Home Featured घर से दो सौ मीटर की दूरी पर आम के बगीचे में फंदे से लटकी मिली महिला की लाश।
June 10, 2020

घर से दो सौ मीटर की दूरी पर आम के बगीचे में फंदे से लटकी मिली महिला की लाश।

देखिये वीडियो भी।

देखिये वीडियो भी👆

दरभंगा: बुधवार की सुबह जिले के पतोर ओपी क्षेत्र के उघरा गांव में उस समय सनसनी मच गयी कब एक बगीचे में पेड़ से फंदे में झूलती एक महिला की लाश मिली। देखते ही देखते खबर जंगल मे आग की तरह फैल गयी। बाद में महिला के परिजनों ने लाश को पेड़ से उतारा और पुलिस को इसकी सूचना दी गयी। पुलिस ने लाश को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम केलिए भेज दिया और छानबीन शुरू कर दी। प्रारम्भिक तौर पर मामला आत्महत्या का बताया जा रहा है।
इस संबंध में प्राप्त जानकारी के अनुसार पतोर ओपी थाना क्षेत्र के उघरा गांव में एक महिला की लाश घर करीब दो सौ मीटर की दूरी पर भूतही गाछी में अहले सुबह आम के पेड़ पर फंदे से झूलती मिली। महिला की पहचान उघरा गांव के कूजरटोली निवासी मोहम्मद हामिद की 35 वर्षीय पत्नी जामिला खातून के रूप में हुई। मृतका के चार बच्चे हैं जिनमें तीन पुत्र और एक पुत्री है। पुत्री का विवाह हो चुका है।
घटना की सूचना मिलते ही पतोर ओपी की पुलिस मौके पर पहुंची और शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए डीएमसीएच भेज दिया।
परिजनों एवं स्थानीय ग्रामीणों के अनुसार जमीला द्वारा आत्महत्या करने की बात सामने आयी है।आत्महत्या के कारणों के बारे में मृतका के पति ने बताया कि वह मानसिक रूप से विक्षिप्त थी, तत्काल इलाज दरभंगा में चल रहा था, लेकिन कल उसे इलाज के लिए दिल्ली ले जानेवाल थे। लेकिन आज सुबह सूचना मिली की एक महिला की लाश गाछी में लटकी हुई है, जब जाकर देखा तो वह उनकी पत्नी थी।
वहीं इस घटना के बारे में जानकारी देते हुए उघरा पंचायत के पूर्व मुखिया नारायण जी झा ने बताया कि यह बीमार थी इसका इलाज दिल्ली में चल रहा था। लॉक डॉउन के कारण दिल्ली नहीं जा पा रहे थे। दरभंगा में एक निजी चिकित्सक के यहां इलाज चल रहा था। इलाज के कारण मानसिक रूप से बीमार भी रहा करती थी। इसीलिए रात में जाकर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।
मौके पर वहां के लोगों ने भी बताया कि महिला मानसिक रूप से बिमार रहा करती थी, रात रात भर जगे हुए रहती थी। वहीं मौके पर उघरा पंचायत के मुखिया पति सुदिष्ट चंद्र झा, सरपंच पति शिवचंद्र झा, पुर्व मुखिया नारायण जी झा, ग्रामीण मुजेबुल रहमान, संतोष मंडल, कामेश्वर पासवान आदि मौजूद थे।

Share

Check Also

ज्योति की मौत मामले में न्याय की मांग को लेकर कई संगठनों ने किया प्रदर्शन।

दरभंगा: पतोर ओपी कांड में नाबालिग ज्योति की मौत और डीएमसीएच में गलत खून चढ़ाने से गंगा देव…