Home Featured ए कैटेगरी के शहरों से आने वाले अनिवार्य रूप से 14 दिनों तक रहेंगे प्रखंड क्वारेंटाइन में।
May 26, 2020

ए कैटेगरी के शहरों से आने वाले अनिवार्य रूप से 14 दिनों तक रहेंगे प्रखंड क्वारेंटाइन में।

दरभंगा: कोरोना महामारी की रोकथाम के लिए देश व्यापी लॉकडाउन अवधि में 40000 से अधिक प्रवासी कामगार दरभंगा जिला में आ चुके हैं। प्रवासी कामगारों का आने का सिलसिला लगातार जारी है। कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे को देखते हुए ए केटेगरी के सिटी से आने वाले सभी प्रवासी कामगारों को अनिवार्य तौर पर 14 दिनों तक के लिए प्रखंड/पंचायत क्वारेंटाइन में रखा जाएगा। इसके बाद वे लोग एक हफ्ते होम क्वारेंटाइन में रहेंगे।
उपरोक्त बातें दरभंगा के जिलाधिकारी डॉ0 त्यागराजन एसएम ने मंगलवार को अपने कार्यालय प्रकोष्ठ में आयोजित बैठक में कहीं।
जिलाधिकारी ने कहा है कि राज्य सरकार द्वारा मुम्बई, पूणे, दिल्ली, गाजियाबाद, सूरत, अहमदाबाद, फरीदाबाद, गुरुग्राम, नोएडा, कोलकाता एवं बेंगलौर को ए केटेगरी श्रेणी में वर्गीकृत किया गया है। इन शहरों से लौट रहे प्रवासी मजदूरों के रैंडम सैंपल टेस्टिंग एवं राज्य के बाहर से लगातार आ रहे प्रवासी मजदूरों की संख्या में अप्रत्याशित वृद्धि को देखते हुए राज्य सरकार द्वारा ग्रेड ए सिटी के प्रवासी मजदूरों को 14 दिनों तक प्रखंड स्तरीय क्वारेंटाइन मे अनिवार्य रूप से रखने का निर्देश दिया गया है। इन शहरों से आने वाली महिला प्रवासी कामगारों को भी 14 दिनों तक प्रखंड क्वारेंटाइन में रखा जाएगा।
कोविड पोर्टल पर 90 प्रतिशत डाटा इंट्री करने का निर्देश | डीएम डॉ. त्यागराजन एसएम ने सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी/अंचलाधिकारी को उनके प्रखंड क्षेत्र अंतर्गत सभी प्रवासी मजदूरों का कोविड/आपदा पोर्टल पर डाटा इंट्री कराने का निर्देश दिया है।
समीक्षा में सदर, बहादुरपुर, हनुमाननगर, मनीगाछी, तारडीह, बेनीपुर, बिरौल प्रखंडों का डाटा इंट्री 50 प्रतिशत से कम पाई गई है। वहीं कुशेश्वरस्थान पूर्वी प्रखंड में 90 प्रतिशत प्रवासी मजदूरों का कोविड पोर्टल पर डाटा इंट्री हो गया है।
जिलाधिकारी ने कुशेश्वरस्थान पूर्वी प्रखंड के टीम के कार्य की सराहना किया है और 50 प्रतिशत से कम उपलब्धि वाले संबंधित प्रखंडों को कल तक 90 प्रतिशत प्रवासी मजदूरों का डाटा कोविड पोर्टल पर इंट्री पूर्ण कराने का निर्देश दिया गया है। इस बैठक में नगर आयुक्त घनश्याम मीणा, प्रशिक्षु सहायक समाहर्त्ता विनोद दूहन, उप विकास आयुक्त डॉ. कारी प्रसाद महतो, सिविल सर्जन, सभी प्रखंड के वरीय प्रभारी पदाधिकारी, आपदा प्रभारी आदि उपस्थित थे।

Share

Check Also

शराब कारोबारियों ने विद्यालय को भी नही छोड़ा, 78 बोतल शराब एवं बीयर बरामद।

देखिए वीडियो भी 👆 दरभंगा: महामारी हो या आपदा, शराब कारोबारियों का धंधा बदस्तूर जार…