Home Featured बाहर से आने वाले लोगों के ठहरने, खाने-पीने व मेडिकल चेकअप की व्यवस्था पर डीएम खुद रख रहे हैं नजर।
March 30, 2020

बाहर से आने वाले लोगों के ठहरने, खाने-पीने व मेडिकल चेकअप की व्यवस्था पर डीएम खुद रख रहे हैं नजर।

देखिये वीडियो भी।

देखिये वीडियो भी👆

दरभंगा: कोविड -19 को फैलने से रोकने के लिए देशभर में लॉकडाउन है। लेकिन इसी बीच राज्य के बाहर रह रहे बड़ी संख्या में मजदूर एवं अन्य लोग अपने घर से निकलकर सड़क पर आ गये। वे किसी तरह अपने घर पहुंचने की जद्दोजहद में लगे हैं। दरभंगा जिले में रविवार से ही अप्रवासी मजदूरों का आना जारी है।

ऐसे लोगों के लिए दरभंगा जिला प्रशासन की ओर से ठहरने, खाने-पीने व मेडिकल चेकअप की समुचित व्यवस्था की गयी है। रविवार की देर रात पूर्णिया के रास्ते दरभंगा आये लोगों को एमएलएमएस कॉलेज के आपदा केन्द्र में ठहराकर उन्हें भोजन-पानी उपलब्ध कराया गया। सोमवार को पूर्वाह्न में उन्हें गाड़ी में बिठाकर उनके गृह प्रखंड भेज दिया गया है। प्रखंड मुख्यालय में इन लोगों का मेडिकल चेकअप करके उन्हें उनके गांव के स्कूल भवन, पंचायत भवन में क्वारंटाइन किया जा रहा है। क्वारंटाइन भवन में वे लोग 14 दिनों तक रखे जाएंगे। इस बीच उनके स्वास्थ्य का बराबर ऑब्ज़र्वेशन किया जायेगा। कोरोना के कोई लक्षण नहीं पाये जाने पर उन्हें अपने-अपने घर जाने दिया जायेगा। अब तक प्राप्त सूचनानुसार बेनीपुर, बहेड़ी, अलीनगर, घनश्यामपुर व बिरौल प्रखडों में अप्रवासी मजदूर भेजे गये हैं। डीएम डॉ. त्यागराजन एसएम ने सभी एसडीओ, बीडीओ, सीओ व प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी को राज्य के बाहर से लौटे सभी सभी अप्रवासी मजदूरों को 14 दिनों तक पंचायत, गांव के स्कूल, पंचायत भवन में क्वारंटाइन करने का निर्देश दिया है। क्वारंटाइन भवन में सभी बुनियादी सुविधाएं भी सुनिश्चित कराने को कहा गया है। उन्होंने कहा है कि सभी मुखिया को पंचायत निधि का उपयोग इन कार्यों में करने का निर्देश जारी किया गया है। इसी क्रम में डीएम ने सोमवार को एमएलएसएम कॉलेज भवन में स्थित कोविड- 19 आपदा केन्द्र का निरीक्षण किया। डीएम ने यहां प्रदान की जा रही सुविधाओं का जायजा लिया। उन्होंने यहां लॉकडाउन से प्रभावित पहले से रह रहे लोगों एवं अभी राज्य के बाहर से आ रहे अप्रवासी मजदूरों को दो अलग-अलग हिस्सों में रखने की व्यवस्था सुनिश्चित करने को कहा है। जिला मुख्यालय में लौटे अप्रवासी मजदूरों को वाहन से उनके गृह प्रखडों में भेजा रहा रहा है। एमएलएसएम आपदा केन्द्र के निरीक्षण के वक्त डीडीसी डॉ. कारी महतो, डीटीओ रवि कुमार, डीपीओ संजय देव कन्हैया, सीओ सदर, सभी चिकित्सक व पदाधिकारी थे।

Share

बीडीओ ने कहा- बड़े घपले की जांच रोकने केलिए बनाया गया स्थानीय राजनीति का शिकार।

सिंहवाड़ा में फिर बेलगाम हुए अधिकारी, युवकों को अमानवीय सजा के बाद अब प्रवासियों की हुई पिटाई!

एनएच पर गुजरने वाले प्रवासियों को खुद के बनाये मास्क के साथ नाश्ता-पानी भी उपलब्ध करवा रही हैं मेयर।

ज्योति को शिक्षा विभाग द्वारा नयी साईकिल के साथ प्रदान की गयी अध्यन सामग्री।

9 नये मामलों के साथ दरभंगा में कोरोना पॉजिटिवों की संख्या पहुंची 39, सभी पहले से थे क्वारेंटाइन में।

देशी दारू के मिनी फैक्ट्री को पुलिस ने किया ध्वस्त, पांच को किया गया नामजद।

Check Also

ओमेगा में आईआईटी एवं मेडिकल के फाउंडेशन और टारगेट कोर्स केलिए नए बैच में नामांकन प्रारंभ।

दरभंगा: देशव्यापी लॉक डाउन के चौथे चरण को देखते हुए दरभंगा शहर के मिर्जापुर अवस्थित ओमेगा …