Home Featured दुबारा बाढ़ आने पर यदि तटबन्ध टूटा तो किसी को नही जाएगा बख्शा: डीएम।
August 16, 2019

दुबारा बाढ़ आने पर यदि तटबन्ध टूटा तो किसी को नही जाएगा बख्शा: डीएम।

दरभंगा: जिले में यदि दोबारा बाढ़ आती है और बाढ़ से तटबंध टूटता है तो किसी को बख्शा नहीं जाएगा। अभियंताओं के विरूद्ध आपदा विभाग नियमों के तहत प्राथमिकी दर्ज कर कठोर कार्रवाई की जाएगी। यह बातें जिलाधिकारी डॉ. त्यागराजन एसएम ने कहीं। वे शुक्रवार को अपने कार्यालय प्रकोष्ठ में आयोजित तटबंध एवं सड़क मरम्मति कार्य की समीक्षा बैठक को संबोधित कर रहे थे। कहा कि इस बार ़फ्लैश फ्लड के कारण जिन तटबंधों में कटाव हुआ हैं, उन सभी कटाव स्थलों की शीघ्र मरम्मति कराएं। मरम्मति कार्य में विभागीय मानकों का शत-प्रतिशत अनुपालन सुनिश्चित किया जाना चाहिए। कहा कि कार्यपालक अभियंता संपूर्ण निर्माण कार्य का स्वयं नियमित अनुश्रवण करें। कहा कि जमींदारी बांधों की मरम्मति भी जल संसाधन विभाग द्वारा ही कराई जानी है। इसमें कोई संशय की स्थिति नहीं होनी चाहिए। जिला के सभी पथ प्रमंडल एवं ग्रामीण कार्य प्रमंडलों के कार्यपालक अभियंता को निर्देश दिया गया कि बाढ़ से क्षतिग्रस्त सभी पथों की मरम्मति तेजी से कराई जाए, ताकि बाढ़ प्रभवित क्षेत्रों में आवागमन जल्द सामान्य हो सके। पथ प्रमंडल एवं ग्रामीण कार्य प्रमंडलों के कार्यपालक अभियंता की ओर से जानकारी दी गई कि क्षतिग्रस्त पथों की मरम्मति कार्य तेजी से किया जा रहा है। ग्रामीण कार्य प्रमंडल बेनीपुर के कार्यपालक अभियंता ने बताया कि 15 पथों की मरम्मति करा दी गई हैं और उस पर आवागमन चालू हो गया है। जिलाधिकारी ने सभी कार्यपालक अभियंताओं को मरम्मति किए गए पथों का प्रतिवेदन फोटो के साथ जिला आपदा शाखा को उपलब्ध कराने का निर्देश दिया है। कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में हैंड पंप के द्वारा लोगों को शुद्ध पीने का पानी उपलब्ध कराने की योजना पर लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण विभाग द्वारा कार्य किया जा रहा है। इसके तहत वर्तमान में मौजूद चापाकलों और अतिरिक्त जरूरत का सर्वेक्षण बीडीओ द्वारा कराया गया है। जिलाधिकारी ने कार्यपालक अभियंता पीएचईडी को बीडीओ द्वारा प्रस्तुत सर्वेक्षण प्रतिवेदन का फिर से देख लेने का निर्देश दिया। बैठक में नगर आयुक्त घनश्याम मीणा, सहायक समाहर्ता विनोद दूहन, डीडीसी डॉ. कारी प्रसाद महतो, जिला आपदा प्रभारी पुष्पेश कुमार एवं संबंधित सभी कार्यपालक अभियंता आदि मौजूद थे।

Share

Leave a Reply

Check Also

बारहवीं बोर्ड के नतीजों में फिर ओमेगा स्टडी सेंटर का लहराया परचम।

दरभंगा: शहर के मिर्जापुर स्थित मिथिलांचल क्षेत्र के जाने माने कोचिंग संस्थान ओमेगा स्टडी स…