Home Featured एयरपोर्ट पर चल रहे निर्माण कार्यों की सांसद ने की समीक्षा, दिए निर्देश।
1 week ago

एयरपोर्ट पर चल रहे निर्माण कार्यों की सांसद ने की समीक्षा, दिए निर्देश।

दरभंगा: एयरपोर्ट सलाहकार समिति के चेयरमैन सह दरभंगा सांसद डॉ गोपाल जी ठाकुर ने एयरपोर्ट निदेशक पार्थ साहा, डीजीएम (सिविल)अश्वनी कुमार, सीके तालुगार, एसम सिविल राजेश कुमार, अभिनाश कुमार मैनेजर (इलेक्ट्रिकल) सहित अन्य अधिकारियों के साथ बैठक कर एयरपोर्ट पर चल रहे निर्माण कार्य, रनवे, यात्री सुविधा सहित प्रस्तावित नए टर्निमल भवन की प्रगति की समीक्षा किए ।

Advertisement

सांसद ने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली एनडीए सरकार ने 918 करोड़ की लागत से दरभंगा एयरपोर्ट को अन्तर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट के अनुरूप विकसित करने के कार्य को स्वीकृति प्रदान किया है। जिसके तहत 572 करोड़ की लागत से 54 एकड़ भूमि पर टर्मिनल बिल्डिंग सहित अन्य आधारभूत संरचना के निर्माण के लिए आहलूवालिया कंस्ट्रक्शन को कार्य आवंटित कर दिया गया है और जल्द ही भूमि पूजन कर कार्य प्रारंभ किया जाएगा। सांसद ने कहा कि एयरपोर्ट की प्रारम्भिक सलाना क्षमता 42.5 लाख यात्री की होगी। सांसद ने कहा कि नए एयरपोर्ट पर एक बार में 11 विमानों के ठहराव हेतु 11 एप्रन का निर्माण के अलावा यात्रियों की सुविधा के लिए टर्मिनल पर 60 चेक इन काउंटर, 5 बैगेज बेल्ट, एक दर्जन से अधिक एक्स रे मशीन, 30 से अधिक स्कैनर लगाया जाएगा। उन्होंने बताया कि नए टर्मिनल परिसर में उचित पार्किंग, कार्गो की व्यवस्था एवं एयर एंबुलेंस की सुविधा भी उपलब्ध होगी।

Advertisement

सांसद डॉ ठाकुर ने कहा कि 78 करोड़ की लागत से चार परत वाले रनवे का कार्य पूर्ण हो चुका है, वहीं 24 एकड़ भूमि पर बाउंड्री वाल का कार्य प्रगति पर है। सांसद ने कहा कि 36 करोड़ की लागत 2.4 एकड़ में बन रहे नए टर्मिनल बिल्डिंग का निर्माण कार्य पूरा कर लिया गया है और जल्द ही इसका लोकार्पण होगा। उन्होंने कहा कि इस टर्मिनल बिल्डिंग के चालू हो जाने से यात्रियों को आवाजाही में काफी सहूलियत होगी। सांसद ने कहा कि सीमित संसाधन के वाबजूद दरभंगा एयरपोर्ट से अब तक रिकॉर्ड साधे अठारह लाख यात्री उड़ान सेवा का लाभ ले चुके है वहीं सांसद के प्रयास से वर्तमान टर्मिनल पर चालू किए गए कार्गो सर्विस के माध्यम से 113 टन लिची का निर्यात बड़े शहरों में किया जा चुका है। सांसद ने कहा कि दरभंगा एयरपोर्ट से यात्री विमान के परिचालन प्रारंभ करने हेतु वे वर्षों से प्रयासरत रहे है और 08 नवंबर 2020 को कई बुनियादी सुविधा के अभाव के वाबजूद वह इस एयरपोर्ट से उड़ान योजना के तहत यात्री विमान परिचालन प्रारंभ करने में सफल रहे थे और अब 918 करोड़ की लागत से अन्तर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट के अनुरूप इसका विकास होना किसी बड़े सपने के पूरा होने जैसा है। इसके अलावा सांसद ने यात्री सुविधा और निर्माण से जुड़े कई विषयों पर एयरपोर्ट निदेशक को कई निर्देश दिए।

Advertisement
Share

Check Also

जीतन सहनी हत्याकांड में अभी और खुलेंगे राज, आरोपी को रिमांड पर लेने की तैयारी में पुलिस।

दरभंगा: वीआईपी सुप्रीमो मुकेश सहनी के पिता जीतन सहनी की हत्या मामले में अभी कई राज खुलने ब…