Home Featured संदेहास्पद स्थिति में इलाजरत विवाहिता की मौत, मायके वालों लगाया दहेज प्रताड़ना का आरोप।
June 17, 2021

संदेहास्पद स्थिति में इलाजरत विवाहिता की मौत, मायके वालों लगाया दहेज प्रताड़ना का आरोप।

देखिए वीडियो भी 👆

दरभंगा: गुरुवार को शहर के एक निजी अस्पताल में घायलावस्था में इलाज के लिए लाए गए एक बीस वर्षीय विवाहिता की मौत हो गयी। अस्पताल में लड़की व लड़के दोनों ही पक्षों के परिजन मौजूद थे।

मृतका के पिता ने जहां दामाद सहित बेटी के ससुराल वालों पर मारपीट व दहेज़ प्रताड़ना का आरोप लगाया, वहीं लड़के पक्ष ने इस तरह के आरोप से इंकार किया है। घटना की सूचना पाकर मौके पर लहेरियासराय थाने की पुलिस पहुंची व शिकायत दर्ज कर लाश को पोस्टमार्टम के लिए भेजा।

इधर जाले थानाक्षेत्र के निवासी मृतका के पिता फेकन यादव ने लड़के के परिजनों पर दहेज प्रताड़ना का आरोप लगाते हुए कहा कि 2 वर्ष पहले उनकी बेटी की शादी दरभंगा जिले के हायाघाट थाना क्षेत्र के नैयाम निवासी दिनेश राय के पुत्र रामजी राय से हुई थी। लड़के के परिजन अक्सर मोटरसाइकिल व रुपये पैसे की मांग करते थे और इसके लिए अक्सर उनकी बेटी के साथ मारपीट भी किया जाता था। दस दिन पूर्व भी मामूली बात को लेकर उनके दामाद और ससुराल वालों ने बुरी तरह मारा पीटा था। चाय उबालने में गिर जाने की मामूली सी बात पर थप्पड़, बेलन, डंडे आदि से बुरी तरह उनकी पुत्री को पीटा गया। किसी तरह वे अपने बेटी को अपने घर लेकर आ गए थे। उसका इलाज करवा रहे थे। स्थानीय चिकित्सक द्वारा रेफर करने के बाद वे बेटी को इलाज केलिए शहर के निजी अस्पताल में लाये थे। पर उसकी जान नही बच सकी और अंततः मौत हो गयी।

हालांकि लड़के के पिता दिनेश राय ने इस तरह के आरोपों को पूर्ण रूप से गलत बताते हुए कहा कि दहेज प्रताड़ना जैसी कोई बात ही नहीं है। उन्होंने कहा कि उनका दूध का कारोबार है। अक्सर दूध फट जाने के कारण किसान उन्हें तंग करते हैं, इसी को लेकर लगभग दस दिनों पहले पति-पत्नी में थोड़ी नोकझोंक हुई थी। हालांकि उन्होंने दो-तीन थप्पड़ मारे जाने की बात स्वीकार करते हुए किसी अन्य प्रकार की हिंसा से इनकार किया है। इस घटना के दो-तीन दिनों के बाद लड़की के पिता व भाई आकर लड़की को अपने साथ ले गए। लड़के के पिता ने कहा कि उस दिन तक लड़की अच्छी थी, खाती पीती थी। लेकिन मायके जाने के बाद उसके साथ क्या हुआ उसकी जानकारी उन्हें नही है।

फिलहाल पुलिस ने मामले की छानबीन शुरू कर दी है। घटना का असली कारण पोस्टमार्टम और पुलिस जांच के बाद ही सामने आ पायेगा एवं इस संदेहास्पद मौत से पर्दा उठ सकेगा।

Share

Check Also

दरभंगा को प्राप्त हुआ कोवैक्सिन का 10 हजार टीका, ऑन द स्पॉट मिलेगा कोवैक्सिन का टीका।

दरभंगा: कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए बिहार में विशेष टीकाकरण अभियान चलाया जा रहा है। इस अ…