Home Featured उपलब्धियों की फेहरिस्त में फिर जुड़ा ओमेगा का नाम, जेईई मेन्स में चार छात्रों ने हासिल किया 99 पर्सेंटाइल।
January 18, 2020

उपलब्धियों की फेहरिस्त में फिर जुड़ा ओमेगा का नाम, जेईई मेन्स में चार छात्रों ने हासिल किया 99 पर्सेंटाइल।

देखिये वीडियो भी।

देखिये वीडियो भी👆
दरभंगा: उपलब्धियों के फेहरिस्त में नाम को जोड़ते रहना अब शहर के मिर्जापुर स्थित ओमेगा स्टडी सेंटर केलिए कोई नयी बात नही रह गयी लगती है। कुछ साल पहले तक दरभंगा या मिथिलांचल में रहकर जिन परीक्षाओं में परिणाम देने के विषय मे सोचना सपना जैसा लगता था, अब लगातार साकार होता जा रहा है। इसमें सबसे बड़ा योगदान ओमेगा स्टडी सेंटर का रहा है क्योंकि यह संस्था अब केवल परिणाम ही नही, बल्कि सर्वोत्तम परिणाम देने केलिए जाना जाता है।
इसी कड़ी में शुक्रवार की रात जेईई मेंस का परिणाम आते ही ओमेगा स्टडी सेंटर के छात्रों ने उम्मीद से बेहतर प्रदर्शन कर एकबार फिर कामयाबी का परचम लहराया। कोचिंग सेंटर के बच्चों ने कड़ी मेहनत करके 99 से अधिक परसेंटाइल हासिल किया है। मिर्जापुर ओमेगा स्टडी सेंटर के 4 बच्चों ने 99 से अधिक परसेंटाइल हासिल किया है। सफल बच्चों का कहना है कि जेईई मेंस के बेहतरीन रिजल्ट के लिए ओमेगा दरभंगा एक सर्वोत्तम विकल्प है।शुक्रवार देर रात जेईई मेंस का रिजल्ट वेबसाइट पर प्रकाशित हुआ। इस अवसर शनिवार को संस्थान परिसर में एक कार्यक्रम आयोजन किया गया। जश्न भरे माहौल में सभी एक दूसरे को मिठाई खिलाते हुए बधाई देने लगे। वहीं 99.49 परसेंटाइल लाने वाले संस्था के छात्र राजीव रंजन ने इस रिजल्ट का श्रेय स्टडी सेंटर और अपने माता-पिता को दिया। उन्होंने कहा कि शिक्षकों के सटीक मार्गदर्शन के साथ-साथ संस्था के एमडी सुमित कुमार चौबे ने चौबीस घन्टे रहकर व्यक्तिगत तौर पर हमारा मनोबल बढ़ाया।
वहीं संस्था के निदेशक सुमन कुमार ठाकुर ने बताया कि संस्था के चार बच्चों ने 99 से अधिक परसेंटाइल हासिल किया है। ऐसा कर इन छात्रों ने पूरे बिहार में संस्था की विश्वसनीयता स्थापित की है। उन्होंने बताया कि संस्था के कुल 57 बच्चों का चयन एडवांस के लिए हुआ है. उन्होंने कहा कि संस्था के 27 छात्रों ने जेई मेंस की परीक्षा में 95 से अधिक परसेंटाइल लाकर संस्थान के साथ अपने माता-पिता का नाम रौशन किया।

Share

लॉकडाउन में अब नए रोल में दिखी पुलिस, भूखों को भोजन करवाने की उठा रही जिम्मेवारी।

जिला विधिक सेवा प्राधिकार द्वारा जरूरतमंदों केलिए प्रतिदिन उपलब्ध करवाया जा रहा है भोजन।

विदेश से लौटे लोगों की हो रही ट्रैकिंग, सूचनाओं के सम्प्रेषण केलिए नियंत्रण कक्ष स्थापित।

बाहर से आने वाले लोगों के ठहरने, खाने-पीने व मेडिकल चेकअप की व्यवस्था पर डीएम खुद रख रहे हैं नजर।

लॉकडाउन में सोशल डिस्टेंसिंग के साथ होगी फसल कटाई, खुलेगी कृषि यंत्रों की भी दुकान।

पांच दिनों में 655 वाहनो से वसूला गया पाँच लाख का जुर्माना, कई पर प्राथमिकी भी दर्ज।

1 Comment

Leave a Reply

Check Also

लॉकडाउन में अब नए रोल में दिखी पुलिस, भूखों को भोजन करवाने की उठा रही जिम्मेवारी।

देखिये वीडियो भी👆 दरभंगा: देश में कोरोना वायरस की वजह से 21 दिनों के लिए सबकुछ बंद…