Home Featured सोशल डिस्टेंसिंग के साथ अष्टमी के दिन महिलाओं ने भरा खोंईछा।
April 1, 2020

सोशल डिस्टेंसिंग के साथ अष्टमी के दिन महिलाओं ने भरा खोंईछा।

देखिये वीडियो भी।

देखिये वीडियो भी👆
दरभंगा: मिथिला की भूमि धर्म कर्म की भूमि है और पर्व त्योहारों को यहां बढ़ चढ़ कर मनाया जाता है। परंतु यदि आस्था के साथ साथ समाजहित की बात हो तो ऐसे विकट परिस्थितियों में सामंजस्य बैठाना भी अच्छी तरह जानते हैं। इसी का उदाहरण बुधवार को भी देखने को मिला जब नवरात्रा में अष्टमी के दिन महिलाएं माता के दरबार मे खोइन्छा भरने पहुँची।
शहर के लहेरियासराय स्टेशन रोड में चट्टी चौक अवस्थित दुर्गा मंदिर में श्री श्री 108 बासंती दुर्गा समिति द्वारा चैती नवरात्रा का आयोजन प्रत्येक वर्ष की भांति इस वर्ष भी हुआ। पूजा की शुरुआत लॉकडाउन एवं सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ख्याल रखते हुए। परन्तु अष्टमी के दिन खोंईछ भरने केलिए महिलाओं की भीड़ को नियंत्रण करने की चिंता पूजा समिति को सता रही थी। इसको लेकर कमिटी ने पूरी तैयारी पहले ही कर ली। सबसे पहले आसपास में अलग अलग टोलों और मुहल्लों में खोंईछ भरने का अलग अलग समय मंगलवार को ही बता दिया गया। इसके बाबा मंदिर में प्रतिमा के सामने खोइन्छा भरने केलिए निश्चित दूरी पर 5 टेबल लगा दिया गया। प्रतिमा के सामने टेबल पर निश्चित दूरी पर खड़ा होकर खोंईछ भरने की व्यवस्था की गयी। यदि निश्चित संख्या से ज्यादा महिला पहुंची तो उन्हें मन्दिर परिसर में निश्चित दूरी पर लगाये गए कुर्सी पर बिठाया गया। जब सामने का टेबल खाली हुआ तो पुनः कुर्सी से उठ कर महिलाएं बारी बारी से खोइन्छा भरती गयी।
हालांकि कभी कभी हल्की भीड़ बढ़ने जैसी स्थिति उतपन्न होते ही पूजा समिति के सदस्य सक्रिय हो जाते थे और कुछ देर केलिए महिलाओ को बाहर ही निश्चित दूरी पर खड़ा कर दिया जाता था। कमिटी के सदस्यों द्वारा भी लगातार सबको बार बार समझाया एवं निर्देशित किया जाता रहा।
पूजा समिति के सचिव गिरीन्द्र झा ने बताया कि हर वर्ष अष्टमी के दिन हजारों की भीड़ रहती थी। मेला भी लगता था। पर इस वर्ष लॉक डाउन के कारण भीड़ नही है। जो भी आये, सबने सोशल डिस्टेंसिंग का पूरी तरह पालन किया। खोइन्छा भरने आने वाली महिलाओं की भीड़ को नियंत्रण करने केलिए सामाजिक स्तर पर प्रयास किया गया था और समाज के लोगो ने पूरा सहयोग किया है।

Share

68 दिनों बाद सोशल डिस्टेंसिंग के साथ कोर्ट में शुरू हुआ कार्य।

जनसंदेश कार्यक्रम में भाग लेने केलिए पदाधिकारियों एवं जनप्रतिनिधियों को डीएम ने दिया निर्देश।

बी एवं सी केटेगरी सिटी से आये प्रवासी कामगारों का दैनिक स्वास्थ्य परीक्षण कराने का निर्देश।

जेएनजे ने लॉन्च किया करेंसी एवं डाक्यूमेंट्स सेनेटाइजर, 3500 रुपये में आमलोगों केलिए होगा उपलब्ध।

लॉकडाउन में घर लौट रहे मजदूरों की दुर्घटना एवं भूख से हुई मौत की तय हो जिम्मेवारी: सीताराम चौधरी।

भाजपा युवामोर्चा की जिला कार्यसमिति गठित, घनश्याम कुमार और संगीत साह बने महामंत्री।

Check Also

ब्लड बैंक से जारी ब्लड के कारण हुई मरीज के मौत मामले की निष्पक्ष जाँच की मांग।

दरभंगा: डीएमसीएच के ब्लड बैंक में कथित रूप से गलत खून के कारण एक महिला मरीज की मौत को लेकर…