Home Featured परीक्षा जीवन का एक हिस्सा, छात्र छात्राएं इससे न हो तनावग्रस्त : डॉ० अमृत।
February 25, 2023

परीक्षा जीवन का एक हिस्सा, छात्र छात्राएं इससे न हो तनावग्रस्त : डॉ० अमृत।

दरभंगा: दूरस्थ शिक्षा निदेशालय अंतर्गत संचालित बीएड (नियमित) की ओर से शनिवार को एनसीटीई के निर्देशानुसार कॉउंसलिंग ऑफ स्टूडेंट-टीचर फॉर कॉपिंग विद एग्जाम स्ट्रेस विषय पर वेबिनार हुआ।

बीएड (नियमित) के विभागाध्यक्ष डॉ. अरविंद कुमार मिलन ने कहा कि आज के बदलते परिवेश में छात्र- छात्राएं छोटी-छोटी बातों पर तनावग्रस्त हो जाते हैं, जिसमें से एक परीक्षा भी महत्वपूर्ण विषय है। परीक्षा के साथ-साथ जीवन में आने वाले विभिन्न तनावों को छात्रों को हमेशा सकारात्मक तरीके से लेना चाहिए। सकारात्मक सोच के साथ ही हम जीवन के लक्ष्यों को प्राप्त कर सकते हैं।

Advertisement

डॉ. निधि वत्स ने कहा कि परीक्षाi को लेकर छात्र-छात्राएं हमेशा तनाव में रहते हैं। इसके कई कारण हो सकते हैं। डॉ. मिर्जा रुहल्लाह बेग ने कहा कि परीक्षा के समय तनाव होना बिल्कुल सामान्य-सी बात है, लेकिन अत्यधिक तनाव हमारे लिए घातक सिद्ध हो सकता है।

उन्होंने कहा कि छात्रों को परीक्षा के अंतिम समय में तैयारी शुरू करने की जगह सतत रूप से अपनी पूरी पढ़ाई को व्यवस्थित करके करना चाहिए। जटिल विषयों को पहले समाप्त करना चाहिए एवं हमेशा सकारात्मक सोच के साथ आगे बढ़ते रहना चाहिए।

सीएम कॉलेज के मनोविज्ञान विभागाध्यक्ष डॉ. अमृत कुमार झा ने कहा कि छात्रों को परीक्षा को लेकर बिल्कुल भी तनाव में नहीं आना चाहिए। पढ़ाई करते समय छात्रों को 4020 के अनुपात में पढ़ना चाहिए जिसमें 40 मिनट के पढ़ाई के बाद 20 मिनट का ब्रेक लेना चाहिए और पढ़ी हुई चीजों का ध्यान करना चाहिए। धन्यवाद ज्ञापन डॉ. कुमारी स्वर्णरेखा ने किया।

वेबिनार में विभाग के सभी शिक्षकों एवं बीएड प्रथम एवं द्वितीय वर्ष के छात्र-छात्राओं ने भाग लिया।

Advertisement
Share

Check Also

एनएच पर धू धू कर जली स्कोर्पियो।

दरभंगा: जिले के भालपट्टी ओपी क्षेत्र के अदलपुर मोड़ के निकट एनएच 57 पर बुधवार की दोपहर एक स…