Home Featured एजेंसी को फंड की कमी होने के कारण कार्य की गति धीमी, सीएम ने की उड्डयन मंत्री से बात।
3 weeks ago

एजेंसी को फंड की कमी होने के कारण कार्य की गति धीमी, सीएम ने की उड्डयन मंत्री से बात।

देखिये वीडियो भी।

देखिये वीडियो भी👆

दरभंगा: बुधवार को बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा दरभंगा जिला के केवटी रनवे एयरफोर्स स्टेशन में निर्माणाधीन सिविल एयर स्ट्रिप / हवाई पट्टी एवं हवाई अड्डा टर्मिनल का निरीक्षण किया गया। इस अवसर पर उनके साथ राज्य के जल संसाधन मंत्री संजय कुमार झा भी मौजूद थे।
निरीक्षण के दौरान मौके पर उपस्थित भारतीय हवाई अड्डा प्राधिकरण के डीजीएम को दरभंगा हवाई अड्डा के हवाई पट्टी एवं टर्मिनल भवन के बचे हुए कार्य को तीव्र गति से पूरा करने का निर्देश दिया गया।
मुख्यमंत्री ने कहा है कि दरभंगा का हवाई अड्डा एक अत्यंत महत्वपूर्ण प्रोजेक्ट है। इसके चालू हो जाने पर दरभंगा सहित पुरे उत्तर बिहार के लोंगो के लिये हवाई यात्रा करने में सहूलियतें होगी। इस हवाई अड्डा के चालू हो जाने पर पुरे उत्तर बिहार में नए व्यवसाय के स्कोप बढ़ेंगे और इस इलाके में आर्थिक गतिविधियों में भी बढ़ोतरी होगी।
इस दौरान मौजूद दरभंगा के जिलाधिकारी को दरभंगा हवाई अड्डा के निर्माण कार्य का नियमित अनुश्रवण करते रहने एवं जो भी कार्य आवश्यक है इसको तेज़ी से पूरा करा लेने का निर्देश दिया गया।
मुख्यमंत्री द्वारा दरभंगा में निर्माणाधीन हवाई अड्डा के निरीक्षण के क्रम में एयरपोर्ट ऑथोरिटी के डीजीएम द्वारा संबंधित एजेंसी को फंड की समस्या होने के कारण कार्य की गति धीमी होने की ओर मुख्यमंत्री का ध्यान आकृष्ट किया गया। इसपर मुख्यमंत्री द्वारा तत्क्षण भारत सरकार के नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पूरी से दूरभाष पर वार्ता कर फंड की समस्या का तत्काल हल निकालने का अनुरोध किया गया। साथ ही दरभंगा हवाई अड्डा परियोजना के अत्यधिक महत्व को देखते हुए भारतीय हवाई अड्डा प्राधिकरण के चेयरमैन से बातें करके फंड की समस्या को दूर करने के साथ साथ अन्य सभी वाधाओं का भी शीघ्र समाधान करने का आग्रह किया गया।
हवाई अड्डा प्राधिकरण के डीजीएम द्वारा बताया गया कि हवाई पट्टी का 55 % निर्माण कार्य पूरा हो गया है। मुख्य मंत्री ने हवाई पट्टी के बचे हुए कार्य को शीघ्र पूरा करने का निर्देश दिया गया। इसके साथ ही टैक्सी ट्रैक को चौड़ा करने एवं टर्मिनल भवन के निर्माण कार्य को भी तेज़ी से पूरा करने का निर्देश दिया गया है.
वही टर्मिनल भवन को एनएच 527 B से जोड़ने के लिये अलग रास्ता बनाने एवं इसके आगमन एवं निकास मार्ग गेट नंबर 1 से करने का सुझाव दिया गया ताकि एयर फ़ोर्स एवं एयर पोर्ट दरभंगा का रास्ता अलग अलग रहे।
मुख्य मंत्री द्वारा एयर फ़ोर्स एवं एयर पोर्ट के रास्ते को अलग अलग रखने की दोनों व्यवस्था के बीच एक पार्टीशन बनाने के लिये विचार करने को कहा गया।
निरीक्षण के दौरान बिहार सरकार के मुख्य सचिव दीपक कुमार, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव चंचल कुमार, सचिव मनीष कुमार वर्मा, सूचना एवं जन सम्पर्क विभाग के सचिव अनुपम कुमार, विशेष कार्य पदाधिकारी गोपाल सिंह, सहित जिलाधिकारी दरभंगा डॉ त्यागराजन एस.एम. पुलिस अधीक्षक बाबू राम, सीटी एसपी योगेंद्र कुमार, हवाई अड्डा प्राधिकरण के डीजीएम, वायु सेना के अधिकारी, डीडीसी कारी महतो, एडीएम विभूति रंजन चौधरी, डीएलओ अजय कुमार, एनडीसी संस्कार रंजन एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

Share

Check Also

आम तोड़ने को लेकर दो पक्षों के बीच झड़प में युवक की हत्या के बाद स्थिति तनावपूर्ण।

देखिए वीडियो भी 👆 दरभंगा: जिले के पतोर ओपी क्षेत्र के सोभेपट्टी गांव में सोमवार की…