Home Featured किसानों केलिए आफत बनी बेमौसम की बारिश।
March 20, 2024

किसानों केलिए आफत बनी बेमौसम की बारिश।

दरभंगा: दरभंगा एवं आसपास के जिलों में बुधवार की सुबह शुरू हुई बेमौसम की बारिश आफत की बारिश साबित हो रही है। शहर में जहां जगह जगह जलजमाव की स्थिति बनने की आशंका उतपन्न हो गयी है, वहीं किसानों के लिए बड़े नुकसान का कारक बन गई है।

Advertisement

दरअसल, इस बारिश ने रबी फसलों को भारी नुकसान किया है। खासकर मसूर, चना, सरसों को काफी अधिक नुकसान है। बारिश के साथ हवा के कारण कई जगह पर गेहूं की फसल खेतों में गिर गई है। जिन खेतों में गेहूं में दाने अभी भर रहे हैं और पके नहीं हैं, उसमें तो बारिश के बाद ठंड से कुछ फायदा हो सकता है। लेकिन जो पक गए हैं, उसके कटने में भी देरी होगी। इसके अलावा बारिश के कारण सरसों के दाने भी खेतों में ही गिर रहे हैं। रबी फसलों में 15 से 20 प्रतिशत तक नुकसान है।

Advertisement

वहीं दूसरी तरफ, आम में अभी परागन की स्थिति है। मंजर से आम के छोटे दाने (टिकोले) बनने की स्थिति है। ऐसे में बारिश के कारण मंजर खराब हो रहे हैं। यही स्थिति लीची के साथ भी है। कृषि वैज्ञानिकों और आम उत्पादक किसानों के अनुसार बारिश के कारण 20 से 25 प्रतिशत तक नुकसान लगभग तय है।

Advertisement

बताते चलें कि ज्यादातर क्षेत्रों में रबी फसल कटने की स्थिति में है। मसूर, सरसों आदि के बोझे खलिहानों में हैं, बारिश से कटी हुई फसलें भींग गई हैं। इससे दाने खराब हो सकते हैं। आम और सब्जी की फसलों पर भी बुरा प्रभाव पड़ने से किसान चिंतित हैं।

Advertisement

बहादुरपुर प्रखंड के रामपुर गांव के किसान देवकुमार झा ने बताया कि बारिश से दलहन, तिलहन सहित गेहूं की फसलों को काफी नुकसान है। दलहन और तिलहन की फसलों को तो काफी अधिक नुकसान है। गेहूं की फसल भी तैयार हो गए हैं। बारिश के कारण खेतों में फसल गिर गए हैं। इससे उत्पादकता घटेगी। आगे और बारिश हुई तो काफी अधिक नुकसान होगा। इस बारिश से फायदा की बात करें तो जो खेत खाली है, उसमें बारिश के बाद किसान मूंग आदि फसल लगा सकेंगे।

Share

Check Also

पांच दिनों तक प्रचंड लू की संभावना, मौसम विभाग ने जारी की एडवाइजरी।

दरभंगा: 20 से 24 अप्रैल तक लोगों को तेज धूप व लू का सामना करना पड़ेगा। मौसम विभाग ने इसको …