Home Featured विश्वविद्यालय वाणिज्य एवं व्यवसाय प्रशासन विभाग द्वारा दीक्षांत समारोह आयोजित।
4 days ago

विश्वविद्यालय वाणिज्य एवं व्यवसाय प्रशासन विभाग द्वारा दीक्षांत समारोह आयोजित।

दरभंगा: प्रत्येक व्यक्ति का अपना खास दायित्व होता है, जिसे न निभाने पर उसे कई बहाने बनाने पड़ते हैं। यदि हम अपने कार्यों को पूरी चेतना से करें तो बेहतर परिणाम मिलना सुनिश्चित है। शिक्षक पाठ्यक्रमों को खास तरीके से पढ़ाते हैं जो छात्रों के लिए खास होता है। किसी भी छात्र के लिए दीक्षारंभ समारोह महत्वपूर्ण होता है, जिसका मूल उद्देश्य नए छात्रों का ओरिएंटेशन है।

ये बातें लनामि विवि के कुलपति प्रो. एसपी सिंह ने कही। वे गुरुवार को पीजी वाणिज्य एवं व्यवसाय प्रशासन विभाग के तत्त्वावधान में आयोजित कुलपति सम्मान सह 31वां दीक्षारंभ समारोह के उद्घाटन सत्र को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि मैनेजमेंट पिरामिड की तरह होता है। इसमें नीति निर्धारक लोग ऊपर होते हैं और कई लोग मध्य में तथा सर्वाधिक व्यक्ति नीचे होते हैं। कार्य की बेहतरी के लिए सभी सिस्टम में पुरस्कार तथा दंड की व्यवस्था होती है। कुलपति ने कहा कि हमें परिवर्तन अपने में स्वत लाना होगा, नहीं तो विकास रुक जाएगा। बदलाव की सोच हममें आन्तरिक होनी चाहिए, जिसकी प्रक्रिया नियमित रूप से बेहतरी के लिए ही हो। बाहर का कोई भी व्यक्ति हमें बेहतर नहीं कर सकता, बल्कि हमें आपदा व विपत्ति की स्थिति में भी अवसर तथा बेहतर करने का प्रयास करना चाहिए।

Advertisement

सम्मानित अतिथि प्रतिकुलपति प्रो. डॉली सिन्हा ने नव नामांकित प्रबंधन के छात्रों का स्वागत करते हुए कहा कि छात्र अपने उद्देश्य की पूर्ति के लिए गहन अध्ययन करें। उनकी सतत विकास की ओर प्रयास होना चाहिए। विशिष्ट अतिथि विवि के वित्तीय परामर्शी कैलाश राम ने कहा कि हमारे जीवन में प्रबंधन की काफी महत्ता है, चाहे हॉस्पिटल मैनेजमेंट हो, कृषि मैनेजमेंट हो या फिर टाइम मैनेजमेंट आदि। अध्यक्षीय संबोधन में वाणिज्य संकायाध्यक्ष प्रो. बीबीएल दास ने कहा कि प्रबंधन की योग्यता शिक्षण-प्रशिक्षण से बढ़ती है। उन्होंने छात्रों को शुभकामना देते हुए कहा कि उन्हें अपनी योग्यता दिखानी होगी, ताकि वे हर जगह सफलता प्राप्त कर सकें। वाणिज्य विभागाध्यक्ष सह व्यवसाय प्रशासन के निदेशक प्रो. अजीत कुमार सिंह ने भी विचार रखे।

इस अवसर पर वाणिज्य विभाग द्वारा प्रकाशित ‘ई-कॉमर्स चैलेंजेस एंड अपॉर्चुनिटी’ तथा ‘रूलर डेवलपमेंट इन कंटेंपरेरी इंडिया’ नामक दो संपादित पुस्तकों का अतिथियों ने विमोचन किया। समारोह में प्रो. प्रेम मोहन मिश्र, प्रो. अशोक कुमार मेहता, प्रो. मंजू राय, प्रो. रमेश झा, प्रो. मुनेश्वर यादव, प्रो. एके बच्चन, प्रो. शिशिर कुमार वर्मा, प्रो. एचके सिंह, डॉ. इंद्रदेव प्रसाद, डॉ. दिवाकर झा, डॉ. जिया हैदर, डॉ. आरएन चौरसिया, डॉ. दिव्या रानी हंसदा, डॉ. कामेश्वर पासवान, डॉ. अरविन्द मिलन, डॉ. अयाज अहमद, प्रो. दमन कुमार झा, प्रो. नारायण झा, डॉ. महेश प्रसाद सिन्हा, डॉ. रुद्रकांत अमर, डॉ. शंभू नाथ चौधरी, डॉ. आईडी प्रसाद, डॉ. संजय कुमार झा, डॉ. संजय कुमार ठाकुर, श्याम कुमार, आशीष कुमार, रोशन कुमार, आशीष कुमार झा व डॉ. मुकुल बिहारी वर्मा थे। संचालन शोधार्थी डिंपल सारस्वत ने किया। धन्यवाद ज्ञापन विभागीय शिक्षक डॉ. एसके ठाकुर ने किया।

Share

Check Also

विभिन्न मामलों में फरार चल रहे 6 आरोपियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार।

दरभंगा: बहेड़ा थाना की पुलिस ने बीती रात विभिन्न कांड में फरार चल रहे आरोपियों को अलग-अलग …