Home Featured राज्य की जनता फिर एकबार नीतीश कुमार को देखना चाहती है मुख्यमंत्री के रूप में: अजय चौधरी।
June 8, 2020

राज्य की जनता फिर एकबार नीतीश कुमार को देखना चाहती है मुख्यमंत्री के रूप में: अजय चौधरी।

दरभंगा: पार्टी के कार्यकर्ता अब पूरी तरह चुनावी मूड में आ गए हैं। राज्य की जनता फिर से एक बार नीतीश कुमार को मुख्यमंत्री के रूप में देखना चाहती है। कार्यकर्ता पूरी तत्परता से सरकार के कार्यो को जन जन तक पहुंचाने केलिए कमर कस चुके हैं।
उपरोक्त बातें जदयू के दरभंगा जिलाध्यक्ष प्रो0 विनय चौधरी उर्फ अजय चौधरी ने कहीं। श्री चौधरी सोमवार को मुख्यमंत्री के द्वारा ऑनलाइन वर्चुअल सम्मेलन में दरभंगा के कार्यकताओं से रूबरू होने के कार्यक्रम के समापन के बाद अपनी प्रतिक्रिया दे रहे थे। वे इस कार्यक्रम को अपने आवास पर कई कार्यकर्ताओं के साथ देख रहे थे।
श्री चौधरी ने इस ऑनलाइन कार्यक्रम के सम्बंध में जानकारी देते हुए बताया कि जद(यू) के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने दरभंगा के कार्यकर्ताओं का आह्वान किया कि आपस में प्रेम, भाईचारा और समाज सुधार में महत्वपूर्ण भूमिका निभाए। उन्होंने 15 साल बनाम 15 साल को लेकर जनता के बीच जाने को लेकर प्रतिबद्ध होने को कहा है।
उन्होंने आज ऑनलाइन अपने कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि कोरोना से डरने की जरूरत नहीं है, बल्कि सावधान रहने की जरूरत है। जब भी बाहर जाएं मास्क लगाकर जाएं। कोरोना के दौरान सरकार द्वारा की जा रही कार्य की विस्तृत जानकारी कार्यकर्ताओं को उन्होंने दी। उन्होंने कहा कि लॉक डाउन में जो लोग जहां है वही रहे, उनके वे पक्षधर थे। लेकिन अब जो भी श्रमिक बाहर से आए हैं, उन्हें मजबूरी में अब फिर बाहर जाना नहीं पड़े, सभी को रोजगार मिले यह व्यवस्था की जाएगी। लॉक डाउन के दौरान इन श्रमिकों को बहुत कष्ट उठाना पड़ा वहां उनकी मदद नहीं की गई जबकि ये लोग उन्हीं की सेवा में लगे हुए थे। हमें यह ठीक नहीं लगा, अपनी तरह से बिहार सरकार ने इन लोगों को मदद पहुंचाई। अन्य राज्यों में फंसे रहे बीस लाख से ज्यादा बिहार के लोगों के खाता में राहत पहुंचाई गई। एक- एक हजार रुपए हस्तांतरित किए गए।
उन्होंने कहा कि देश एक है नागरिकता सबकी एक है तो फिर प्रवासी क्यों कहा जा रहा है। यहां कोई प्रवासी नहीं है। हम सब मिलकर ऐसा माहौल बनाएंगे कि बिहार में कोई संकट उत्पन्न नहीं हो, समाज में विवाद नहीं हो आपस में प्रेम,भाईचारा व सद्भावना बना रहे। कोरोना संकट के दौरान अब तक सरकार ने लोगों को राहत पहुंचाने के लिए 8538 करोड़ 53 लाख रुपए खर्च किए हैं। ग्राम पंचायतों में प्रत्येक परिवार को चार मास्क एवं एक साबुन मुफ्त में वितरित किया जा रहा है। शहर में भी गरीबों एवं जरूरतमंदों के बीच मास्क का मुफ्त वितरण किया जा रहा है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि बिहार में उद्योग और कारोबार की नीति बदलेगी। जरूरत पड़ी तो नई नीतियां भी बनाई जाएंगी। अधिक से अधिक रोजगार व स्वरोजगार के अवसर पैदा हो,इसके लिए काम किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि मिथिला में इतनी क्षमता है कि वे दूसरों को रोजगार दे सकती है। मिथिला के उत्पादन देश के हर नागरिक के खाने की थाली की शोभा है पान, माछ और मखाना मिथिला की सांस्कृतिक विरासत है जो अब उद्योग का रूप लेगा।
इस अवसर पर मुख्यमंत्री के साथ उपस्थित राष्ट्रीय महासचिव संगठन आरसीपी सिंह ने कार्यकर्ताओं को चुनाव के लिए तैयार रहने का आह्वान किया। चुनाव समय पर होगा।
कार्यक्रम केे दौरान श्री चौधरी के साथ अलीनगर विधानसभा प्रभारी प्रफुल्ल कुमार ठाकुर, एजाज अख्तर खां रुमी, जिला उपाध्यक्ष शंभु नाथ झा, महासचिव विमल कुमार चौधरी, सचिव शैलेंद्र कुमार चौधरी, सचिव मनोज कुमार मिश्र, कन्हाई चौधरी, संजीव कुमार, पंकज कुमार, कन्हाई झा, नवीन कुमार चौधरी, रमण प्रसाद सिंह आदि मौजूद थे।

Share

Check Also

आम तोड़ने को लेकर दो पक्षों के बीच झड़प में युवक की हत्या के बाद स्थिति तनावपूर्ण।

देखिए वीडियो भी 👆 दरभंगा: जिले के पतोर ओपी क्षेत्र के सोभेपट्टी गांव में सोमवार की…