Home Featured टीबीडीसी विभाग में आठ दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम की हुई शुरुआत।
March 13, 2023

टीबीडीसी विभाग में आठ दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम की हुई शुरुआत।

दरभंगा: दरभंगा मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल परिसर अवस्थित टीबीडीसी विभाग में आठ दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम की शुरुआत सोमवार को हुई। प्रथम सत्र का उद्घाटन अपर निदेशक सह राज्य कार्यक्रम पदाधिकारी (यक्ष्मा) डॉ. बालकृष्ण मिश्र ने किया।

इस मौके पर उन्होंने कहा कि सरकार की महत्वपूर्ण स्वास्थ्य योजना आयुष्मान भारत के हेल्थ एंड वेलनेस सेन्टर के माध्यम से यक्ष्मा उन्मूलन का लक्ष्य वर्ष 2025 तक प्राप्त किया जायेगा। सूबे के सभी जिलों में क्रियाशील हेल्थ एंड वेलनेस सेन्टर पर हर माह की 14 तारीख को स्वास्थ्य मेले का आयोजन किया जा रहा है। इस माह भी 14 मार्च को सभी केन्द्रों पर कम्युनिटी हेल्थ ऑफिसर (सीएचओ) एवं सीनियर टीबी ट्रीटमेंट सुपरवाईजर (एसटीएस) के माध्यम से टीबी की पहचान के लिए लक्षणों के आधार पर स्क्रीनिंग की जायेगी। जिन व्यक्तियों को खांसी, बुखार, वजन में कमी, भूख न लगना, रात में पसीना अथवा बलगम में खून आने आदि की शिकायत होगी, उनका एक्स-रे एवं बलगम की जांच नजदीकी के सरकारी अस्पताल में मुफ्त में होगा।

Advertisement

उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय यक्ष्मा उन्मूलन कार्यक्रम के अन्तर्गत राज्य के सभी जिलों में आधुनिक मशीनों ट्रूनेट एवं सीबीएनएएटी से जांच व आवश्यक दवाओं की सुविधा निशुल्क दी जा रही है। उन्होंने कहा कि 24 मार्च से प्रारंभ होकर 13 अप्रैल तक आयुष्मान भारत हेल्थ एण्ड वेलनेस सेन्टर पर कार्यरत कम्युनिटी हेल्थ ऑफिसर के सुपरविजन में आशा एवं एएनएम द्वारा उच्च जोखिम युक्त समूहों में घर-घर जाकर टीबी रोग का एक्टिव केस फाईंडिंग अभियान चलाया जायेगा। इस टीबी खोज अभियान में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले आयुष्मान भारत हेल्थ एंड वेलनेस सेन्टर की टीम को सरकार द्वारा सम्मानित किया जायेगा।

Share

Check Also

एनएच पर धू धू कर जली स्कोर्पियो।

दरभंगा: जिले के भालपट्टी ओपी क्षेत्र के अदलपुर मोड़ के निकट एनएच 57 पर बुधवार की दोपहर एक स…