Home Featured दरभंगा मेडिकल कॉलेज में आयोजित दो दिवसीय बैपकॉन सम्मेलन का हुआ भव्य समापन।
January 19, 2020

दरभंगा मेडिकल कॉलेज में आयोजित दो दिवसीय बैपकॉन सम्मेलन का हुआ भव्य समापन।

दरभंगा: दरभंगा मेडिकल कॉलेज में आयोजित बैपकॉन सम्मेलन का समापन शनिवार को हो गया. अंतिम दिन डीएमसीएच के पैथोलॉजी विभागाध्यक्ष डॉ अजित कुमार चौधरी ने रेटिकुलासाइटस जांच के बारे में जानकारी दी. बताया कि रेटिकुलोसाइट टेस्ट मरीजों के ब्लड में रेटिकुलोसाइट्स की संख्या को मापता है. इस टेस्ट को रेटिकुलोसाइट इंडेक्स और रेटिक काउंट भी कहा जाता है. रेटिकुलोसाइट्स अपरिपक्व रेड ब्लड सेल्स हैं, जो अभी भी विकसित हो रही है. डॉ चौधरी ने बताया कि टेस्ट से पता चलता है कि ऐसी कोई बिमारी नहीं है जो रक्त को प्रभावित कर रही है. पुरे शरीर के ब्लड प्रवाह में रेड ब्लड सेल्स दौड़ती रहती है. उनका काम ताजा ऑक्सीजन को शरीर मे लाना और कार्बन डाइऑक्साइड को दूर करना होता है. यदि शरीर में पर्याप्त मात्रा में रेड ब्लड सेल्स को नहीं बनाता है, तो उस व्यक्ति को एनीमिया नामक बीमारी का खतरा हो सकता है. बताया कि यदि शरीर की लाल रक्त कोशिका की संख्या बहुत कम या बहुत अधिक है, तो शरीर अधिक या कम रेटिकुलोसाइट का उत्पादन और विमोचन करके एक बेहतर संतुलन प्राप्त करने की कोशिश करेगा. रेटिकुलोसाइट काउंट की मदद से डॉक्टर कई मेडिकल कंडिशन जैसे एनीमिया और बोन मैरो फेलियर को डायग्नोज करते हैं. रेटिकुलोसाइट टेस्ट एनीमिया का निदान करने और यह पता लगाने के लिए किया जा सकता है. इसके अलावा डॉ विपिन कुमार, डॉ अनिता तहलन, डॉ अजय कुमार, डॉ नेहा झा आदि ने आधुनिक चिकत्सा व विभिन्न प्रकार के पैथोलॉजिकल जांच के बारे में व्याख्यान प्रस्तुत किया.
डॉ पवन बने बैपकॉन- 2021 के अध्यक्ष
अगले वर्ष पावापुरी मेडिकल कॉलेज में बैपकॉन- 2021 सम्मेलन के आयोजन को लेकर आयोजित बैठक में कार्यकारिणी कमेटी के सदस्यों का चयन किया गया. इसमें सर्वसम्मति से डॉ पवन कुमार चौधरी को अध्यक्ष, डॉ अंजार अहमद, डॉ सतेन्द्र कुमार एवं डॉ अशोक कुमार सिन्हा को उपाध्यक्ष, डॉ सुनीत कुमार को सचिव, डॉ अजय कुमार को कोषाध्यक्ष, डॉ रंजन कुमार राजन, डॉ मुकेश साह, डॉ मो. शाकिर अहमद एवं डॉ अरूण कुमार राय को संयुक्त सचिव के रूप में चयनित किया गया. जबकि मार्गदर्शन कमेटी में डॉ अजित कुमार चौधरी, डॉ बीएन ठाकुर, डॉ गोपाल लाल दास, डॉ बिजय नारायण सिंह, डॉ वाई के सिंह, डॉ एके मिश्रा रहेंगे.

Advertisement

Share

लॉकडाउन में अब नए रोल में दिखी पुलिस, भूखों को भोजन करवाने की उठा रही जिम्मेवारी।

जिला विधिक सेवा प्राधिकार द्वारा जरूरतमंदों केलिए प्रतिदिन उपलब्ध करवाया जा रहा है भोजन।

विदेश से लौटे लोगों की हो रही ट्रैकिंग, सूचनाओं के सम्प्रेषण केलिए नियंत्रण कक्ष स्थापित।

बाहर से आने वाले लोगों के ठहरने, खाने-पीने व मेडिकल चेकअप की व्यवस्था पर डीएम खुद रख रहे हैं नजर।

लॉकडाउन में सोशल डिस्टेंसिंग के साथ होगी फसल कटाई, खुलेगी कृषि यंत्रों की भी दुकान।

पांच दिनों में 655 वाहनो से वसूला गया पाँच लाख का जुर्माना, कई पर प्राथमिकी भी दर्ज।

1 Comment

Leave a Reply

Check Also

लॉकडाउन में अब नए रोल में दिखी पुलिस, भूखों को भोजन करवाने की उठा रही जिम्मेवारी।

देखिये वीडियो भी👆 दरभंगा: देश में कोरोना वायरस की वजह से 21 दिनों के लिए सबकुछ बंद…