Home Featured वॉयस ऑफ दरभंगा के संपादक के नवनिर्मित मकान सह कार्यालय परिसर से मोटर चोरी।
January 18, 2020

वॉयस ऑफ दरभंगा के संपादक के नवनिर्मित मकान सह कार्यालय परिसर से मोटर चोरी।

दरभंगा: दरभंगा में पुलिस शराब एवं हेलमेट के पीछे कुछ इस कदर पड़ी है कि शायद इससे इतर चोरी की बढ़ रही घटनाओं को रोकने में सक्षम नही हो पा रही है। शुक्रवार की रात चोरों ने बहादुरपुर स्थित चर्चित वेब पोर्टल वॉयस ऑफ दरभंगा के संपादक अभिषेक कुमार के नवनिर्मित मकान सह कार्यालय परिसर से चापाकल में लगे पानी के मोटर को ही गायब कर दिया।
इस संबंध में जानकारी देते हुए हुए श्री कुमार ने बताया कि विगत करीब एक साल से निर्माणाधीन काल से ही मकान के आवास के बाहरी परिसर में गड़े चापाकल में मोटर लगा था। परंतु करीब चार दिन पहले अंदर कैम्पस में चापाकल गड़ाने के बाद दो दिन पहले ही मोटर को कैम्पस के अंदर वाले चापाकल में लगाया गया। एक साल से बाहर रहने पर मोटर चोरी नही हुआ। परंतु दो दिन पहले अंदर कैम्पस में लगाने पर चोरी हो गया। मकान पूरी तरह से फिनिशिंग नही होने के कारण रात्रि के समय उस मकान में कोई नही रहता था। परिस्थिति को देखकर लग रहा था कि चोर रात के बारह-एक बजे के बाद दीवाल पूरब में गाछी की तरफ से दीवाल फांद कर आया। गत रात्रि बारिश भी हुआ था और दीवार पर कीचड़ के साथ पैरों के निशान बने थे। स्थानीय लोगों ने बताया कि पुलिस की गश्ती इधर नही होती और इस इलाके में निर्माणाधीन मकानों के कारण निर्माण सामग्रियों की चोरी भी होती रहती है। पुलिस की गश्ती केवल मुख्य सड़क की ओर होती है।
अभिषेक कुमार ने बताया कि उन्होंने बहादुरपुर थानाध्यक्ष अखिलेश कुमार को टेलीफोनिक सूचना दी। थानाध्यक्ष ने पूरा सहयोग करने का आश्वासन दिया। साथ ही थानाध्यक्ष ने दावा किया कि उक्त इलाके में पुलिस की नियमित गश्ती होती है। फिर भी चौकसी बढ़ायी जाएगी।
बताते चलें कि पुलिस की गश्ती मुख्य सड़क पर होने की शिकायत पर वरीय अधिकारी इसकी जांच पुलिस जीप में लगे जीपीएस ट्रैकिंग से भी कर सकते हैं। चोरी की बढ़ती घटनाओं के बीच चौकीदारों के सजगता एवं गश्ती दल के भ्रमण की निगरानी भी वरीय अधिकारियों द्वारा किये जाने पर निश्चित रूप से चोरों में दहशत और आमलोगों में विश्वास का माहौल बन सकता है।
पीड़ित वॉयस ऑफ दरभंगा के संपादक अभिषेक कुमार ने बताया कि पूरी तरह मकान फिनिश नही होने के कारण सीसीटीवी भी नही लगवाया था। परंतु चोरों की तत्परता देख अब लगता है हर व्यक्ति को अपने घर के हर कोने पर सीसीटीवी से खुद निगरानी करनी पड़ेगी।

Share

लॉकडाउन में अब नए रोल में दिखी पुलिस, भूखों को भोजन करवाने की उठा रही जिम्मेवारी।

जिला विधिक सेवा प्राधिकार द्वारा जरूरतमंदों केलिए प्रतिदिन उपलब्ध करवाया जा रहा है भोजन।

विदेश से लौटे लोगों की हो रही ट्रैकिंग, सूचनाओं के सम्प्रेषण केलिए नियंत्रण कक्ष स्थापित।

बाहर से आने वाले लोगों के ठहरने, खाने-पीने व मेडिकल चेकअप की व्यवस्था पर डीएम खुद रख रहे हैं नजर।

लॉकडाउन में सोशल डिस्टेंसिंग के साथ होगी फसल कटाई, खुलेगी कृषि यंत्रों की भी दुकान।

पांच दिनों में 655 वाहनो से वसूला गया पाँच लाख का जुर्माना, कई पर प्राथमिकी भी दर्ज।

1 Comment

Leave a Reply

Check Also

लॉकडाउन में अब नए रोल में दिखी पुलिस, भूखों को भोजन करवाने की उठा रही जिम्मेवारी।

देखिये वीडियो भी👆 दरभंगा: देश में कोरोना वायरस की वजह से 21 दिनों के लिए सबकुछ बंद…