Home Featured मुखिया द्वारा जान से मारने की कोशिश पर भी थानाध्यक्ष ने नही की कारवाई, एसएसपी से शिकायत।
November 15, 2019

मुखिया द्वारा जान से मारने की कोशिश पर भी थानाध्यक्ष ने नही की कारवाई, एसएसपी से शिकायत।

दरभंगा: पता नही दरभंगा में पुलिसिंग को किसकी नजर लग गयी है। कहीं इन दिनों पुलिसिंग नामक चीज दिखने का अभाव सा अभाव हो गया है। दिनदहाड़े जहां तहां गोलियां चल रही है, मारपीट हो रहा है और पुलिस हाथ पर हाथ धरे बैठी है।
इसी क्रम में मनीगाछी थानाध्यक्ष की एक और शिकायत एक पीड़ित आवास सहायक ने वरीय पुलिस अधीक्षक से की है। शिकायत आवेदन के माध्यम से लहेरियासराय थानाक्षेत्र के सैदनगर निवासी स्व0 प्रयाग राउत के पुत्र रामजी राउत ने बताया है कि वे मनीगाछी के बलौर पंचायत में ग्रामीण आवास सहायक के पद पर कार्यरत हैं। गत 11 नवम्बर को पंचायत के इंद्रकुमार दास के यहां कागजात आदि पर दस्तखत करवा रहे थे कि उसी समय बलौर के मुखिया सुमन कुमार झा उर्फ लड्डू झा अपने समर्थक मो0 आलम के साथ पहुंचे और धोखे से उन्हें बुलाकर पंचायत भवन ले जाने लगे। जब उन्हें भनक लगी तो वे नही जाना चाह रहे थे तब दोनो घसीटकर उन्हें पंचायत भवन के अंदर ले गए और लाठी डंडे और रॉड से बुरी तरह ताबड़तोड़ पीटा। पीटते पीटते आवास सहायक श्री राउत बेहोश को बेहोश कर दिया गया। करीब आधा घण्टा बाद जब श्री राउत को होश आया तो वे पानी मांग रहे थे। तब दोनो को कहते सुने कि मरने दो इसे। पानी नही देना है। फिर बेहोशी की हालत में कुछ कागजात पर हस्ताक्षर भी ले लिए और तब जाकर उन्हें छोड़ा।
इस मामले का आवेदन श्री राउत ने मनीगाछी थानाध्यक्ष को दिया। परंतु थानाध्यक्ष ने कोई कारवाई नही की। उल्टे मुखिया एवं समर्थकों द्वारा पुनः आवेदन वापस लेने की धमकी मिलने लगी।
शुक्रवार को इसपर जिला ग्रामीण आवास सेवा संघ के द्वारा संज्ञान लेते हुए जिला अध्यक्ष बच्चाबाबू लालदेव के नेतृत्व में एक शिष्टमंडल रामजी राउत के साथ एसएसपी से मिलने पहुंचा। प्रभारी एसएसपी सह सिटी एसपी ने मामले पर संज्ञान लेते हुए थानाध्यक्ष को तुरंत एफआईआर दर्ज करके कड़ी कारवाई का निर्देश दिया है।

Share

3 Comments

Leave a Reply

Check Also

आइसोलेशन में रह रहे कोरोना मरीजों से बात करके जिलाधिकारी ने जाना हाल।

दरभंगा: जिलाधिकारी डॉ. त्यागराजन एसएम ने बुधवार को कोरोना संक्रमित मरीजों से स्वयं बात की।…