाइलस डिवाइस और छात्र-छात्राऐं के हाथ में पेन-पेंसिल की जगह रिमोर्ट कन्ट्रोल थमा कर पढ़ने और पढ़ाने वाले अर्थात् गुरू -शिष्य दोनों के लिए सुविधाजनक व्यवस्था का शुभारंभ कर ऐतिहासिक कदम उठायी हैं।इस तरह के हाई-टेक शिक्षा प्रणाली के नियमित संचालन से टेक्नोलॉजीकल स्मार्ट क्लास से विद्यार्थियों का भविष्य निश्चित स्मार्ट हो जाएगा।उक्त बातें हायाघाट प्रखंड क्षेत्र के चर्चित उत्तकर्मित प्लस 2 उच्चतर माध्यमिक विद्यालय बिशनपुर के द्वारा आयोजित उन्नयन बिहार कार्यक्रम स्मार्ट क्लास के विधिवत उद्घाटन करने के पश्चात नव निर्वाचित जदयू के जिला अध्यक्ष विनय कुमार चौधरी अजय ने अपने संबोधन में कहा।

उन्होंने ने सरकार द्वारा शैक्षणिक क्रांति लाने के संकल्प को दोहराया।इस विद्यालय के ऐतिहासिक तथ्यों को उजागर करते हुए उन्होंने विद्यालय को विकास के शीर्ष पर पहुँचाने हेतु आश्वासन दिया और बच्चों में उत्साह का संचार की।
जिला अध्यक्ष विनय कुमार चौधरी अजय ने कहा कि छात्र देश की भावी पीढ़ी है ।नीतीश कुमार शिक्षा की प्रति काफी गम्भीर रहते है।उन्होंने कहा कि राज्य में राजा मोहन के बाद एक भी नेता नहीं उभरे। आज नीतीश कुमार बिहार में एक चर्चित नेता बन कर उभरे है। उनके दिशा निर्देश में राज्य काफी आगे बढ़ रही है। ।उन्होंने कहा आज राज्य में शराबबंदी कानून बना कर राज्य में लाखों परिवार को घर उजड़ने से बचाया।बाल विवाह, दहेज प्रथा कानून बनाने के बाद आज गुटखा की लत से लाखों युबा गुटखा के गिरफ्त में आ रहे थे नीतीश की सरकार गुटखा पर प्रतिबंध लगा कर बहुत बड़ा काम किया है।उन्होंने आगे कहा कि नीतीश की सरकार 2006 में साइकिल योजना लागू किया उस वक्त राज्य में मात्र 75 हजार छात्रा मैट्रिक में थी ,आज बढ़ कर 16 लाख छात्रा मैट्रिक परीक्षा देगी यह बढ़ता हुआ आंकड़े नीतीश सरकार की देन है।नीतीश सरकार मतदान की चिंता नही करते बल्कि मतदाताओं की चिंता करते है।नीतीश सरकार क्षेत्र के विकास तथा क्षेत्र के सभी विद्यालय के विकास के लिए कटिबद्ध हैं।
उन्होंने कहा कि सरकार शिक्षा को हाई-टेक जमाने के मुताबिक व्यवस्था करने में कोई कसर नहीं छोड़ रही हैं।नई तकनीक से विद्यार्थियों को हर विषय वीडियो,पिक्चर्स और ग्राफिक्स के माध्यम से समझाई जाएगी।छात्र-छात्राओं को टेस्ट देने के लिए प्रोजेक्टर्स पर बगैर विलम्ब के प्रश्न दिखते हीं रिमोर्ट के जरिए जबाब देने का समय आ गया है।
जिला शिक्षा पदाधिकारी महेश प्रसाद सिंह ने स्मार्ट क्लास के हर पक्षों पर विस्तृत रूप से प्रकाश डाला।
उन्होंने कहा कि शिक्षा स्वतंत्रता के द्वार खोलने का कुंजी है और एक शिक्षक दरवाजा खोल सकते हैं, लेकिन उस दरवाज़े के अंदर प्रवेश छात्र-छात्राओं को ही करना है।अर्थात् आज के हाई-टेक शिक्षा प्रणाली के दौर में विद्यार्थियो के लिए स्मार्ट क्लास बहुत ही प्रभावशाली सिद्ध होगा। वसर्ते विधार्थियों को अनुशासित रहकर स्वस्थ्य मनोवृत्ति से नियमित अध्ययन करने की जरूरत है।सरकार साधन व व्यवस्था दे रही है तो विद्यार्थियों को भी समुचित लाभ लेना चाहिए ताकि कम्प्यूटर में ई-लर्निंग व डिजिटल बुक से पढ़ाई कर हमारे छात्र-छात्राऐं सब स्मार्ट बन पाऐंगे।उन्होंने कहा कि शिक्षा सुदृढ़ीकरण के दिशा में सरकार काम रही है।
विद्यालय प्रधानाचार्य ने अतिथियों का स्वागत किया। मंच संचालन का भूमिका हायाघाट के पूर्व प्रखंड अध्यक्ष शम्भू नाथ झा उर्फ फूल बाबू ने बखुबी निभा रहे थे।जबकि बिद्यालय की छात्राओं ने संयुक्त रूप से स्वागत गान प्रस्तुत की।उद्घाटन के मौके पर उपस्थित शिक्षकों एवं छात्रों को प्रोजेक्टर के स्क्रीन पर इसकी उपयोगिता से अवगत कराया गया।
इस अवसर पर शिक्षक-शिक्षिकाओं के साथ साथ छात्र-छात्राऐं एबं नर्मदेश्वर पाठक ,जद यू प्रखंड अध्यक्ष कैलाश ठाकुर,जिला परिषद सदस्य समसाद रिजबी ,बिशन पुर मुखिया राज कुमार चौधरी,सहारा मुखिया विजय पासवान सहित दर्जनों ग्रामीणों की उपस्थित थी।

Share

1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

जिला मलेरिया पदाधिकारी ने किया हायाघाट स्वास्थ केंद्र का निरीक्षण।

हायाघाट : जिला मलेरिया पदाधिकारी डॉ जय प्रकाश महतो ने शनिवार को प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र…