Home Featured स्वर्ण जयंती वर्ष पर उपलब्धियों की चर्चा के साथ आत्ममंथन की भी जरूरत: जीवेश मिश्रा।
2 days ago

स्वर्ण जयंती वर्ष पर उपलब्धियों की चर्चा के साथ आत्ममंथन की भी जरूरत: जीवेश मिश्रा।

दरभंगा: सरकार के श्रम संसाधन मंत्री जीवेश मिश्रा ने कहा कि मैं मिथिला विश्वविद्यालय का अभी भी शोधार्थी हूं। स्वर्ण जयंती वर्ष पर उपलब्धियों के बारे में चर्चा करने के साथ आत्ममंथन करने की भी जरूरत है। शिक्षा का भाव सेवा करना होना चाहिए। मैं लाइफटाइम एचीवमेंट प्राप्त करने वाले सभी लोगों को अपनी ओर से बधाई देता हूं। नगर विधायक संजय सरावगी ने कहा कि आज मिथिला विवि से पढ़ा हुआ छात्र देश-दुनिया में मिथिला का नाम रौशन कर रहे हैं। मिथिला विवि देश के टॉप 100 विश्वविद्यालयों में भी स्थान बना चुका है। लगातार तीन बार से सीईट-बीएड संयुक्त प्रवेश परीक्षा का सफल आयोजन कर रहा है। उन्होंने शिक्षा मंत्री से सीएम लॉ कॉलेज और दूरस्थ शिक्षा निदेशालय को चालू चलाने की मांग की। विधान पार्षद हरि सहनी ने कहा कि ललित बाबू के नाम पर मिथिला विवि का नाम होना ही अपने आप में बड़ी बात है। मिथिला विवि का नाम इसी प्रकार आगे बढ़ता रहे, मैं कामना करता हूं। पूर्व केंद्रीय मंत्री डॉ शकील अहमद ने मिथिला विवि की स्थापना में योगदान देने वाले सभी व्यक्तियों को श्रद्धांजलि दी।

Advertisement

अलीनगर विधायक मिश्रीलाल यादव ने कहा कि मैं शिक्षा मंत्री से दरभंगा जिले को बिहार की उप राजधानी बनाने की मांग करता हूं। बेनीपुर विधायक प्रो. विनय कुमार चौधरी ने कहा कि सरकार और शिक्षा मंत्री लगातार शिक्षा के क्षेत्र में बेहतक काम कर रहे हैं। उन्होंने मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना से डब्ल्यूआईटी को जोड़ने के लिए शिक्षा मंत्री को धन्यवाद दिया।

Share

Check Also

डीएसपी ने विश्वविद्यालय थानाध्यक्ष से मांगी दो भूमाफियाओं की जानकारी।

दरभंगा: दरभंगा शहर भूमाफियाओं के चंगुल में पूरी तरह जकड़ा हुआ है। जगह जगह तालाब भरकर बेच दि…