Home Featured पत्नी से सुलह कराने महाराष्ट्र से दरभंगा पहुंचे दोस्त को उतारा मौत के घाट, आरोपी गिरफ्तार।
January 9, 2023

पत्नी से सुलह कराने महाराष्ट्र से दरभंगा पहुंचे दोस्त को उतारा मौत के घाट, आरोपी गिरफ्तार।

दरभंगा:  पत्नी से सुलह कराने महाराष्ट्र से पहुंचे एक दोस्त को मौत के घाट उतारने का सनसनी खेज मामला प्रकाश में आया है।इसका खुलासा सोमवार को तब हुआ जब आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर पूछताछ किया।आरोपी की पत्नी ने ही मामला दर्ज कराया था।आरोपी के मोबाइल लोकेशन के आधार पर कांड के अनुसंधानक एसआई मौसम ने लहेरियासराय से उसे गिरफ्तार किया।गिरफ्तार जिले के एपीएम थाना क्षेत्र के सिरनिया निवासी मो इबरार के पुत्र मो इम्तियाज ने पुलिस को बताया कि महाराष्ट्र के उमरखेर निवासी मो बसीर सेख का पुत्र मो आसिर सेख को 14 अगस्त 2022 को मार कर हायाघाट थाना क्षेत्र के अकराहा पुल के समीप नदी में फेंक दिया गया था।पुलिस अभी तक शव बरामद नही कर पाई है।हत्या किसी पेशेवर गैंग ने रुपया लेकर किया था।जिसका पता लगाया जा रहा है।पुलिस का कहना है कि हत्या में शामिल लोग और शव की बरामदगी के लिए कार्रवाई की जा रही है।

इम्तियाज की शादी वर्ष 2006 में हुई थी।शादी के बाद पत्नी से अक्सर झगड़ा होता था।इम्तियाज महाराष्ट्र के उमरखेर में पंचर की दुकान चलाता था।वही उसकी दोस्ती आसिर सेख से हुई। दोनो के बीच घनिष्ठता बढ़ी।आसिर समय समय पर आर्थिक मदद भी किया करता था।जब आसिर को पता चला की इम्तियाज का पत्नी से रिश्ता ठीक नही है तो वह समझौता का प्रयास किया। महाराष्ट्र से वह 6 अगस्त 2022को दरभंगा आया और दोस्त की पत्नी तथा बच्चे को साथ ले गया।जब महाराष्ट्र पहुंचा तो पता चला की इम्तियाज दरभंगा चला गया है।फिर वह 12 अगस्त को सभी के साथ दरभंगा पहुंचा। यहा पहुंचते ही इम्तियाज और उसके परिवार के लोग महिला के साथ मारपीट करने लगा।इसके बाद एक गाड़ी से चार पांच लोग पहुंचा और आसिर को अपने साथ ले गया।तब से आसिर का कोई अता पता नही चल पा रहा था।

Advertisemen

इम्तियाज की पत्नी रौनक परवीन ने दो प्राथमिकी दर्ज कराई थी।पहली प्राथमिकी एपीएम थाना में 25 अगस्त को 158/22 दर्ज कराया गया था।जो ठंडे बस्ते में पर गया। दुसरी प्राथमिकी 28 नवंबर को लहेरियासराय थाना में 654/22 दर्ज कराया गया।जिसमे रौनक परवीन ने पति,उसके भाई इसरार,सरफराज,मो फैयाज, असर्फी खातून,परवेज और 4-5 अज्ञात को नामजद किया था।प्राथमिकी में कहा गया था कि उसका पति 17 अगस्त को उसे मैके ले गया और एक बंद कमरे में आसिर की हत्या होने की बात बताई और कहा की किसी को कुछ नही बताना।जब रौनक ने कहा की वो बताएगी और केस करेगी तो उसके साथ मारपीट किया और दुपट्टा से गला दबा कर जान लेने का प्रयास किया।लोगो के जुटने पर वह भाग गया।इसके बाद महिला डीएमसीएच में इलाजरत रही।लहेरियासराय थाना में दर्ज प्राथमिकी के अनुसंधानक ने इसे गंभीरता से लिया और परत दर परत खुलासा होने के बाद गिरफ्तार कर लिया।इसके बाद मामला का खुलासा हुआ है।

Share

Check Also

जर्जर सड़क की मरम्मति के लिए एसडीओ को दिया आवेदन।

दरभंगा: शहर के पश्चिम क्षेत्र में फैले शुभंकरपुर रतनोपट्टी बाजितपुर क्षेत्र वासियों का एकम…