Home Featured पूरी तरह बाढ़ की चपेट में आया कुशेश्वरस्थान, नाव ही बचा एकमात्र सहारा।
2 weeks ago

पूरी तरह बाढ़ की चपेट में आया कुशेश्वरस्थान, नाव ही बचा एकमात्र सहारा।

दरभंगा: जिले के कुशेश्वरस्थान इलाके में बाढ़ का पानी अब पूरी तरह से फैल गया है. गांव की सड़कों पर कई फ़ीट बाढ़ का पानी आ जाने के कारण सड़क यातायात पूरी तरह बंद है. ऐसे में गांव के लिए नाव ही एक मात्र सहारा है और लोग नाव से ही आने-जाने को मजबूर है. स्थिति यह है कि जहां सड़कों पर बाइक दौड़ती थी, वहां नाव चल रही है. सड़क किनारे का नजारा किसी बंदरगाह से कम नहीं दिखता है. यहां गाड़ी घोड़े की जगह सिर्फ नाव ही नाव दिखाई देती है.

बाढ़ के दौरान इलाक़े में सिर्फ नाव ही लोगों के काम आता है. चाहे आम लोग को यहां से वहां जाना हो या जरूरी खाने पीने के सामान हो. यहां तक कि पशु चारे की व्यवस्था भी करना हो, तो नाव ही सहारा है. यहां तक कि अपने पशु को भी सुरक्षित स्थान पर ले जाने के लिए बस एक नाव ही सहारा है.ग्रामीण राम प्रीत प्रसाद बताते है कि उनके गांव कुशेश्वरस्थान का हमेशा से यही हाल रहा है. बाढ़ के समय कई महीनों तक यहां पानी लगा रहता है. गांव की सभी सड़कें बाढ़ के पानी में डूब जाती है. किसी भी काम के लिए बस नाव ही सहारा है. उन्होंने बताया कि नाव से सफर करने में हमेशा जोखिम बना रहता है. कभी-कभी नाव हादसा के शिकार भी हो जाती है, लेकिन अब तक सरकार कुछ भी यहां मदद नहीं की है.

वहीं शिव नारायण यादव ने बताया कि घर से निकलते ही सीधे नाव पर ही पांव रखना होता है. बिना नाव कोई काम सम्भव नहीं है. नाव ही यहां जिंदगी का सहारा है, लेकिन सरकारी नाव की कमी के कारण निजी नाव से सफर करना पड़ता है और किराया मनमाना देना पड़ता है.

Share

Check Also

19 से 25 मनेगा संस्कृत सप्ताह, पांच विशिष्ट विद्वान होंगे सम्मानित, छात्र भी होंगे पुरस्कृत।

दरभंगा: संस्कृत विश्वविद्यालय में 19 से 25 अगस्त तक संस्कृत सप्ताह का आयोजन होगा। इस दौरान…