Home Featured ब्राह्मण मिलन समारोह में ब्राह्मण-भूमिहारों ने लिया एकता के साथ संघर्ष का संकल्प।
February 16, 2020

ब्राह्मण मिलन समारोह में ब्राह्मण-भूमिहारों ने लिया एकता के साथ संघर्ष का संकल्प।

देखिये वीडियो भी।

देखिये वीडियो भी👆
दरभंगा: रविवार को बहादुरपुर प्रखंड मुख्यालय के निकट इंद्र भवन में ऑल बिहार ब्राह्मण फेडरेशन एवं भूमिहार ब्राह्मण एकता मंच द्वारा संयुक्त रूप से ब्राह्मण मिलन समारोह का आयोजन किया गया। इस आयोजन में सैकड़ों ब्राह्मण जिले के विभिन्न क्षेत्रों से पहुँचे।
आयोजन का शुभारंभ पण्डित संजीव कुमार झा के स्वास्ति वाचन से हुआ। तत्पश्चात भगवान परशुराम की वंदना एवं वेदों का उच्चारण तथा गायत्री मंत्र का जाप भी हुआ। बैठक के दौरान बार बार जय परशुराम का उद्घोष होता रहा।
बैठक को संबोधित करते हुए ऑल बिहार ब्राह्मण ब्राह्मण फेडरेशन के प्रदेश अध्यक्ष उदय शंकर चौधरी ने कहा कि वोट लेकर ब्राह्मण को ठगने का कार्य अब नही चलेगा। आज तो मिलन समारोह हुआ है, आगामी अप्रैल माह में महासम्मेलन में लाखों ब्राह्मण एकजुटता दिखा कर अपनी आवाज को बुलन्द करेंगे। श्री चौधरी ने कहा कि महासम्मेलन के माध्यम से आर्थिक आधार पर आरक्षण, दक्षिण के कुछ राज्यों की तरह देश के सभी राज्यों में ब्राह्मण वेलफेयर फंड का गठन, प्रत्येक जिले परशुराम छात्रावास एवं परशुराम भवन की स्थापना, राजनैतिक हिस्सेदारी आदि प्रमुख मंगो पर जोर दिया जाएगा। साथ ही उन्होने ब्राह्मणों को सामाजिक कुरीतियों को दूर करने का भी आह्वान किया। आपसी विद्वेष को भुलाएं, दहेज प्रथा एवं मृत्यु भोज जैसे सामाजिक कुरूतियों को दूर करना भी जरूरी है।
श्री चौधरी ने कहा कि सरकार यदि एससी-एसटी को योजनाएं देती हैं तो उससे हमे कोई दिक्कत नही है। पर हम जिस सरकार को वोट देते हैं वह सरकार हमारी चिंता क्यों नही करती, यह सवाल हमारा जरूर है।
वहीं भूमिहार ब्राह्मण एकता मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष आशुतोष कुमार ने कहा कि आज मिथिला की धरती से जो एक मिलन समारोह का आगाज हुआ है, इसका संदेश दूर तक केवल प्रदेश भर में ही नही, बल्कि देश के सभी प्रदेशो में जाएगा। आजतक हम लोगों ने दानवीर कर्ण की तरह केवल दान ही दिया और बदले में कभी कुछ मांगा नहीं और पहली बार मांगने का प्रयास भी किया तो किसी ने सुना नही। आज इस देश में ब्राह्मणवाद और ब्राह्मणों को जड़ से मिटाने की साजिश रची जा रही है। बाबा साहब के नाम पर जितने संगठन चलाए जा रहे हैं, बाबा साहब ने कभी ब्राह्मणों का विरोध नहीं किया, लेकिन आज उनके सच्चे अनुयायी है वो लोग ब्राह्ममणबाद के खिलाफ जहर घोलने का काम कर रहे है और तमाम राजनीतिक दलों ने भी यही ठेका ले रखा है इस देश मे दलित वोट चाहिये पिछड़ा वोट चाहिये, मुसलमान का वोट चाहिये तो ब्राह्मण का विरोध करो लेकिन इन्हें ये बात समझ लेनी चाहिए कि ब्राह्मणवाद और ब्राह्मण इस देश के समाजवाद इस देश के शिक्षा इस देश के पूंजीवाद जो भी व्यवस्था इस देश मे कायम हुआ उसके जड़ में है और आप इस जड़ को काटने का प्रयाश कीजयेगा तो पत्तियां भी हरी नही रहेगा।
बैठक की अध्यक्षता भूमिहार ब्राह्मण एकता मंच के जिलाध्यक्ष गोपाल ठाकुर ने किया। मंच संचालन देव कुमार झा ने किया। समापन भाषण अधिवक्ता सुरेंद्र चौधरी तथा धन्यवाद ज्ञापन ब्राह्मण फेडरेशन के जिलाध्यक्ष डॉ0 प्रभाकर झा ने किया।
इस मौके पर कैलाश कुमार चौधरी, प्रो0 फूलबाबू टेक्ट्रिया, अधिवक्ता के के मिश्रा, मायाधीस राय, मनजीत चौधरी, रामाकांत चौधरी, पप्पू चौधरी, विनय चौधरी, जनार्दन चौधरी, राहुल ठाकुर, चंद्रमोहन ठाकुर, रिंकू ठाकुर, रामबाबू चौधरी, उमेश ठाकुर, उदय ठाकुर, सर्वेश चौधरी, सियाराम मिश्रा रंगनाथ ठाकुर, मुकुंद चौधरी, सुनील मिश्रा आदि ने भी अपने विचार रखे।

Share

Leave a Reply

Check Also

प्रमंडलीय आयुक्त की पहल से छत्तीसगढ़ के दुर्ग में फँसे दरभंगा के मजदूरों मिली मदद।

दरभंगा: लॉकडाउन के दौरान भारत के किसी भी कोने में फंसे श्रमिकों को किसी तरह की परेशानी ना …