Home Featured दरभंगा संग्रहालय की दुर्लभ कलाकृतियों को पटना ले जाने के विरोध में सभा आयोजित।
June 25, 2022

दरभंगा संग्रहालय की दुर्लभ कलाकृतियों को पटना ले जाने के विरोध में सभा आयोजित।

दरभंगा: मैथिली साहित्य परिषद् दरभंगा के प्रांगण में मैथिली लोक संस्कृति‌ मंच के तत्वावधान में डॉ० टुनटुन झा की अध्यक्षता में प्रतिरोध सभा का आयोजन किया गया।

सभा के दौरान बिहार के पूर्व डीजी होमगार्ड आरके मिश्रा ने कहा कि दरभंगा संग्रहालय की दुर्लभ कलाकृतियां पटना ले जाने का काम एनडीए सरकार कर रही है, जो अनुचित है। जिनको देखना है वो दरभंगा आ कर देखें।यहां से जाने नहीं दिया जाएगा।

आगे मैथिली लोक संस्कृति‌ मंच के महासचिव प्रोफेसर उदय शंकर मिश्रा ने कहा कि महाकवि विद्यापति एवं महेश ठाकुर की दुर्लभ पांडुलिपियां कामेश्वर सिंह दरभंगा संस्कृत विश्वविद्यालय से चोरी हुआ, आचार्य किशोर कुणाल कुलपति के समय में, चोर पकड़वाने के लिए कुलपति कुणाल ने सीबीआई जांच की अनुशंसा नहीं की। हमारी सर्वश्रेष्ठ पाण्डुलिपियां आज तक नहीं मिला, इसके लिए कुणाल ही असल गुणहगार हैं क्योंकि उन्होंने कोई प्रयास नहीं किया।

आगे प्रोफेसर श्री मिश्र ने कहा कि अब संग्रहालय दरभंगा की दुर्लभ कलाकृतियां पटना ले जाने वाले सरकारी महकमों का जमकर विरोध किया जाएगा और जाने नहीं दिया जाएगा।

Advertisement

इस अवसर पर डॉ० विद्यानाथ झा, नारायणजी झा, डॉ० उमेश झा, डॉ० राजकिशोर झा, बासुकीनाथ झा, आदित्यनाथ चौधरी, कौशल कुमार, राजेश चौधरी, भारद्वाज, देवेन्द्र नाथ मिश्र, प्रो० चन्द्रशेखर झा बुढ़ा भाई, आदि ने मिलकर सरकार के मिथिला विरोधी निति की निंदा की और सबों ने एक स्वर में प्रण लिया कि संग्रहालय दरभंगा के किसी समान को छूने की कोशिश किया गया तो जोरदार आंदोलन किया जाएगा।

Share

Check Also

डीएसपी ने विश्वविद्यालय थानाध्यक्ष से मांगी दो भूमाफियाओं की जानकारी।

दरभंगा: दरभंगा शहर भूमाफियाओं के चंगुल में पूरी तरह जकड़ा हुआ है। जगह जगह तालाब भरकर बेच दि…