Home Featured कुलपति ने शिक्षा मंत्री को पत्र लिखकर पांडुलिपियों के संरक्षण की लगायी गुहार।
2 weeks ago

कुलपति ने शिक्षा मंत्री को पत्र लिखकर पांडुलिपियों के संरक्षण की लगायी गुहार।

दरभंगा: कामेश्वर सिंह संस्कृत विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ0 शशिनाथ झा ने बिहार के शिक्षा मंत्री विजय चौधरी को पत्र लिखकर विवि में मौजूद दुर्लभ पांडुलिपियों का संरक्षण कराने की गुहार लगायी है। डॉ. झा ने शिक्षा मंत्री को लिखे पत्र में कहा है कि मौजूद पांडुलिपियों का माइक्रो फिल्म बनाया जाए, ताकि इसकी उम्र बढ़ सके और यह पूरी तरह से सुरक्षित हो सके। माइक्रो फिल्म बन जाने से इसकी चोरी का खतरा भी नहीं रहेगा। मालूम हो कि पूर्व में कई दुर्लभ पांडुलपियों की चोरी हो चुकी है। इनमें महाकवि विद्यापति की हस्तलिखित पांडुलिपि भी शामिल थी। इस प्रकार की दुर्लभ पांडुलिपियों की चोरी का खतरा हमेशा बना रहता है। इनका माइक्रो फिल्म बन जाने से शोधार्थी छात्र-छात्राओं को भी सुविधा होगी।

कुलपति डॉ0 झा ने शिक्षा मंत्री को लिखे पत्र में कहा है कि इन पांडुलिपियों की माइक्रो फिल्मिंग कराने के अलावा इनकी कैटलॉगिंग भी आवश्यक है। इससे शोधार्थियों को काफी सुविधा होगी। अभी देश-विदेश से कई शोधार्थी इन पांडुलिपियों का अध्ययन करने के लिए संस्कृत विश्वविद्यालय में पहुंचते हैं। लेकिन समुचित संसाधन उपलब्ध नहीं रहने के कारण उन्हें पांडुलिपि उपलब्ध कराने में परेशानी होती है। इन पांडुलिपियों को बार-बार निकालने और रखने में भी कई तरह की परेशानी उत्पन्न होती है। इन्हीं समस्याओं को देखते हुए इनकी माइक्रो फिल्मिंग और कैटलॉगिंग की जरूरत है। कुलपति डॉ. झा ने इस कार्य के लिए कर्मचारी भी उपलब्ध कराने की मांग की है। मालूम हो कि संस्कृत विश्वविद्यालय में मिथिला के कई उद्भट विद्वानों की मिथिलाक्षर में लिखी दुर्लभ पांडुलिपियां मौजूद हैं। अगर इन पांडुलिपियों का सही तरीके से संरक्षण कर दिया जाए तो आने वाली पीढ़ी को इसका काफी लाभ मिलेगा।

Share

Check Also

मृतक के परिजनों को विधायक ने सौंपा चार चार लाख का चेक।

दरभंगा: बेनीपुर के विधायक डॉ विनय कुमार चौधरी ने गुरुवार को बेनीपुर प्रखंड के पोहद्दी गांव…