Home Featured दिनदहाड़े थाना के सामने दो दुकानदारों के बीच भिडंत में तेल उड़ेलने से बुरी तरह झुलसा युवक।
4 weeks ago

दिनदहाड़े थाना के सामने दो दुकानदारों के बीच भिडंत में तेल उड़ेलने से बुरी तरह झुलसा युवक।

देखिये वीडियो भी।

देखिये वीडियो भी👆

दरभंगा: दरभंगा में जहां तहां एवं मुख्यालय आदि के आसपास प्रशासन के नाक के नीचे भी मारपीट एवं गोलीबारी जब आम बात हो गयी हो तो भला थाने के सामने भी दिनदहाड़े मारपीट हो तो आश्चर्य की बात नही। अपराधियो का हौसला भी क्यों न बढ़े जब घटना के बाद पुलिस मीडिया में थोड़ा बहुत तामझाम दिखाकर निश्चिंत होकर सो जाए और अपराधियों को गिरफ्तार भी न कर पाये।
ताजा मामले में शुक्रवार को दिन के करीब 12 बजे विश्वविद्यालय परिसर स्थित दो दुकानदारों के बीच जमकर मारपीट हुई। एक दुकानदार ने गर्म तेल उड़ेल दिया, तो दूसरे दुकानदारों ने तेजधार हथियार से हमला कर दिया। घटना में दो युवक झुलस गए। जबकि तीसरा युवक गंभीर रूप से घायल हो गया। तीनों को डीएमसीएच में भर्ती कराया गया है। घटना के संबंध में बताया जाता है कि बताया जाता है कि भाजपा नेत्री मीणा झा के भाई विजय कुमार झा विश्वविद्यालय गेट पर छोला भटूरा की दुकान चलाते है। वहीं दूसरे पक्ष के चाय नाश्ता की दुकान है। अचानक दोनों दुकानदारों के बीच झड़प हो गई और देखते ही देखते विजय झा के पुत्र प्रेम झा के ऊपर दुखी साह के पुत्र राजेश साह और राकेश साह आदि सहित कई कर्मियों ने हमला कर दिया। जिसमें प्रेम का सर फट गया। इसके बाद प्रेम गुस्साए अवस्था में गर्म तेल दुखी साह के दोनों पुत्र के ऊपर उड़ेल दिया। जिससे राकेश और राजेश बुरी तरह से झुलस गया। झुलसे युवक ने बताया कि झगड़ा में मीणा झा अपने पुत्र के साथ पहुंची थी और मीणा झा के पुत्र पर भी मारपीट का आरोप लगाया गया है।
एक पक्ष दुखी साह के पुत्र ने बताया कि पानी निकासी के लिए बने नाले को विजय झा द्वारा बन्द किया जा रहा था, जिसका विरोध करने पर विजय झा एवं उनका पुत्र उनसे झगड़ने लगा। भाजपा नेता मीणा झा भी पुत्रों के साथ पहुँची और उनके पुत्रों ने भी मारपीट की। विजय झा के पुत्र प्रेम झा ने गर्म तेल उनके ऊपर उड़ेल दिया।
वहीं दूसरे पक्ष विजय झा ने बताया कि उनके दुकान के पीछे उनके बच्चे शौच करके गंदा कर देते थे। इसके लिए मना किया तो वे लोग उनके तथा उनके पुत्र पर हमला कर दिया। हमले के दौरान तेल वाला गर्म कड़ाही गिर गया।
इस संबंध में भाजपा नेत्री मीणा झा ने बताया कि दोनो दुकानदार सुबह से ही झगड़ रहे थे। इसलिए उन्होंने यूनिवर्सिटी थाना को भी इसकी सूचना दे दी थी। पर जब दिन के करीब 12 बजे उन्हें दूरभाष पर मारपीट की सूचना मिली तो वे एक समाजसेवी होने के नाते पहुंची और दोनो को समझाने का प्रयास किया। पर उनपर भी हमला का प्रयास वहां पहले से मौजूद कुछ असामाजिक तत्वों द्वारा किया गया। बीच बचाव में उनके हाथ एवं पाँव पर भी गर्म तेल गिर गया। निविदा नही मिल सकने वाले पक्ष के उकसाने पर मामले में उनके तथा उनके पुत्र का नाम घसीटा जा रहा है।
अब देखने वाली बात होगी कि बड़े रसूख एवं दबंगों के बीच के इस लड़ाई में भी पुलिस अपनी सशक्त उपस्थिति दिखा पाती है या फिर अन्य मामलों की तरह इसमे भी प्रयास जारी होने का रटा रटाया बयान देकर पुलिस अपने कर्तव्य की इतिश्री कर लेती है।

Share

1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

उघरा पंचायत के पैक्स अध्यक्ष बने संजीव, खैरा में श्यामसुंदर ने मारी बाजी।

दरभंगा : बहादुरपुर प्रखंड में तीसरे चरण का मतगणना शांतिपूर्वक संपन्न हो गया। इसमें डरहार प…