Home Featured जनप्रतिनिधि के विभिन्न समस्याओं को लेकर मुखिया संघ ने डीएम को सौंपा ज्ञापन।
March 17, 2023

जनप्रतिनिधि के विभिन्न समस्याओं को लेकर मुखिया संघ ने डीएम को सौंपा ज्ञापन।

दरभंगा: जिला मुखिया महासंघ के प्रतिनिधिमंडल महासंघ के जिलाध्यक्ष राजीव कुमार चौधरी के नेतृत्व में डीएम को जनप्रतिनिधियों के विभिन्न समस्याओं को लेकर ज्ञापन सौंपा और ज्ञापन पर अति शीघ्र कार्रवाई नहीं होने पर अप्रैल माह में आम आवाम के साथ कलेक्ट्रेट पर धरना-प्रदर्शन की घोषणा की।

ज्ञापन में मुखिया संघ के प्रतिनिधियों ने कहा कि मुख्यमंत्री सात निश्चय पार्ट 2 में निविदा के माध्यम से पंचायती राज विभाग बिहार सरकार द्वारा पंचायतों में लगने वाली सोलर स्ट्रीट लाइट के का कार्यकारी एजेंसी का चयन कर लिया गया जो गलत है और जिला में कोई भी कार्यकारी एजेंसी पंचायतों के संपर्क में नहीं है। बीडीओ एवं प्रखंड पंचायती राज पदाधिकारी द्वारा पंचायत सेवकों को डराकर प्रशासनिक स्वीकृति पंचायतों से लाकर अपने पास रखा जा रहा है। जबकि पंचायत का दस्तावेज पंचायतों में रहना चाहिए और कार्यकारी एजेंसियों को पंचायतों में आकर इकरारनामा करना चाहिए।

Advertisement

विगत चुनाव के बाद से कई पंचायतों में जनप्रतिनिधि पर जानलेवा हमला हो रहा है। मनरेगा मजदूर 210 रुपए प्रतिदिन पर काम नहीं करना चाहते हैं। जिससे मनरेगा कार्य कराने में भारी कठिनाई हो रही है। कई प्रखंडों में 15 वी एवं अन्य योजनाओं का प्रशासनिक दस्तावेज लेकर बीपीआरओ प्रखंड बुलाते हैं और आर्थिक दोहन करते हैं तथा कहते हैं कि एमबी हमसे रिलीज करा कर ले जाओ। पंचायत स्तरीय कर्मचारी अक्सर पंचायतों में नहीं रहते हैं। पूछने पर बताते हैं कि मेरा प्रतिनियुक्ति प्रखंड या जिला में है।

पंचायत की समस्याओं का निदान के लिए कार्रवाई करने की मुखिया महासंघ ने मांग की। उनके मुख्य मांगों में पंचायत में सोलर स्ट्रीट लाइट लगाने वाली एजेंसी को पंचायत में आकर इकरारनामा करने एवं गुणवत्तापूर्ण कार्य करने तथा तकनीकी एवं प्रशासनिक पदाधिकारी के साथ पंचायत प्रतिनिधियों के देखरेख में कार्रवाई करवाया जाए। पंचायत प्रतिनिधियों की सुरक्षा की गारंटी दिया जाए, मनरेगा मजदूरों की मजदूरी बढ़ाया जाए या सुबह शाम जियो टैग की प्रक्रिया समाप्त की जाए।

पंचायत की योजनाओं का क्रियान्वयन में कुछ प्रखंडों के बीपीआरओ द्वारा जबरन एमबी निर्गत करने का कार्रवाई बंद करवाया जाए। कम से कम सप्ताह में 1 दिन पंचायत प्रतिनिधियों से पंचायत के समस्याओं के निदान के लिए मिलने का समय निर्धारित किया जाए।

पंचायत स्तरीय कर्मियों को पंचायत कार्यालय में उपस्थित पंजी पर प्रतिनिधियों का हस्ताक्षर सुनिश्चित किया जाए आदि था। राजकुमार चौधरी, अहमद अली तमन्ने, पप्पू चौधरी, चंदन कुमार झा, विप्लव कुमार चौधरी, श्याम नंदन यादव, नागेश्वर पासवान, इफ्तेखार अहमद, जनक पासवान, लालबाबू कुमार, नाजिया खातून, बसंत कुमार झा, दयाराम मंडल, फूल झा, सुरेश झा, संजीव सिंह, सुरेन्द्र यादव आदि उपस्थित थे।

Share

Check Also

जर्जर सड़क की मरम्मति के लिए एसडीओ को दिया आवेदन।

दरभंगा: शहर के पश्चिम क्षेत्र में फैले शुभंकरपुर रतनोपट्टी बाजितपुर क्षेत्र वासियों का एकम…