Home Featured दो दिवसीय राष्ट्रव्यापी हड़ताल के समर्थन में दरभंगा में भी बैंककर्मियों ने किया प्रदर्शन।
January 31, 2020

दो दिवसीय राष्ट्रव्यापी हड़ताल के समर्थन में दरभंगा में भी बैंककर्मियों ने किया प्रदर्शन।

दरभंगाः राष्ट्रव्यापी दो दिवसीय हड़ताल के आह्वान के तहत दरभंगा जिला में बैंककर्मी हड़ताल के समर्थन में प्रदर्शन करते दिखे। मुख्यालय स्थित स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की शाखा के सामने बैंककर्मियों ने दो दिवसीय हड़ताल का समर्थन किया तथा अपनी मांगों के समर्थन में बैंककर्मियों ने जहां अपनी आवाज बुलंद की। वहीं, बैंक हड़ताल से आमलोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।
प्रदर्शन कर रहे बैंक कर्मियों ने बताया कि केंद्र सरकार मजदूर विरोधी रवैया अपना रही है। इसके कारण ही वेतन समझौता में विलंब हो रहा है। भारत सरकार ने 12 जनवरी 2016 को आईबीए के अलावा सभी एसोसिएट बैंक मैनेजमेंट को निर्देश दिया कि 11वां वेतन समझौता शीघ्र संपादित किया जाए, जिससे एक नवंबर 2017 से बैंक कर्मचारियों को पुनरीक्षित वेतन का भुगतान किया जा सके। परन्तु विडंबना है कि इसके लिए कोई पत्र भारत सरकार ने जारी नहीं किया।
बैंककर्मियों ने बताया कि बैंक में स्टाफ की घोर कमी है। वैकेंसी रहने के बावजूद बहाली नहीं की जा रही है। इस कारण कार्यरत कर्मचारी और अधिकारी पर काम का बोझ है। बैंक अधिकारियों का आने का समय निर्धारित है लेकिन जाने का नहीं। कर्मियों का कहना है कि छुट्टी के दिनों में भी काम लिया जाता है, जिसके कारण बीमार स्टाफ की संख्या में वृद्धि हो रही है। दूसरी तरफ स्टाफ की कमी के कारण ग्राहकों को सुविधा नहीं मिल पा रही है।
ज्ञात हो कि विभिन्न मांगों के समर्थन में 31 जनवरी और 1 फरवरी को बैंकों की हड़ताल है. इसमें यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियंस ने पांच दिवसीय बैंकिंग, बेसिक पे, विशेष भत्ते का विलय, नई पेंशन योजना, पेंशन का अद्यतन पारिवारिक पेंशन में सुधार सहित कई मांग सरकार के सामने रखी है।

Share

लॉकडाउन में अब नए रोल में दिखी पुलिस, भूखों को भोजन करवाने की उठा रही जिम्मेवारी।

जिला विधिक सेवा प्राधिकार द्वारा जरूरतमंदों केलिए प्रतिदिन उपलब्ध करवाया जा रहा है भोजन।

विदेश से लौटे लोगों की हो रही ट्रैकिंग, सूचनाओं के सम्प्रेषण केलिए नियंत्रण कक्ष स्थापित।

बाहर से आने वाले लोगों के ठहरने, खाने-पीने व मेडिकल चेकअप की व्यवस्था पर डीएम खुद रख रहे हैं नजर।

लॉकडाउन में सोशल डिस्टेंसिंग के साथ होगी फसल कटाई, खुलेगी कृषि यंत्रों की भी दुकान।

पांच दिनों में 655 वाहनो से वसूला गया पाँच लाख का जुर्माना, कई पर प्राथमिकी भी दर्ज।

1 Comment

  1. Youth Substance Abuse http://aaa-rehab.com Drug Rehab http://aaa-rehab.com Alcohol Outpatient
    http://aaa-rehab.com

Leave a Reply

Check Also

लॉकडाउन में अब नए रोल में दिखी पुलिस, भूखों को भोजन करवाने की उठा रही जिम्मेवारी।

देखिये वीडियो भी👆 दरभंगा: देश में कोरोना वायरस की वजह से 21 दिनों के लिए सबकुछ बंद…