Home Featured समाधान यात्रा के दौरान मुख्यमंत्री ने जीविका दीदियों से किया संवाद।
January 12, 2023

समाधान यात्रा के दौरान मुख्यमंत्री ने जीविका दीदियों से किया संवाद।

दरभंगा: मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने समाधान यात्रा के क्रम में दरभंगा ऑडिटोरियम में दरभंगा जिले की जीविका दीदियों के साथ संवाद किया। कार्यक्रम में सैकड़ों की संख्या में जीविका दीदियों ने हिस्सा लिया। सात जीविका दीदियों ने अपने-अपने अनुभव मुख्यमंत्री के समक्ष साझा किये। जीविका दीदियों ने जीविका समूह से जुड़ने के बाद अपने जीवन स्तर में हुए बदलाव की चर्चा की। जीविका दीदी रेणु देवी ने कहा कि हमारे गांव में जीविका समूह का गठन होने से गांव की महिलाओं के जीवन में काफी बदलाव आया है। जीविका समूह हमारे परिवार के लिए वरदान साबित हुआ है। जीविका से जुड़ने के पहले मैं ट्यूशन पढ़ाकर बच्चों का किसी तरह भरण-पोषण करती थी। वर्ष 2014 में जब जीविका समूह से जुड़ी तो समूह से आर्थिक मदद लेकर धनकुट्टी और आटा पीसने की मशीन लगाई, जिससे आमदनी होने लगी। फिर मसाला व तेल निकालने की मशीन भी लगाई। शृृंगार दुकान भी खोली। शराबबंदी से पहले मेरे पति दिन रात नशे में रहते थे। शराबबंदी के बाद उन्हें काफी समझाया, जब वह नहीं माने तब मैंने पुलिस का सहारा लिया और वे चार दिनों तक जेल में रहे। उन्होंने शराब न पीने की कसम खाई तब मैंने उन्हें छुड़ाया, उसके बाद वे सुधर गये।

Advertisement

रूपा देवी ने कहा कि मेरे पति शराब बनाकर बेचते थे और उसका सेवन भी करते थे। परिवार की आर्थिक स्थिति काफी दयनीय थी। जीविका से जुड़ने के बाद मुझे दीदियों ने सतत जीविकोपार्जन योजना से जोड़ा। आर्थिक मदद मिलने पर मैने सिलाई मशीन खरीदी और कपड़े की सिलाई कर घर खर्च चलाने लगी। उसके बाद पैसों की बचत कर श्रृंगार दुकान खोली। गाय व बकरी खरीदी। अब मुझे प्रतिमाह 8-9 हजार रुपये की आमदनी हो रही है। जीविका दीदी बबीता कुमारी, मंजू कुमारी, संजू देवी, त्रिवेणी देवी, लक्ष्मी देवी, रीना देवी ने भी जीविका से जुड़ने के बाद जीवन में बदलाव होने की बात कही।

Share

Check Also

जर्जर सड़क की मरम्मति के लिए एसडीओ को दिया आवेदन।

दरभंगा: शहर के पश्चिम क्षेत्र में फैले शुभंकरपुर रतनोपट्टी बाजितपुर क्षेत्र वासियों का एकम…