Home Featured अन्य देश या राज्य से वापस आए लोगों के नियमित स्क्रीनिंग करने का आदेश।
April 2, 2020

अन्य देश या राज्य से वापस आए लोगों के नियमित स्क्रीनिंग करने का आदेश।

दरभंगाः कोरोना वायरस बीमारी को फैलने से रोकने के लिए लॉक डाउन लागू है. संक्रमित संदिग्ध व्यक्तियों की पहचान के लिए जांच की जा रही है. वहीं, दरभंगा में कोरोना संदिग्धों की जांच के लिए अहम फैसला लिया गया. समाहरणालय सभागार में जिलाधिकारी ने बिहार के बाहर से वापस लौटे सभी लोगों की स्क्रीनिंग कराने का निर्णय लिया.
जिला मुख्यालय दरभंगा स्थित समाहरणालय सभागार में जिलाधिकारी डॉ. त्यागराजन ने आज नगर आयुक्त और वार्ड पार्षदों के साथ बैठक की. बैठक में राज्य के बाहर से आए लोंगो की कल स्क्रीनिंग कराने का निर्णय लिया गया. वहीं, जिलाधिकारी ने कहा की पूरे जिला में संदिग्ध लोंगो की जांच तेजी से की जा रही है.
जिलाधिकारी ने नगर आयुक्त को नगर निगम के सभी वार्डों में दूसरे राज्यों से आए लोंगो का कल एक साथ सर्वेक्षण करने का निर्देश दिया. इस सर्वेक्षण में 18 मार्च 2020 के बाद जिला में आए सभी लोगों की पहचान की जाएगी. जिन्हें क्वारंटाइन कराया जाएगा. डीएम ने कहा कि डोर टू डोर सर्वेक्षण में चार कोटि के लोगों की स्क्रीनिंग कर पहचान की जाएगी.
1. जो लोग 18 मार्च के बाद विदेश से यात्रा कर लौटे हैं.
2. इस तिथि के बाद देश के अन्य राज्यों से जिले में लौटे हैं.
3. पिछले दो-तीन दिनों में राज्य के बाहर से लौटे अप्रवासी मजदूर और अन्य लोग जो नगर में रह रहे हैं.
4. जो लोग तब्लीगी जमात के सम्पर्क में रहे हैं.
जिलाधिकारी डॉ. त्यागराजन ने जिले वासियों से कोरोना को नियंत्रित करने में प्रशासन का सहयोग करने की अपील की है. डीएम ने कहा है कि जो व्यक्ति संवेदनशील देश या राज्य से वापस आए हैं, वे स्वयं सामने आएं और अपनी जाँच कराएं. यह उनके और परिवार के लिए जरूरी है. कोरोना को मात देने के लिए नागरिकों का सहयोग जरूरी है. जिलाधिकारी ने नगर आयुक्त और सभी वार्ड पार्षदों को सभी वार्डों में नियमित साफ-सफाई कराने का निर्देश दिया गया है. वहीं, संवदेनशील स्थानों से जिला में आए लोगों की नियमित स्क्रीनिंग करने का आदेश दिया है.

Share

68 दिनों बाद सोशल डिस्टेंसिंग के साथ कोर्ट में शुरू हुआ कार्य।

जनसंदेश कार्यक्रम में भाग लेने केलिए पदाधिकारियों एवं जनप्रतिनिधियों को डीएम ने दिया निर्देश।

बी एवं सी केटेगरी सिटी से आये प्रवासी कामगारों का दैनिक स्वास्थ्य परीक्षण कराने का निर्देश।

जेएनजे ने लॉन्च किया करेंसी एवं डाक्यूमेंट्स सेनेटाइजर, 3500 रुपये में आमलोगों केलिए होगा उपलब्ध।

लॉकडाउन में घर लौट रहे मजदूरों की दुर्घटना एवं भूख से हुई मौत की तय हो जिम्मेवारी: सीताराम चौधरी।

भाजपा युवामोर्चा की जिला कार्यसमिति गठित, घनश्याम कुमार और संगीत साह बने महामंत्री।

Check Also

ब्लड बैंक से जारी ब्लड के कारण हुई मरीज के मौत मामले की निष्पक्ष जाँच की मांग।

दरभंगा: डीएमसीएच के ब्लड बैंक में कथित रूप से गलत खून के कारण एक महिला मरीज की मौत को लेकर…