Home Featured नाबार्ड द्वारा आयोजित तीन दिवसीय बैंकर्स प्रशिक्षण कार्यक्रम का जिलाधिकारी ने किया उद्घाटन।
4 weeks ago

नाबार्ड द्वारा आयोजित तीन दिवसीय बैंकर्स प्रशिक्षण कार्यक्रम का जिलाधिकारी ने किया उद्घाटन।

देखिये वीडियो भी।

देखिये वीडियो भी👆

दरभंगा: नाबार्ड की ओर से 10 से 12 फरवरी तक आयोजित तीन दिवसीय बैंकर्स प्रशिक्षण कार्यक्रम का उद्घाटन बुधवार को डीएम डॉ0 त्यागराजन एसएम ने किया। उद्घाटन समारोह में डीडीसी तनय सुल्तानिया, एसडीसी बैंकिंग राहुल कुमार, भारतीय स्टेट बैंक के क्षेत्रीय प्रबन्धक राघवेंद्र कुमार, सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया के क्षेत्रीय प्रबन्धक प्रमोद सहस्त्रबुधे, पंजाब नेशनल बैंक के क्षेत्रीय प्रबन्धक मणि नाथ झा, जिला अग्रणी प्रबंधक अजय कुमार, उत्तर बिहार ग्रामीण बैंक के क्षेत्रीय प्रबन्धक रविंदर कुमार उपस्थित थे।
कार्यक्रम की शुरुआत में सभी विशिष्ट अतिथियों का स्वागत करते हुए नाबार्ड की जिला विकास प्रबंधक आकांक्षा ने इस तीन दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम की रूपरेखा के संबंध में विस्तार से चर्चा की। उन्होंने कहा कि इस प्रशिक्षण कार्यक्रम का उद्देश्य है कि बैंककर्मी में जागरूकता हो और उन्हें सभी बैंकिंग योजनाओं की अद्यतन जानकारी हो, ताकि ग्राहकों को उनके माध्यक से बेहतर सेवा मुहैया करायी जा सके।
जिलाधिकारी डॉ0 त्यागराजन एसएम ने इस प्रशिक्षण कार्यक्रम की सराहना करते हुए कहा कि वर्तमान समय में ग्राहक संतुष्टि एवं बेहतर ग्राहक सेवा ही एक अच्छे बैंक की पहचान होती है। ऐसे में विभिन्न योजनाओं की संपूर्ण जानकारी प्राप्त कर ही ग्राहकों को उत्कृष्ट सेवा प्रदान की जा सकती है। प्रशिक्षणार्थियों से यह अपेक्षा की जाती है कि इस तीन दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम में सकारात्मक सहभागिता के साथ अपना ज्ञानवर्धन करें एवं बेहतर बैंकिंग सेवा के आयाम बनें, ताकि जनता को बिना किसी अवरोध के बैंकिंग सेवा प्रदान की जाए तथा जिले के सीडी रेशियो (साख- जमा अनुपात) को सुधारा जा सके। डीडीसी तनय सुल्तानिया ने नाबार्ड की इस पहल को उत्कृष्ट पहल बताया और बैंकर्स को इसका अधिकतम उपयोग अपने क्रियाकलाप में करने को प्रेरित किया। उन्होंने कहा कि आज के समय में विकास के लिए ऋण की जरूरत है। उन्होंने बैंकों से अनुरोध किया कि योग्य लाभुकों को समय पर ऋण उपलब्ध कराएं, ताकि समाज का उत्थान हो सके।
जिला अग्रणी प्रबंधक अजय कुमार ने नाबार्ड द्वारा ग्रामीण विकास के क्षेत्र में किये जा रहे प्रयासों की सराहना की। इसके साथ ही उन्होंने इस बात पर विशेष बल दिया कि वर्तमान समय में बैंकों में ऋण प्रवाह को सुनिश्चित करने के लिए यह आवश्यक है कि बैंकों द्वारा प्राथमिकता क्षेत्र के ऋण वितरण में दिलचस्पी दिखायी जाए।
कार्यक्रम के दौरान सभी बैंकों के क्षेत्रीय प्रबन्धकों ने आश्वासन दिया कि उनके बैंकों द्वारा सभी सहयोग प्रदान किए जाएंगे, ताकि जिले के ऋण प्रवाह को बढ़ाया जा सके। उन्होंने सभी प्रतिभागियों से अच्छे से प्रशिक्षण लेने का अनुरोध किया, ताकि उनकी शाखाओं के प्रदर्शन को और भी सुधारा जा सके। जिले के सभी बैंकों के प्रभारियों ने यह आश्वस्त किया कि वो नाबार्ड और सभी सरकारी विभागों के सहयोग से प्राथमिकता प्राप्त क्षेत्र में ऋण प्रवाह को बढ़ाने का प्रयास करेंगे।
प्रतिभागियों में मुख्यत: दरभंगा जिले के भारतीय स्टेट बैंक, पंजाब नेशनल बैंक, सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया, उत्तर बिहार ग्रामीण बैंक तथा इंडियन ओवेरसीस बैंक की शाखाओं के शाखा प्रबन्धक शामिल थे।

Share

Check Also

दिवंगत शिक्षक की श्रद्धांजलि सभा उमड़ा जनसैलाब।

दरभंगा: रविवार को बहादुरपुर प्रखंड के फेकला चौक पर दिवंगत शिक्षक सह निजी शिक्षा संघ के सक्…