Home Featured सिद्धेश्वर नाथ मंदिर परिसर में नवनिर्मित मंदिर में कल होगी पार्वती की प्राण प्रतिष्ठा।
3 weeks ago

सिद्धेश्वर नाथ मंदिर परिसर में नवनिर्मित मंदिर में कल होगी पार्वती की प्राण प्रतिष्ठा।

मनीगाछी: प्रखंड के टटुआर पंचायत के विशाल गांव में अवस्थित अति प्राचीन बाबा सिद्धेश्वर नाथ मंदिर परिसर में नवनिर्मित पार्वती मंदिर में शुक्रवार को पार्वती की मूर्ति को प्राण प्रतिष्ठा कराई जाएगी। पार्वती प्रतिमा की प्राण प्रतिष्ठा के लिए बनगांव महिषी से आए, आचार्य महेंद्र झा के नेतृत्व में पंडितों द्वारा प्रखंड यज्ञ अनुष्ठान किया जा रहा है।
बृहस्पतिवार को 108 कुमारी कन्याओं द्वारा निकाले गए भव्य कलश शोभायात्रा के साथ जयपुर के कलाकारों द्वारा निर्मित देवी पार्वती की प्रतिमा मंदिर परिसर में प्राण प्रतिष्ठा के लिए लाई गई।योगेंद्र झा की अगुवाई में ग्रामीणों के सहयोग से निर्मित पार्वती मंदिर में महाशिवरात्रि से ठीक पहले प्रतिमा की प्राण प्रतिष्ठा किए जाने को लेकर ग्रामीणों के साथ-साथ आसपास के गांवों के लोगों में अद्भुत भक्ति का माहौल बना हुआ है।
बाबा सिद्धेश्वर नाथ मंदिर में लगे सिलावट के अनुसार नर्मदा कुंड से प्राप्त शिव दंपति व गणेश की मूर्ति के साथ शिवलिंग की स्थापना 1763 साके की चैत्र शुक्ल दशमी बृहस्पति को महान शिव उपासक एवं अपने समय के प्रकांड विद्वान सिद्धेश्वर नाथ मिश्र ने की थी इसकी स्थापना के करीब 178 साल बाद परिसर में पार्वती मंदिर का निर्माण होने से स्थानीय लोग अत्यंत उत्साहित हैं। जानकार बताते हैं कि यहां स्थापित तीनों मृतकों में से 2 मूर्तियां गिरजापति भगवान शिव की सायुज्य मुक्ति की प्राप्ति के लिए तथा तीसरी गणेश की मूर्ति के साथ शिवलिंग की स्थापना शक्ल अभिलाष मनोकामना की शीघ्र प्राप्ति के लिए की गई है। मंदिर में प्रवेश करते ही यहां की स्थापित शिवलिंग भक्तों को विशेष रूप से आकर्षित करता है।
समय के प्रवाह में खंडहर में तब्दील हो चुके इस मंदिर का वर्ष 1982 में ग्रामीणों ने एकजुट होकर जिन्नो धार कार्य कराया और तब से बड़े ही धूमधाम के साथ यहां तीन दिवसीय शिवरात्रि महोत्सव का आयोजन किया जाता है।
सिद्धेश्वर नाथ महादेव के प्रति डिसोल्वड आठवां सहित आसपास के पड़ोसी गांव के लोगों में आस्था का भाव इस कदर है कि शिवरात्रि के अवसर पर सैकड़ों कांवरिया सिमरिया से पैदल गंगाजल लाकर यहां जलाभिषेक करते हैं। जिसमें सभी वर्ग के लोग बच्चे बूढ़े और महिलाएं भी शामिल होती है।

Share

1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

ओला, तूफान के साथ आई बारिश, फसलों को भारी क्षति।

दरभंगा: मंगलवार को तूफान के साथ बारिश के आने के कारण जिले मे फसलों को भारी नुकसान हुआ है। …