Home Featured कोरोना पर नियंत्रण केलिए किये जा रहे प्रयासों पर राजनीतिक दलों से लिया गया फीडबैक।
April 6, 2020

कोरोना पर नियंत्रण केलिए किये जा रहे प्रयासों पर राजनीतिक दलों से लिया गया फीडबैक।

दरभंगा: वैश्विक कोरोना महामारी को फैलने से रोकने केलिए सरकार के निर्देश जिला प्रशासन द्वारा युद्ध स्तर पर अभियान छेड़ रखा गया है। जिला स्तर सहित अनुमंडल एवं प्रखंड स्तर पर विभिन्न कोषांग क्रियाशील रहकर आवश्यक कार्यों को अंजाम तक पहुंचाने में लगे हुए है। सभी राजनितिक दल इस पर एकमत थे कि देश में लॉक डाउन लागू होने के बाद प्रशासन के सामने सबसे बड़ी चुनौती आवश्यक वस्तुओं की आपूर्त्ति एवं बिक्री पर नियंत्रण रखने, कालाबाजारियों पर अंकुश लगाने एवं अनिवार्य सेवाओं को सुगम बनाये रखना था जिसे जिलाधिकारी के कुशल नेतृत्व में प्रशासन ने सफलता पूर्वक अंजाम तक पहुंचाया गया है।

जिलाधिकारी द्वारा बताया गया कि दुनिया के विभिन्न देशो में कोरोना वायरस का प्रकोप बढ़ने से विदेश में रह रहे यहां के लोग अपने घर आ गये है। साथ ही राज्य के बाहर रह रहे अप्रवासी मजदूर एवं अन्य लोग भी यहाँ आ गये है। विदेश यात्रा कर लौटे सभी लोगों को होम क्वारंटाइन किया गया है। वहीं पिछले दिनों राज्य के बाहर फंसे जो लोग जिला में आ गये है, उन्हें उनके गांव/पंचायत में ही क्वारंटाइन किया गया है। उन्हें हर तरह की बुनियादी सुविधाएँ सरकारी स्तर पर उपलब्ध कराई जा रही है।
बताते चलें कि लॉक डाउन अवधि में जिले में बाजार पर नियंत्रण, खाद्यान्न का वितरण, अप्रवासी मजदूरों के लिए क्वारंटाइन केन्द्र का संचालन आदि के संदर्भ में जिला पदाधिकारी द्वारा सोमवार को विभिन्न राजनीतिक दलों के जिला प्रतिनिधियों के साथ एक बैठक कर उनकी प्रतिक्रिया ली गयी।
बैठक में लगभग सभी राजनीतिक दलों के द्वारा कोरोना महामारी पर नियंत्रण हेतु जिला पदाधिकारी के नेतृत्व में किये जा रहे कार्यों की प्रशंसा की। इसके साथ ही इनलोगों द्वारा कुछ कमजोर कड़ी की ओर भी जिलाधिकारी का ध्यान आकृष्ट किया गया।
जदयू के जिलाध्यक्ष अजय चौधरी ने ग्रामीण क्षेत्रों में साफ-सफाई की भारी कमी एवं फसल कटनी के लिए आवश्यक कृषि उपकरणों की बिक्री में कालाबाजारी होने की ओर ध्यान आकृष्ट कराया गया। राकांपा के शैलेन्द्र मोहन झा द्वारा शहर के गलियों में सोशल डिस्टेसिंग नियम का नहीं पालन होने एवं बड़ी संख्या में पात्र उपभोक्तओं के पास राशन कार्ड उपलब्ध नहीं होने के बारे में बताया गया। राजद के प्रतिनिधि राम नरेश यादव, भाकपा के सचिव नारायणजी, कांग्रेस के अध्यक्ष सीताराम चौधरी, रालोसपा के राजीव कुमार कुशवाहा एवं माकपा के अविनाश कुमार, बसपा के प्रतिनिधि सुनील कुमार मंडल, भाजपा के प्रतिनिधि ज्योति कृष्ण झा आदि जनप्रतिनिधियों के द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में साफ-सफाई नहीं होने, गावों में मच्छरों का प्रकोप बढ़ने, पशु चारा की दिक्क़ते होने, फसल कटनी में मजदूरों की कमी एवं कृषि उपकरणों के सुलभ नहीं होने, एलपीजी वितरको द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में उपभोक्ताओं से ज्यादा पैसा वसूलने की बातें एवं राज्य के बाहर फंसे जिला के लोगों के कष्ट के बारे में विस्तार से बताया गया।
इसी क्रम में पीडीएस डीलरों के द्वारा खाद्यान्न के वितरण में अनियमितता किये जाने, फसल कटनी में लगे किसानों/मजदूरों को दिक्कते होने, स्वास्थ्य केन्द्रों में चिकित्सा की समुचित व्यवस्था नही होने से सामान्य रोगियों को भारी दिक्कते होने की भी बातें बताई गई। वहीं सभी जनप्रतिनिधियों ने गांव के स्कूलों/पंचायत भवनों में क्वारंटाइन किये गये अप्रवासी मजदूरों के द्वारा नियम का उल्लंघन किये जाने की बातें प्रमुखता से रखा ।
जिलाधिकारी द्वारा सभी जनप्रतिनिधियों को आश्वस्त किया गया कि इस बैठक में उनके द्वारा उठाये गये सभी बिन्दुओं पर प्राथमिकता के साथ शीघ्र कार्रवाई होगी। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी से लड़ाई में सभी लोगों के सहयोग की जरूरत है।
जिलाधिकारी ने बताया कि वीएचएसएनडी में सभी पंचायतों में राशि उपलब्ध है। इसके अलावा चतुर्थ/पंचम वित्त आयोग से प्राप्त अनुदान की राशि से भी ग्रामों में साफ-सफाई करने का निदेश दिया गया है। उन्होंने कहा कि अगले दो दिन सभी गांवो में स्वच्छता अभियान चलाया जायेगा। इसके तहत डी.डी.टी. का सघन छिड़काव, नाले की साफ-सफाई कराई जायेगी। इस अभियान से स्वच्छता के प्रति लोगों में जागरूकता आयेगी और वे स्वयं भी अपने परिवेश को स्वच्छ रखने के लिए प्रेरित होंगे।
इस बैठक में उप विकास आयुक्त डॉ. कारी प्रसाद महतो, उप निर्वाचन पदाधिकारी पुष्कर कुमार, जिला जन सम्पर्क पदाधिकारी सुशील कुमार शर्मा एवं विभिन्न राजनीतिक दलों के प्रतिनिधि शामल हुए। बैठक मे एन.सी.पी. के जिला अध्यक्ष शैलेन्द्र मोहन झा, सी.पी.आई के सचिव नारायण जी झा, जदयू के जिला अध्यक्ष अजय चौधरी, कॉग्रेस के जिलाध्यक्ष सीता राम चौधरी, राजद के जिलाध्यक्ष राम नरेश यादव, आर.एल.एस.पी. के जिला अध्यक्ष राजीव कुमार कुशवाहा, एल.जे.पी. के जिला अध्यक्ष गगन कुमार झा, बी.एस.पी. के जिला अध्यक्ष सुनील कुमार मण्डल, सी.पी.एम. के जिलाध्यक्ष अविनाश कुमार एवं भाजपा के जिला महामंत्री ज्योति कृष्ण झा आदि भी शामिल थे।

Share

68 दिनों बाद सोशल डिस्टेंसिंग के साथ कोर्ट में शुरू हुआ कार्य।

जनसंदेश कार्यक्रम में भाग लेने केलिए पदाधिकारियों एवं जनप्रतिनिधियों को डीएम ने दिया निर्देश।

बी एवं सी केटेगरी सिटी से आये प्रवासी कामगारों का दैनिक स्वास्थ्य परीक्षण कराने का निर्देश।

जेएनजे ने लॉन्च किया करेंसी एवं डाक्यूमेंट्स सेनेटाइजर, 3500 रुपये में आमलोगों केलिए होगा उपलब्ध।

लॉकडाउन में घर लौट रहे मजदूरों की दुर्घटना एवं भूख से हुई मौत की तय हो जिम्मेवारी: सीताराम चौधरी।

भाजपा युवामोर्चा की जिला कार्यसमिति गठित, घनश्याम कुमार और संगीत साह बने महामंत्री।

Check Also

ब्लड बैंक से जारी ब्लड के कारण हुई मरीज के मौत मामले की निष्पक्ष जाँच की मांग।

दरभंगा: डीएमसीएच के ब्लड बैंक में कथित रूप से गलत खून के कारण एक महिला मरीज की मौत को लेकर…