Home Featured दुर्गापूजा केलिए आयोजकों को लाइसेंस लेना अनिवार्य, विधि-व्यवस्था को लेकर बैठक आयोजित।
September 27, 2019

दुर्गापूजा केलिए आयोजकों को लाइसेंस लेना अनिवार्य, विधि-व्यवस्था को लेकर बैठक आयोजित।

दरभंगा: दस दिनों तक चलने वाली दुर्गापूजा के अवसर पर विधि-व्यवस्था बनाये रखने के लिए प्रशासनिक तैयारियां जोर-शोर से की जा रही हैं। सभी संबंधित थाना क्षेत्रों में जहां प्रतिमा स्थापित होती जाती है, जहां श्रद्धालुओं की भीड़ होती है, वहां दुर्गा पूजा आयोजकों एवं गणमान्य व्यक्तियों के साथ बैठक कर त्योहार को शांतिपूर्ण सम्पन्न कराने का आग्रह किया जा रहा है। डीएम डॉ. त्यागराजन एसएम ने शुक्रवार को एसएसपी बाबू राम एवं अन्य वरीय पदाधिकारियों के साथ कार्यालय प्रकोष्ठ में बैठक कर आगामी दुर्गा पूजा, समस्तीपुर लोकसभा उप चुनाव (अंश) को शांतिपूर्ण सम्पन्न करने, संवेदनशील स्थलों पर अतिरिक्त पुलिस बल की तैनाती करने के संबंध मे विचार-विमर्श किया। डीएम ने कहा है कि सभी दुर्गा पूजा आयोजकों को लाइसेंस लेना अनिवार्य होगा। बिना लाइसेंस के कोई दुर्गा पूजा पंडाल नहीं बनेंगे। सभी पंडालों में पर्याप्त संख्या में यथोचित स्थानों पर सीसीटीवी लगाना भी अपरिहार्य होगा। वहीं विद्युत विभाग से बिजली का अस्थाई कनेक्शन लेना भी अनिवार्य किया गया है। सभी पूजा पंडालों में आग से सुरक्षा के भी उपाय रखने होंगे। पूजा पंडालों में आने-जाने वाले मार्ग को अवरुद्ध नहीं करना होगा ताकि किसी आपातकालीन अवस्था में फौरन सहायता पहुंचायी जा सके। उन्होंने कार्यपालक अभियंता, विद्युत आपूर्ति प्रमंडल को जिले के सभी पूजा पंडालों में विद्युत वायरिंग की अच्छी तरह से जांच कर सुनिश्चित कर लेने का निर्देश दिया है। एसएसपी ने सभी एसडीपीओ व थाना प्रभारियों को दुर्गा पूजा के अवसर पर पूरी चुस्ती एवं तत्परता के साथ विधि-व्यवस्था संधारण करने का निर्देश दिया है। उन्होंने कहा है कि मुहर्रम की तरह इस अवसर पर भी डीजे बजाने पर पूर्ण रोक रहेगी। उन्होंने कहा कि जिस भी थाना क्षेत्र में डीजे बजाने की सूचना मिलेगी उस थाने के प्रभारी के विरुद्ध ही कड़ी कार्रवाई की जायेगी। उन्होंने कहा है कि पटाखे की दुकानों पर भी नजर रखी जाये। डीएम ने कहा है कि दुर्गा पूजा के अवसर पर कहीं-कहीं रावण वध का कार्यक्रम होता है, वहां काफी भीड़-भाड़ होती है। इसलिए रावण वध कार्यक्रम स्थल पर प्रवेश एवं निकास पूर्ण तथा ओपेन होनी चाहिए। वहां पर प्रतिनियुक्त पुलिस बलों एवं दंडाधिकारी को विशेष सतर्कता बरतने की जरूरत होगी। दुर्गा पूजा विसर्जन जुलूस के साथ पर्याप्त संख्या में पुलिस बल के जवान साथ-साथ रहेंगे ताकि स्थिति नियंत्रण में रहे। बैठक में अपर समाहर्ता, डीडीसी, नगर आयुक्त, प्रशिक्षु सहायक समाहर्ता, गोपनीय प्रभारी, सभी एसडीओ, सभी एसडीपीओ, थाना प्रभारी आदि उपस्थित थे।

Share

1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

एक करोड़ सैंतालीस लाख की लागत से बनने वाले सड़क का विधायक ने किया शिलान्यास।

जाले : मुख्यमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत बनने वाली सड़क ब्रह्मपुर कदम चौक से डॉ. रामपदारथ …