Home Featured जीतेजी रक्तदान और मरणोपरांत जरूर करें नेत्रदान: डॉ अलका झा।
February 2, 2024

जीतेजी रक्तदान और मरणोपरांत जरूर करें नेत्रदान: डॉ अलका झा।

देखिये वीडियो भी

दरभंगा: रक्तदान को महान दान कहा जाता है। जीते जी रक्तदान और मरणोपरांत नेत्रदान हर व्यक्ति को जरूर करना चाहिए। इसमें युवाओं के आगे आने से जागरूकता बढ़ रही है। साथ ही लोगों के बीच रक्तदान को लेकर जो भ्रांतियां है, वह भी दूर होगी।

उक्त बातें दरभंगा मेडिकल कॉलेज अस्पताल की अधीक्षक डॉ0 अलका झा ने कहीं। वे शुक्रवार को दरभंगा महोत्सव के दौरान बलभद्रपुर में आयोजित रक्तदान शिविर में बतौर विशिष्ट अतिथि पहुंची थीं।

उन्होंने कहा डीएमसीएच में भी बहुत से ऐसे मरीज आते हैं और बहुत गरीब और बेसहारा होते हैं। उन्हें मुफ्त में रक्त देना पड़ता है। ऐसे में जब रक्त उपलब्ध रहेगा तभी उन्हें दे पाएंगे।

उन्होंने खुशी जाहिर करते हुए कहा कि इन दिनों रक्तदान और नेत्रदान के प्रति लोगों की जागरूकता बढ़ी है। उन्होंने उम्मीद जताई कि ऐसे शिविरों के माध्यम से और भी लोग जागरूक होंगे।

इससे पूर्व रक्तदान शिविर का उद्घाटन सिविल सर्जन डॉ अनिल कुमार, डॉ एसएन सर्राफ, डॉ गौरीशंकर झा, डॉ, संजीव मिश्रा, डॉ सुभाष सिंह, डॉ विनय मिश्रा एवं अजीत कुमार मिश्रा आदि के द्वारा फीट काटकर एवं दीप प्रज्वलन कर किया गया। इस शिविर में लग्भग दो दर्जन लोगों ने रक्तदान किया।

मौके पर प्रसिद्ध शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ उदभट मिश्रा ने भी स्वयं रक्तदान किया। उन्होंने कहा कि वे खुद कई वर्षों से रक्तदान करते आ रहे हैं।

मुख्य अतिथि सिविल सर्जन डॉ अनिल कुमार ने कहा कि रक्तदान को जीवनदान कहा जाता है। 18 वर्ष से 65 वर्ष आयुवर्ग के हर स्वस्थ व्यक्ति को रक्तदान करना चाहिए। नियमित अंतराल पर रक्तदान करने से हृदय रोग एवं कैंसर से भी बचाव होता है। अतः हर किसी को रक्तदान जरूर करना चाहिए।

रक्तदान करने पहुंची युवती दिव्या ने बताया कि लड़कियां किसी क्षेत्र में पीछे नहीं है। अतः रक्तदान में भी लड़कियों एवं महिलाओं को बढ़ चढ़ कर भाग लेना चाहिए।

दरभंगा महोत्सव के संयोजक अभिषेक कुमार झा ने बताया कि दरभंगा महोत्सव 2024 के द्वितीय चरण में रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया है। लगातार पांचवें वर्ष दरभंगा महोसत्व का आयोजन किया गया है और हर वर्ष रक्तदान शिविर का आयोजन किया जाता है। लोगों को जागरूक करने के उद्देश्य से इस प्रकार का आयोजन आगे भविष्य में भी किया जाता रहेगा।

इस अवसर पर केशव झा, सुधांशु झा, अनीश चौधरी, वैभव कुमार झा, सपना कुमारी आदि ने आयोजन में मुख्य भूमिका निभाई।

Share

Check Also

प्राचीन सिद्धेश्वरनाथ महादेव मंदिर में जुटेगी भीड़, तैयारी पूरी।

दरभंगा: श्रावण की पहली सोमवारी को जलाभिषेक के लिए प्रखंड क्षेत्र के शिवालयों में प्रमुख टट…