Home Featured संतान प्राप्ति केलिए शुरु की गयी काली पूजा फल प्राप्ति के बाद भी 38 साल से लगातार है जारी।
3 weeks ago

संतान प्राप्ति केलिए शुरु की गयी काली पूजा फल प्राप्ति के बाद भी 38 साल से लगातार है जारी।

दरभंगा: जिले के तारडीह प्रखंड के दादपट्टी गाँव में इस साल 38वाँ काली पूजनोत्सव मनाया जा रहा है।
इस संबंध में जानकारी देते हुए स्थानीय निवासी सुधानन्दन झा ने बताया कि इस पूजा की शुरुआत उसी गाँव के स्थानीय निवासी सहायक शिक्षक नविंद्र झा ने 1981 ई0 से काली पूजा करने का संकल्प लेकर किया। श्री झा को संतान की प्राप्ति नही हो रही थी, अतः संतान प्राप्ति के उद्देश्य से जब यह पूजा उन्होंने सात वर्षों तक की, तब उन्हें 1988ई0 में पुत्री रत्न की प्राप्ति हुई जिनका नाम उन्होंने पूजा रखा। श्री झा ने इस काली पूजा संकल्प को जारी रखा। कुछ साल बाद श्री झा जी का स्वास्थ्य ठीक नही रहने लगा और वह पूजा करने में अपने आप को शारिरिक रूप से असमर्थ महसूस करने लगे थे। 1992ई0 तक श्री नविंद्र झा ने स्वयं पूजा किया। तत्पश्चात इस पूजा के संकल्प को जारी रखने के लिए उन्होंने अपने ही परिवार के एक सदस्य गोपाल जी झा से अपनी शारीरिक स्थिति को देखते हुए आग्रह किया कि आप इस पूजा संकल्प को जारी रखें।
बताया जाता है कि कि गोपाल जी झा जब 11वर्ष के थे तो उसी समय उनको नविंद्र झा ने गोद ले लिया था। गोपाल जी झा ने पुत्र होने का फर्ज निभाते हुए 1993ई0 से नविंद्र झा के स्थान पर स्वयं काली पूजा करना जारी रखा। श्री झा जी का 2001 में निधन हो गया, उस समय वो शिक्षक के पद से सेवानिवृत्त भी नही हुए थे। उनके स्वर्गीय होने के बाद उनकी पत्नी अनमना देवी ने अपने पति के संकल्पों को जारी रखी और बिना किसी सामाजिक सहयोग का काली पूजा मना रही थी, जब उनकी बेटी(पूजा) बड़ी हुई तो पिता के स्थान पर उनको रोजगार प्राप्त हुआ और उन्होंने फैसला किया जबतक मुझे सामर्थ रहेगा तब तक पिताजी के संकल्पों को पूरा करते रहेंगे। आज भी यह काली पूजा बड़े धूम-धाम से मनाई जा रही है।

Share

उघरा में आयोजित हुई ब्राह्मण फेडरेशन की बैठक, विनोदकान्त झा बने कार्यकारी पंचायत अध्यक्ष।

आखिर मैराथन के नाम लाखो की ठगी की पृष्ठभूमि तैयार करने में किसने की आयोजक की मदद!

मिथिला विभूति पर्व में पहुँचे सीपी ठाकुर ने साफ कहा- मिथिला राज्य के विषय मे सरकार की कोई सोच नही।

रविशंकर प्रसाद अध्यक्ष एवं कृष्ण कुमार मिश्रा बने दरभंगा बार एसोसिएशन के महासचिव।

सुप्रीम कोर्ट के निर्णय से और अधिक मजबूत होगी भारत की एकता एवं अखंडता: हरि सहनी।

राम मंदिर और मस्जिद दोनो के निर्माण में जदयू विधायक अमरनाथ गामी देंगे एक-एक महीने का वेतन।

2 Comments

  1. इस घटनाक्रम का आंशिक गवाह मैं खुद को मानता हूँ।
    माननीय व श्रधेय नवीन झा की पुत्री व मेरा बचपन एक साथ ही बीता है।सम्भवतः इस 38वी काली पूजा महोत्सव में मैं भी शामिल हो सकूँ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

उघरा में आयोजित हुई ब्राह्मण फेडरेशन की बैठक, विनोदकान्त झा बने कार्यकारी पंचायत अध्यक्ष।

देखिये वीडियो भी👆 दरभंगा: ऑल बिहार ब्राह्मण फेडरेशन की बैठक रविवार को बहादुरपुर प्…