Home Featured एलएनएमयू में तीन दिवसीय राष्ट्रीय अधिवेशन एवं संगोष्ठी का हुआ शुभारंभ।
December 16, 2022

एलएनएमयू में तीन दिवसीय राष्ट्रीय अधिवेशन एवं संगोष्ठी का हुआ शुभारंभ।

दरभंगा: ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय परिसर स्थित जुबली हॉल में तीन दिवसीय अखिल भारतीय विश्वविद्यालय कर्मचारी महासंघ नई दिल्ली के तत्वावधान में 14वां राष्ट्रीय अधिवेशन एवं संगोष्ठी का शुभारंभ शुक्रवार को हुआ।

इसका विधिवत उद्घाटन एलएनएमयू के कुलपति सुरेंद्र प्रताप सिंह, कामेश्वर सिंह, संस्कृत विश्वविद्यालय के कुलपति शशि नाथ झा, तिलकमांझी विश्वविद्यालय भागलपुर के कुलपति सह मगध विश्वविद्यालय के प्रभारी कुलपति प्रो जवाहरलाल ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्ज्वलित कर किया।

Advertisement

कार्यक्रम में उपस्थित सभी अतिथियों को मिथिला प्रसिद्ध पाग और चादर से सम्मानित किया। इससे पहले शोभा यात्रा निकाली गई जो संघ के कार्यालय से निकलकर एलएनएमयू से चौरंगी होते हुए जुबली हॉल पहुंची। इस कार्यक्रम में नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति के प्रभाव विषय पर चर्चा की जाएगी। विश्वविद्यालय कर्मियों की मांगों पर भी चर्चा होगी। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कुलपति प्रो सुरेंद्र प्रताप सिंह ने कहा, कि महासंघ जिन उद्देश्यों के लिए कार्यक्रम कर रही है उसमें सफल हों यह मेरी शुभकामनाएं साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि, नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति से शैक्षणिक ढांचा, विषय और पाठ्यक्रम बदल जाएंगे लाज़मी है कि प्रभाव तो पड़ेगा।

वहीं महासंघ के प्रदेश सचिव शंकर कुमार यादव का कहना है कि, यह कार्यक्रम तीन दिनों 16, 17 और 18 दिसंबर तक चलेगा इसमें नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति की खामियां, अस्थाई बहाली ना होकर उसके जगह स्थायी बहाली हो, कर्मियों के लिए पुरानी पेंशन योजना बहाल हो साथ ही जितने भी रिक्तियां है उसे शीघ्र भरी जाए इन तमाम मुद्दों पर चर्चाएं होगी। बता दें कि इस कार्यक्रम में शनिवार को मुख्य अतिथि के तौर पर राज्य सभा सांसद अनिल कुमार हेगड़े और रविवार को जल संसाधन मंत्री संजय कुमार झा और समाज कल्याण मंत्री मदन सहनी भी शामिल होंगे।

Share

Check Also

प्राचीन सिद्धेश्वरनाथ महादेव मंदिर में जुटेगी भीड़, तैयारी पूरी।

दरभंगा: श्रावण की पहली सोमवारी को जलाभिषेक के लिए प्रखंड क्षेत्र के शिवालयों में प्रमुख टट…