Home Featured क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक में जिलाधिकारी ने दिया 10 -12 दिनों के लॉकडाउन का सुझाव।
April 18, 2021

क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक में जिलाधिकारी ने दिया 10 -12 दिनों के लॉकडाउन का सुझाव।

देखिये वीडियो भी।

देखिये वीडियो भी👆

दरभंगा: रविवार को कोरोना के बढ़ते संक्रमण को लेकर क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की ऑनलाइन बैठक मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में आयोजित की गयी। इस बैठक में कोरोना के संक्रमण के रोकथाम के लिए उठाए जाने वाले कदम के लिए जिलाधिकारियों से फीडबैक लिया गया।
दरभंगा में एनआईसी स्थित वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग हॉल में बैठक में ऑनलाइन जुड़े जिलाधिकारी डॉ त्यागराजन एसएम ने फीडबैक देते हुए कहा कि दरभंगा में ऑक्सीजन गैस आपूर्ति का प्लांट है। इसलिए यहां पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन गैस उपलब्ध हैं। एक अप्रैल के बाद जिले में 381 कोरोना संक्रमित मिले हैं। अन्य राज्य से आने वाले लोगों का सर्वे कराया गया है। वैसे 359 गांव चिन्हित किए गए हैं, जहां कोरोना की जांच कराई जा रही है। आरटीपीसीआर जांच रिपोर्ट 24 से 36 घंटे के अंदर मिल जाती है। डीएमसीएच में ऑक्सीजन युक्त 120 बेड का आइसोलेशन वार्ड बनाया गया है। आइसीयू में 7 बेड उपलब्ध हैं। डेडीकेटेड कोविड हॉस्पिटल 200 बेड का परीक्षा भवन में बनाया गया है, जिनमें 100 बेड ऑक्सीजन युक्त है। जिले के 18 में से 14 प्रखंडों में कोविड केयर सेंटर बनाया गया है। जहां कुल 388 बेड उपलब्ध हैं जिनमें 119 ऑक्सीजन युक्त हैं। जिले के 16 प्रमुख निजी अस्पतालों को भी कोरोना संक्रमितों के इलाज के लिए डीएमसीएच से संबद्ध किया गया है। जिनमें 314 बेड ऑक्सीजन युक्त व 38 बेड वेंटीलेटर युक्त हैं। शहरी क्षेत्र के 36 वार्डों में कोरोना का संक्रमण है, जहां शिविर लगाकर टीकाकरण कराया जा रहा है।
जिलाधिकारी ने आकस्मिक, आवश्यक वस्तुओं एवं वाहनों को छोड़कर 10 से 12 दिनों के लिए लॉकडाउन लगाने का सुझाव दिया। ताकि कोरोना का चेन तोड़ा जा सके। उन्होंने माइक्रो कंटेनमेंट जोन के बदले कंटेनमेंट जोन बनाने की बात कही। कहा – दरभंगा बाढ़ प्रभावित जिला है और बाढ़ निरोधक कार्य एवं बाढ़ राहत कार्य में 18 वर्ष से ज्यादा उम्र के बहुत सारे कर्मी लगाए जाते हैं। उनका टीकाकरण किया जाना अपेक्षित है। जिले में 82 रेमडी शिविर उपलब्ध हैं।
उन्होंने सुझाव दिया कि कोरोना से मृतक के परिजनों को 4 लाख रुपये अनुदान में दिए जाते हैं लेकिन, कई परिजन अंत्येष्टि के लिए आगे नहीं आते हैं। अगर वैसे परिजनों को अनुदान की राशि पर प्रतिबंध लगाया जाए तो ऐसी घटना नहीं होगी। मुख्यमंत्री ने स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव को प्राप्त सुझाव के अनुसार व्यवस्था करने के निर्देश दिए और सभी जिलाधिकारी को कहा कि कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए ग्रामीण स्तर पर जागरूकता अभियान आवश्यक है। सभी लोग मास्क का प्रयोग करें, सामाजिक दूरी बनाकर रखें, अनावश्यक भीड़ ना लगावें। उन्होंने कहा कि विगत वर्ष की तरह पंचायती राज विभाग,बिहार एवं नगर एवं आवास विभाग,बिहार को सभी लोगों के बीच मास्क का वितरण के निर्देश दिए गए हैं। बैठक में दरभंगा से मिथिला क्षेत्र के पुलिस महानिरीक्षक अजिताभ कुमार, डीएमसीएच के अधीक्षक, डीएमसीएच के प्राचार्य, क्षेत्रीय अपर निदेशक, स्वास्थ्य सेवाएं, सिविल सर्जन, उप निदेशक जन संपर्क, पुलिस उपाधीक्षक नगर, डीपीएम विशाल कुमार, यूनिसेफ के ओंकारचंद्र आदि उपस्थित थे।

Share

Check Also

दरभंगा को प्राप्त हुआ कोवैक्सिन का 10 हजार टीका, ऑन द स्पॉट मिलेगा कोवैक्सिन का टीका।

दरभंगा: कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए बिहार में विशेष टीकाकरण अभियान चलाया जा रहा है। इस अ…