Home Featured संदिग्ध स्थिति में मिला पूर्व मुख्यमंत्री मांझी के हाउस गार्ड के पत्नी का शव, जांच में जुटी पुलिस।
August 13, 2022

संदिग्ध स्थिति में मिला पूर्व मुख्यमंत्री मांझी के हाउस गार्ड के पत्नी का शव, जांच में जुटी पुलिस।

देखिए वीडियो भी 👆

दरभंगा: शुक्रवार को सदर थाना क्षेत्र के पसनपुर मुहल्ला में पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी के हाउस गार्ड की पत्नी की संदिग्ध स्थिति में शव मिलने के बाद सनसनी फैल गई है। वहीं, घटना की सूचना मिलने के बाद पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और मामले की जांच में जुट गई है। दरअसल हाउस गार्ड की नौकरी के कारण मृतिका के पति विकास हमेशा परिवार से दूर रहते थे और उनका परिवार गांव में रहता था। अपने बच्चों की बेहतर भविष्य के लिए उन्होंने पांच माह पूर्व सदर थाना क्षेत्र के पासवान चौक स्थित पसनपुर मुहल्ला में किराए का मकान लेकर अपने परिवार को रख दिया और समय-समय पर विकास अपने परिवार से मिलने आते जाते रहते थे।

Advertisement

घटना के संबंध में बताया जा रहा है कि राखी के दोपहर तीन बजे मृतिका नेहा के दो भाई राखी बंधवाने उनके आवास पर पहुंचे और राखी बंधवा कर लौट गए। दोनों भाइयों के लौटने के बाद नेहा ने अपने कमरे का दरवाजा अंदर से बंद कर लिया। जब काफी देर तक नेहा कमरे से बाहर नहीं निकली तो, दूसरे कमरे में सो रही नेहा की सास और ननद को शक हुआ कि आखिर नेहा बाहर क्यों नहीं निकल रही है, जिसके बाद परिवार के सदस्य ने दरवाजा को खटखटाया। जब अंदर से किसी प्रकार का जबाब नहीं मिला तब खिड़की से अंदर से झांका तो देखा कि नेहा का शरीर पंखे से लटक रहा है।

वहीं, सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंचे मृतिका के ससुर दिनेश चौधरी ने कहा कि यह हत्या का मामला नहीं है। आखिर नेहा ने ऐसा क्यों किया हम लोगों के समझ में कुछ नहीं आ रहा है. नेहा का किसी से कोई विवाद नहीं था। उसे यहां पर किसी प्रकार की असुविधा नहीं थी। मृतका के पति पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी के पटना स्थित आवास पर हाउस गॉर्ड का नौकरी करता है। छुट्टी के अनुसार यहां आता था और जरूरत की सभी समान की पूर्ति कर डियूटी पर लौट जाता था। नेहा यहां पर रहकर अपने दोनों बच्चों को लेकर पढ़ाती थी।

वहीं, उन्होंने कहा कि हम लोग तो गांव में रहते हैं। जरूरत के हिसाब से आना जाना लगा रहता है। उन्होंने कहा कि बाद इस बात की जानकारी बच्चों के द्वारा हमको दी गई कि भाभी ने आत्महत्या कर ली है। फोन पर बताया गया कि नेहा का कमरा काफी देर से बंद था और दरवाजा खटखटाने पर भी जब नहीं खोला तो बच्चे ने कमरे की खिड़की से देखा तो पंखे से उसका शरीर लटक रहा था, जिसके बाद कमरे के दरवाजे को तोड़कर नेहा को नीचे उतारा गया, तब तक उसकी मौत हो चूकी थी।

Share

Check Also

विभिन्न मामलों में फरार चल रहे 6 आरोपियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार।

दरभंगा: बहेड़ा थाना की पुलिस ने बीती रात विभिन्न कांड में फरार चल रहे आरोपियों को अलग-अलग …