Home Featured सुरहाचट्टी मुख्य सड़क के किनारे मिली युवक की सर कुचली लाश‌।
3 weeks ago

सुरहाचट्टी मुख्य सड़क के किनारे मिली युवक की सर कुचली लाश‌।

दरभंगा : पतोर ओपी क्षेत्र के सुरहाचट्टी मुख्य सड़क के किनारे झाड़ी में रविवार की सुबह लगभग 26 वर्षीय युवक की संदिग्ध अवस्था में लाश मिलने से सनसनी फैल गई। स्थानीय लोगों की सूचना पर पुलिस पहुंचकर लाश को कब्जे में लेकर छानबीन शुरू कर दी। शव की पहचान को छुपाने के लिए युवक के सिर को चाकू एवं ईंट से कुचल कर बुरी तरह क्षत-विक्षत कर दिया था। पुलिस ने युवक के पॉकेट से 110 रूपये नकद एवं एक आधार कार्ड बरामद किया। आधार कार्ड पर अंकित नाम के अनुसार युवक मधुबनी जिला के रुपौली थाना क्षेत्र के परमेसरा गांव निवासी किशन महतो के पुत्र श्रवण कुमार महतो के रूप में की गई है। हालांकि शव मिलने के कुछ घंटो तक पुलिस उहापोह में थी कि युवक का आधार कार्ड जो पॉकेट से मिला है वह उसका है या नहीं। दरभंगा पुलिस ने मधुबनी पुलिस से संपर्क स्थापित कर जानकारी ली। लाश को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए डीएमसीएच भेज दिया। बताया जाता है कि युवक के दोनों कान में मोबाइल का एयरफोन लगा हुआ था लेकिन मोबाइल गायब था। बताया जाता है कि श्रवण की पत्नी विवाह देवी गर्भवती है जिसके इलाज के लिए 2 दिन पूर्व दरभंगा आया था, फिर रिपोर्ट डॉक्टर से दिखाकर दवा लेने आया था। श्रवण की 78 वर्षीय वृद्ध मां है। श्रवण कुमार के पिता किशन महतो की मौत हो चुकी है। पिता के मौत के बाद श्रवण सब्जी का व्यवसाय कर भरण पोषण कर रहा था। श्रवण को पहले से एक 2 वर्षीय पुत्र है। आखिर श्रवण महतो की मौत जो मधुबनी जिले का रहने वाला है उसे जिले के सुरहाचट्टी में ले जाकर क्यों की गई किसने की। पुलिस के लिए चुनौती बनी हुई है। श्रवण को ऐसे कौन से व्यक्ति से दुश्मनी था जो इस तरह चेहरे पर चाकू से निर्मम वार कर और ईंट से सिर को कुचल कर हत्या की है। अपराधी इस तरह की घटना को अंजाम देकर पहचान छुपाना चाह रहे थे। लेकिन आधार कार्ड के आधार पर उसकी पहचान तुरंत हो गई। नहीं तो पुलिस यूडी केस दर्ज कर मामला को ठंडे बस्ते में डाल देती। इससे पूर्व भी इस क्षेत्र में कई लोगों की हत्या कर लाश को फेंक दिया गया, जिसकी पहचान आज तक नहीं हो पाई।

Share

1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

दहेज के खातिर फिर एक अबला को घर से निकाला, बच्चों से भी किया दूर।

दरभंगा: दहेज लोभियों को दया धर्म कुछ नहीं होता उसे तो बस पैसा, मोटरसाइकिल या अन्य सामान चा…